नेता पहले ही लिये गये हिरासत में, कार्यकर्ताओं ने संभाला मोर्चा

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : मंगलवार को भाजपा का नवान्न अभियान सफल तो हुआ मगर कार्यकर्ताओं के दम पर। नेताओं को पहले ही हिरासत में ले लिया गया था, लेकिन कार्यकर्ताओं ने इस दिन नवान्न अभियान का मोर्चा संभाला। विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी पीटीएस से पहले ही हिरासत में ले लिये गये। उनके साथ भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी व भाजपा नेता राहुल सिन्हा भी मौजूद थे। वहीं भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने कॉलेज स्क्वायर से रैली तो निकाली, लेकिन कुछ देर बाद उन्होंने नवान्न अभियान की समाप्ति की घोषणा कर दी जबकि उस समय हावड़ा मैदान में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार धरने पर बैठे हुए थे। वहीं पार्टी में स्थानीय तौर पर कई हिन्दीभाषी नेता हैं। कोई पाण्डेय, कोई मिश्रा तो कोई सोनकर आदि है। भाजपा के नवान्न अभियान के दिन ये नेता कहीं दिखायी नहीं दिये जबकि कार्यकर्ता कभी आंसू गैस के गोले तोे कभी लाठियां और जलकमान खा रहे थे। कुछ हिन्दीभाषी नेता यह कहते नहीं थकते कि हमें पार्टी में सम्मान नहीं मिलता। हालांकि इस नवान्न अभियान के दिन यह सवाल जरूर उठता है कि आखिर सम्मान मिले भी तो कैसे। एक तरफ जब भा​जपा के दूसरे कार्यकर्ताओं पर लाठियां भांजी जा रही थी, टीयर गैस दागे जा रहे थे और जलकमान चलाये जा रहे थे, उस समय में कुछ तथाकथित नेताओं का कोई अता-पता नहीं चल पा रहा था। अखबारों में तस्वीरों और नाम के लिए ये नेता लालायित रहते हैं, लेकिन जब पार्टी के लिए आगे आकर लड़ने का समय आया तो फिर ना जाने ये कहां छुप गये थे। हालांकि दूसरे कार्यकर्ताओं का यह कहना है कि इन नेताओं को आने वाले समय में हम लोग ही सबक सिखायेंगे। जब​ विधानसभा चुनाव के बाद हम पर अत्याचार हुए, हमें बेघर होना पड़ा, उस समय भी इन नेताओं का कोई पता नहीं था और आज फिर एक बार वही स्थिति देखी गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान बाढ़ में डूबने से 7 लोगों की मौत

मालबाजार: मालबाजार शहर से सटे माल नदी में अचानक बाढ़ आने से विसर्जन का कार्यक्रम को प्रशासन के तरफ़ से रोक दिया गया है । आगे पढ़ें »

प्रेमी जोड़े ने फांसी के फंदे से झूलकर की खुदकुशी

पुरुलिया : पाड़ा थाना क्षेत्र के दुबड़ा जंगल में प्रेमी जोड़े का पेड़ से लटकता हुआ शव बरामद किया गया। उनके नाम मिलन कैवर्त्य और आगे पढ़ें »

ऊपर