हावड़ा से वाराणसी के बीच दौड़ेगी जापान की हाई स्पीड ट्रेन

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने संकेत दिए
केंद्र सरकार ने कुल 7 रूटों पर हाई स्पीड रेल प्रोजेक्ट का सर्वे किया है
काेलकाता : भारत में ट्रेन सेवाओं का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। कहीं दूर जाने के लिए एक्सप्रेस ट्रेन से वाजिब दाम में और कम समय में पहुंचा जा सकता है। इस रेल सेवा का उपयोग हर वर्ग के लोग आराम से कर सकते हैं। और भारतीय रेलवे इस रेल सेवा को बेहतर बनाने के लिए अथक प्रयास कर रहा है। मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल प्रोजेक्ट में हाई स्पीड रेल परियोजना अब देश में जापान सरकार की तकनीकी और वित्तीय सहायता से चल रही है। हालांकि, हाल ही में रेल मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने 7 और हाई स्पीड रेल परियोजनाओं का सर्वे किया है। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने राज्यसभा को जानकारी दी कि केंद्र सरकार ने 7 हाई स्पीड रेल प्रोजेक्ट्स या एचएसआर का सर्वे किया है। हावड़ा-वाराणसी हाई-स्पीड रेल कॉरिडोर को भी जल्द ही सर्वे के जरिए वर्चुअली हरी झंडी मिलने वाली है। सरकार ने जिन सात रूटों पर सर्वे किया है उनमें दिल्ली-वाराणसी, दिल्ली-अहमदाबाद, मुंबई-नागपुर, मुंबई-हैदराबाद, चेन्नई-बेंगलुरु-मैसूर, दिल्ली-चंडीगढ़-अमृतसर और वाराणसी-हावड़ा हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हावड़ा के बीच हाई स्पीड ट्रेन चलाने की तैयारियां शुरू हो गयी है। यह ट्रेन बिहार और झारखंड होते हुए हावड़ा आयेगी। रास्ते में नौ रेलवे स्टेशन होंगे। इस ट्रेन की स्पीड 350 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। इसके जरिये वाराणसी यानी की बनारस हावड़ा से मात्र 4 घंटे में ही पहुंच जायेंगे। ट्रेन रूट को लेकर रेलवे ने सर्वे शुरू कर दिया है। रूट तय कर अब पटरियाें को बिछाने का काम शुरू कर दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लेटर पैड का इस्तेमाल कर रुपये लेने का आरोप, भाजपा नेता को शो कॉज

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पार्टी के लेटर पैड का इस्तेमाल कर व्यावसायिक संगठन से लंबे समय से काफी रुपये का चंदा लेने का आरोप बांकुड़ा जिला आगे पढ़ें »

फेसबुक पर हुआ प्रेम, घर से भागकर की शादी पर दो साल के अंदर फंदे से लटकता मिला शव

हरिदेवपुर इलाके की घटना आरोप - दहेज प्रताड़ना से तंग आकर युवती ने की आत्महत्या सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पहले सोशल मीडिया के जरिए उसकी युवक से दोस्ती आगे पढ़ें »

ऊपर