सांतरागा​छी ब्रिज के बंद होने के पहले ही दिन हावड़ा में लगा जाम

सुबह द्वितीय हुगली सेतु, आंदुल रोड पर तो शाम को बेलेपोल से सांतरागाछी ब्रिज पर जाने के दौरान लगा लंबा जाम
घंटों बस में फंसे रहे यात्री, पैदल ही सांतरागाछी ब्रिज पर निकल पड़े यात्री
हावड़ा : शुक्रवार की रात से सांतरागाछी में मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया। इस दौरान रात से ही हावड़ा सिटी पुलिस की ओर से तैयारियां जोरों पर की गयी हैं। इसके तहत शुक्रवार की रात से ही पुलिस की ओर से बैरिके​डिंग की गयी। पुलिस प्रशासन द्वारा यातायात को नियंत्रित किया गया। हालांकि सिटी पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती है जाम की परिस्थिति से जूझना। इसके तहत सीपी प्रवीण त्रिपाठी के अनुसार जगह-जगह पर ट्रैफिक पुलिस की तैनाती की गयी। इसके बावजूद द्वितीय हुगली ब्रिज पर शनिवार सुबह कोलकाता से आने वाले वाहनों की लंबी कतार देखी गई। आंदुल रोड की भी यही तस्वीर थी। आंदुल रोड पहले से ही संकरा था और अचानक गाड़ियों के दबाव के कारण सुबह से ही वाहनों की लंबी कतारें लगी रहीं। जैसे-जैसे दिन चढ़ा, लाइन लंबी होती जा रही थी। हालांकि बाद में यह लाइन बेलेपोल से लेकर सांतरागाछी तक सिमट गयी। बेलेपोल का इलाका सांतरागाछी से 4 किलोमीटर दूर है। शनिवार को कई सरकारी कार्यालय बंद रहते हैं, बावजूद इसके ब्रिज तक जाम के कारण वाहनों की लंबी कतारें लग गयीं। अगर ब्रिज की मरम्मत के पहले दिन शनिवार को ही ट्रैफिक जाम की स्थिति बनती है, तो सोमवार से और भी परिस्थिति खराब हो सकती है।
ब्रिज पर पैदल ही चलने लगे यात्री : सांतरागाछी ब्रिज पर चढ़ने के लिए बेलेपोल से ही बसाें, कारों व अन्य वाहनों की लंबी कतारें थीं। इसके कारण कई यात्री तो पैदल ही चलने लगे। यहां तक कि ब्रिज पर पैदल चलने का कोई लेन ही नहीं है। इसके बावजूद लोग ब्रिज पर से अपने गंतव्य की ओर रवाना हो गये। सुधीर जायसवाल जो कि बर्दवान का रहनेवाला है। उन्हें यह तो पता था कि ब्रिज की मरम्मत होनेवाली है लेकिन यह जानकारी नहीं थी कि इस तरह से लंबा जाम लगेगा। ऋतुपर्णा घोष जो कि सांतरागाछी इलाके की रहनेवाली है। उसने कहा कि वह पिछले डेढ़ घंटे से बस में जाम में फंसी थी लेकिन अब वह जब पैदल चलने लगी तो गाड़ियां भी धीरे-धीरे आगे बढ़ रही हैं।
जाम में कई एम्बुलेंस फंसे रहे : बेलेपोल से सांतरागाछी ब्रिज की ओर जाने के लिए दो लेन हैं। इसमें एक लेन में इमरजेंसी के लिए एम्बुलेंस व छोटी गाड़ियां व बाइकें गुजरती हैं, ऐसे में उस लेन में कई गाड़ियां अटकी हुई थीं। इसमें कई एम्बुलेंस शामिल थे जो कि हॉर्न तो बजा रहे थे लेकिन उनके जाने के लिए आगे का रास्ता क्लियर नहीं था। वहीं एम्बुलेंस में फंसे रोगियों के परिजन भी हैरान दिखाई दिये।
सांतरागाछी का एक लेन था सामान्य : सांतरागाछी ब्रिज के दो लेन हैं। कोलकाता से हावड़ा की ओर जानेवाले लेन में लंबा जाम था। वहीं हावड़ा से कोलकाता की ओर जानेवाला लेन सामान्य था। इसके कारण बसों व अन्य वाहनों को धीरे-धीरे छोड़ा जा रहा था।
बसों में रही भीड़ : सांतरागाछी आने जानेवाली बसों में यात्रियों की भीड़ देखने को मिली। अरिंदम नामक बस ड्राइवर ने कहा कि रोजाना भीड़ तो रहती है लेकिन शनिवार होने के बावजूद भीड़ ज्यादा है। वहीं यात्रियों का कहना है कि वह बस के लिए घंटों इंतजार कर रहे थे। इसके कारण इतनी भीड़ हुई है। बस आने के बाद ही वे इसमें सवार हुए हैं। बस कंडक्टर का कहना है कि उनकी बसें काफी देर तक जाम में फंसी थीं। इसके कारण यह परिस्थिति हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वास्थ्य साथी के बावजूद अस्पताल ने वसूले रुपये, लगाया गया जुर्माना

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्वास्थ्य साथी कार्ड दिखाकर अस्पताल में भर्ती होने के बावजूद मरीज के परिजनों से नकद रुपये लिये जाने का आरोप न्यूटाउन के आगे पढ़ें »

प्रेमिका की हत्या कर शव को दफनाया

खड़गपुर : पश्चिम मिदनापुर जिले के खड़गपुर लोकल थाना इलाके के एक गांव में रहने वाली एक महिला को मार कर दफना दिए जाने के आगे पढ़ें »

ऊपर