आज भुवनेश्वर में ईडी अधिकारी से पूछताछ करेगी कोलकाता पुलिस

झारखंड के वकील राजीव कुमार की गिरफ्तारी के मामले में होगी पूछताछ
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : झारखंड के वकील राजीव कुमार की गिरफ्तारी के मामले में अब कोलकाता पुलिस एक ईडी अधिकारी से पूछताछ करेगी। पुलिस के अनुसार 160 सीआरपीसी के तहत ईडी के डिप्टी डायरेक्टर रैंक के अधिकारी सुबोध कुमार को नोटिस भेजी गयी है। मंगलवार को कोलकाता पुलिस भुवनेश्वर जाकर उनसे पूछताछ करेगी। इस मामले में उनका बयान रिकॉर्ड किया जाएगा। पुलिस के अनुसार महानगर के व्यवसायी अमित अग्रवाल से 50 लाख रुपये लेने के आरोप में पुलिस ने अभियुक्त वकील राजीव कुमार को गिरफ्तार किया था। अभियुक्त के मोबाइल की जांच करने पर पुलिस को उसके और ईडी अधिकारी सुबोध कुमार के बीच हुई बातचीत के प्रमाण मिले हैं। उन बातचीत के आधार पर कोलकाता पुलिस की टीम ईडी अधिकारी से पूछताछ करना चाहती है। पुलिस सूत्रों के अनुसार कोलकाता पुलिस के अधिकारी यह पता लगाने चाहते हैं कि ईडी अधिकारी का अभियुक्त राजीव कुमार के साथ कैसा संबंध है। पुलिस के अनुसार वर्ष 2016 से 2022 तक सुबोध कुमार रांची में ईडी के डिप्टी डायरेक्टर के पद पर थे। कुछ महीने पहले वह ओडिशा गए हैं। वहीं दूसरी ओर मामले की जांच के दौरान पुलिस को राजीव कुमार के बारे में कई महत्वपूर्ण तथ्य हाथ लगे हैं। पुलिस के अनुसार वर्ष 2017 में राजीव कुमार ने 6 लाख का आयकर रिटर्न फाइल किया था। वर्ष 2018 में 9 लाख और 2019 में 40 लाख का आयकर रिटर्न फाइल किया था। सबसे मजे की बात यह है कि 6 लाख रुपये की आय पर आयकर के रूप में उन्होंने 23 हजार दिया था और 40 लाख की आय पर भी 23 हजार का कर चुकाया था। इसके अलावा पुलिस को पता चला कि राजीव कुमार ने अपनी अधिकतर संपत्त‌ि वर्ष 2020 से 2022 के बीच खरीदी है। इसके अलावा उसके बैंक अकाउंट में काफी रुपये के प्रमाण मिले हैं। कोलकाता पुलिस ने अभी तक इस मामले में कोलकाता के तीन व्यवसायियों से पूछताछ की है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब दूसरे मामले में नौशाद सिद्दीकी को 6 दिनों की पुलिस हिरासत

पंचायत चुनाव तक मुझे जेल में रखना चाहती है तृणमूल - नौशाद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : भांगड़ से आईएसएफ विधायक नौशाद सिद्दीकी को शुक्रवार को 6 दिनों आगे पढ़ें »

शुभेंदु के बाद दिलीप और मिठुन ने भी कहा, ‘अल्पसंख्यक विरोधी नहीं है भाजपा’

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में पंचायत चुनाव होने वाले हैं और अगले साल लोकसभा चुनाव भी है। ऐसे में भाजपा अभी से खुद को आगे पढ़ें »

ऊपर