‘प्रति नौकरी के लिए 8 लाख रुपये लेता था कुंतल, पार्थ को भी पहुंचाता था हिस्सा’

ईडी ने कोर्ट को दी जानकारी
17 मार्च तक जेल हिरासत में भेजा गया कुंतल को
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : नौकरी देने के नाम पर रुपये लेने का आरोप पहले से ही तृणमूल युवा नेता कुंतल घोष पर लग रहे हैं। वह कितने रुपये लेता था ? उसने कितने लोगों से रुपये लिए थे ? उससे पूछताछ के बाद इससे जुड़े कई तथ्य अब सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को करीब 16 करोड़ रुपये का हिसाब ईडी ने अदालत में पेश किया। शुक्रवार को कुंतल घोष को बैंकशाल कोर्ट में पेश किया गया। सुनवाई में ईडी ने दावा किया कि कुंतल ने एजेंटों के जरिए करीब 200 नौकरी चाहने वालों लोगों से रुपये लिए थे। यहां तक ​​कि ईडी के वकील ने दावा किया कि इसमें से कुछ रुपये पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी के पास भी गये थे।
कुंतल के 20 एजेंट को किया गया है च‌िन्हित
ईडी के वकील ने कोर्ट को बताया कि कुंतल के कुल 20 एजेंट थे। 10 एजेंटों के बयान लिए जा चुके हैं। केंद्रीय एजेंसी का यह भी दावा है कि उसके कई एजेंट फरार हो गए हैं। ईडी ने यह भी कहा कि पूछताछ के दौरान एजेंटों ने रुपये देने की बात स्वीकार की। बताया जाता है कि 200 अभ्यर्थियों ने कुंतल को रुपये दिए। ईडी ने यह भी दावा किया कि उन 200 लोगों को नौकरी भी मिला। हिसाब के अनुसार कुंतल ने एक-एक प्रत्याशी से आठ-आठ लाख रुपये लिए। यानी 200 लोगों से कुल 16 करोड़ रुपए लिए गए। इन रुपये का एक हिस्सा पार्थ चटर्जी को भी पहुंचाया गया था। आरोप है कि बीएड, डीएलएड कॉलेजों की मंजूरी के लिए भी पैसे लिए गए। ईडी ने यह भी दावा किया कि उस मामले में पार्थ और मानिक के रसूख का इस्तेमाल किया गया था।
न्यायाधीश ने ईडी से पिछले 14 दिनों में मामले की प्रगति के बारे में पूछा। इसके बाद जांच अधिकारी जज के पास गये और उन्हें कई दस्तावेज दिखाए। ईडी के मुताबिक, कुंतल ने प्राइमरी, अपर प्राइमरी और 9वीं-10वीं में नौकरी के लिए पैसे लिए थे। शुक्रवार को कुंतल के वकील ने कोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दी थी। हालांकि, उस आवेदन को खारिज कर दिया गया था। कुंतल को 17 मार्च तक जेल में रखने का आदेश दिया गया है।

Visited 141 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Wednesday Mantra : हर संकट से बचाता है बुधवार का यह उपाय, दूर होता है गृह कलेश

कोलकाता : सनातन धर्म में बुधवार का दिन भगवान गणेश को समर्पित है और इस दिन विधि-विधान के साथ गणेश जी की अराधना की जाए आगे पढ़ें »

Sankashti Chaturthi 2024 Date: द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी कब है, जानें महत्‍व, पूजाविधि और …

कोलकाता : द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी फाल्‍गुन मास के कृष्‍ण पक्ष की चतुर्थी को कहते हैं। द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी 28 फरवरी को यानी आज है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर