‘शुद्धि’ से ड्रग एडिक्ट लोगों को नवजीवन दे रही है कलिम्पोंग पुलिस

सुपरशक्ति फाउंडेशन ने शुद्ध‌ि प्रोजेक्ट में दान किया 8 लाख रुपये
ड्रग एडिक्ट को समाज की मुख्यधारा में लौटाने के लिए पुलिस की विशेष पहल
सन्मार्ग संवाददाता
कल‌िम्पोंग/कोलकाता : मौजूदा समय में देश के युवाओं में ड्रग एडिक्शन एक बड़ी समस्या के रूप में सामने आयी है। इसके कारण समाज में आए दिन आपराधिक घटनाएं घट रही हैं और कई परिवार बर्बाद हो रहे हैं। एक स्वस्थ अपराधमुक्त समाज गढ़ने के लिए कुछ साल पहले कोलकाता पुलिस में एडीसीपी पद पर रहते हुए एसपी कलिम्पोंग अपराजिता राय ने ‘शुद्ध‌ि’ प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी। अब कलिम्पोंग पुलिस डिस्ट्र‌िक्ट के एसपी पद पर रहते हुए जिले के युवाओं को नशामुक्त करने के लिए एसपी कलिम्पोंग अपराजिता राय ने शुद्ध‌ि प्रोजेक्ट को वहां पर चालू किया है। अब तक कलिम्पोंग पुलिस ने विभिन्न तरह की सीआरएस फंडि‌ंग की मदद से 26 ड्रग एडिक्ट को रिहैब सेंटर में भेजा है। उन लोगों का इलाज कराया जा रहा है। इसके साथ ही उन्हें तकनीकी प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है ताकि समाज की मुख्य धारा में वे लौट सकें और अपना परिवार चला सकें। इस शुद्ध‌ि प्रोजेक्ट को चलाने में पुलिस की मदद हैंड एनजीओ कर रहा है। हाल ही में सुपरशक्ति फाउंडेशन की ओर से शुद्ध‌ि प्रोजेक्ट के लिए 8 लाख रुपये सीएसआर फंड के जर‌िए दान किया गया। हैंड्स एनजीओ की ओर से आयोजित कार्यक्रम में कोलकाता स्थित सुपरशक्ति फाउंडेशन के सीएसआर नोडल पर्सन इशांत जैन ने 8 लाख रुपये दान किया। यह शुद्ध‌ि प्रोजेक्ट को अभी तक किसी भी कार्पोरेट सेक्टर द्वारा सीएसआर के तहत दिए जाने वाला सबसे अधिक फंड है। इन रुपयों के जरिए 20 लोगों का रिहैब कराया जाएगा। इसके अलावा जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम में भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान धनराज पिल्लई और कोंगुजाम सी सिंह बी मौजूद थे। हैंड्स संस्था की संयोजक मीरियस मुखिया ने कहा कि हम इस लड़ाई को पिछले 15-16 साल से अकेले लड़ रहे थे। अब सुपरशक्त‌ि फाउंडेशन जैसी संस्थाओं की मदद से हम अपने टार्गेट ड्रग्स फ्री कलिम्पोंग को हासिल कर पाएंगे।
क्या कहना है पुलिस का?
कलिम्पोंग पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि अभी तक कार्पोरेट और सीएसआर की मदद से शुद्ध‌ि प्रोजेक्ट के जर‌िए 26 ड्रग्स एडिक्ट लोगों को नवजीवन दिया गया है। इस साल हमारा टार्गेट 40 लोगों को रिहैब करने का था लेकिन एक समय हमें लगा कि हम इसे हासिल नहीं कर पाएंगे। हालांकि सुपरशक्ति फाउंडेशन की मदद से हम उससे भी बेहतर काम कर पाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वान के 4 बच्चों को कुचलनेवाला ऐप कैब ड्राइवर गिरफ्तार

पोस्ता के काली कृष्ण टैगौर स्ट्रीट की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चारों भाई-बहन एक साथ दिन भर खेलते रहते थे। गुरुवार की शाम चारों का सड़क आगे पढ़ें »

बैरकपुर फ्लाईओवर पर मांझा से कटी बाइक सवार की नाक

बैरकपुर : शुक्रवार की दोपहर बैरकपुर फ्लाईओवर पर बाइक से जा रहा अनुपम गांगुली मांझे के कारण एक हादसे का शिकार हो गया। अचानक ही आगे पढ़ें »

ऊपर