एयरपोर्ट से मेट्रो स्टेशन जाना होगा सहज, सबवे का कार्य हुआ पूरा

मेट्रो स्टेशन और एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग के बीच की दूरी 200 मीटर
चेन्नई व तिरुवनंतपुरम के बाद कोलकाता एयरपोर्ट व मेट्रो से जुड़ा वॉकलेटर
कोलकाता : अब एयरपोर्ट से मेट्रो स्टेशन तक जाना यात्रियों के लिए सहज हो जायेगा। क्योंकि एयरपोर्ट से मेट्रो स्टेशन के बीच सबवे का काम पूरा हो गया है। इससे कोई भी एयरपोर्ट के घरेलू और अंतरराष्ट्रीय आगमन द्वार से बाहर निकल जायेगा और कुछ ही मिनटों में मेट्रो स्टेशन तक पहुंच जायेगा। मेट्रो स्टेशन और एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग के बीच की दूरी 200 मीटर है, लेकिन यात्रियों को इस रास्ते से चलने में दिक्कत नहीं होगी। वॉकलेटर की मदद से वे बहुत ही कम समय में भारी सामान के साथ अपने गंतव्य तक पहुंच सकेंगे। चेन्नई और तिरुवनंतपुरम हवाईअड्डों के बाद कोलकाता में भी वॉकलेटर की तैयारी हो रही है। दशकों पहले तत्कालीन रेल मंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता नेताजी सुभाष अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को कोलकाता मेट्रो रेल से जोड़ने की कोशिश शुरू की थी। एक और नई मेट्रो लाइन एयरपोर्ट से न्यू गरिया होते हुए न्यूटाउन और साल्टलेक के बीच होगी। एयरपोर्ट के गेट नंबर दो के बीच के हिस्से और कार पार्किंग एरिया में अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन का काम शुरू किया गया। स्टेशन के मुख्य ढांचे का निर्माण पिछले साल पूजा से पहले पूरा कर लिया गया था। 550 मीटर लंबा और 41 मीटर चौड़ा यह देश का सबसे बड़ा अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन है। इसमें 3 प्लेटफार्म और 6 रेलवे लाइनें हैं। मेट्रो रेलवे ने एयरपोर्ट मेट्रो स्टेशन से जेसोर रोड तक एक मेट्रो का निर्माण किया है। अब टर्मिनल भवन तक एक और मेट्रो का निर्माण शुरू हो गया है। इसके लिए टनल बोरिंग मशीन समेत अन्य उपकरण एयरपोर्ट पर लाए गए हैं। इसके लिए वॉल्वो बस पार्किंग तैयार है। मेट्रो के मुताबिक उस स्टेशन की लंबाई 196 मीटर और चौड़ाई 12.40 मीटर होगी और ऊंचाई 4.40 मीटर होगी। मेट्रो स्टेशन और हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन से मेट्रो को ले जाने के लिए वॉकलेटर के अलावा प्रत्येक छोर पर एक सीढ़ी, एक लिफ्ट और दो एस्केलेटर है। मेट्रो रेल के एक अधिकारी ने बताया कि स्टेशन पर यात्रियों के लिए लगेज टेस्ट और बोर्डिंग पास होंगे। यहां से ऑटोमैटिक डिवाइस की मदद से स्पेशल सिस्टम के जरिए सामान को सीधे बोर्डिंग प्वाइंट तक पहुंचाया जा सकता है। मेट्रो सूत्रों के अनुसार यात्री अपने टिकट की जांच कर सकते हैं और मेट्रो स्टेशन पर बोर्डिंग पास प्राप्त कर सकते हैं। यात्री उम्मीद कर रहे हैं कि मेट्रो रेल को हवाई अड्डे से जोड़ा जाएगा तो उनकी यात्रा आसान होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वंदे भारत एक्सप्रेस पर हमला को लेकर पीआईएल

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : वंदे भारत एक्सप्रेस पर हुए हमले को लेकर एक पीआईएल दायर की गई है। एडवोकेट रमाप्रसाद सरकार ने यह पीआईएल दायर की आगे पढ़ें »

प्लेटफॉर्म छोड़ 500 मीटर दूर जाकर रुकी लोकल ट्रेन

विधाननगर रेलवे स्टेशन की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार की सुबह विधाननगर रेलवे स्टेशन पर लोकल ट्रेन प्लेटफॉर्म से 500 मीटर दूर जाकर रुकी। अचानक इस आगे पढ़ें »

ऊपर