हांसखाली मामले में झोलाछाप डॉक्टर व श्मशान कर्मी ने किया सनसनीखेज खुलासा

नदिया : हासंखाली में प्रेमी के बर्थ डे पार्टी में बलात्कार की शिकार किशोरी की मौत और फिर घटना को दबाने के लिए रातोंरात शवदाह किये जाने के मामले में अंचल के एक झोलाछाप डॉक्टर व श्मशानकर्मी ने सनसनीखेज खुलासा किया है। इलाके के झोलाछाप डॉक्टर समीर विश्वास का कहना है कि सुबह लगभग 4 बजे कुछ लोग उसके पास आये थे और पेट के निचले हिस्से में असहनीय दर्द की जानकारी देकर उससे दवा देने काे कहा था। यह जानकर उसने दवा भी दी थी मगर बाद में उसे पता चला कि दवा देने के पहले ही मरीज की मौत हो चुकी थी। उसका कहना है कि उसे पूरी जानकारी नहीं दी गयी थी। वहीं श्मशान कर्मी करुणा बाउली ने भी इस दिन मीडिया के सामने कहा कि शवदाह करने के लिए जब मृतका के परिजन वहां पहुंंचे थे तब वे कोई भी डेथ सर्टिफिकेट नहीं दिखा पाये थे। उन्हें डेथ सर्टिफिकेट लाने को भी कहा गया था मगर इसके बाद पता नहीं क्या हुआ और उन्हें किशोरी का शवदाह करने दिया गया। वहीं बताया जा रहा है कि इनके बयान की सत्यतता की भी जांच की जायेगी हालांकि घटना को लेकर अब जो खुलासे हो रहे हैं उसके बाद मामले को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप भी अब सामने आ रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सप्तमी पर महानगर में ट्रैफिक व्यवस्था हुई प्रभावित

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महासप्तमी के अवसर पर रविवार को महानगर की सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। पूजा पंडाल घूमने के लिए लोगों की आगे पढ़ें »

पार्थ के खिलाफ दाखिल चार्जशीट का तकनीकी रोड़ा

अभी इंतजार है राज्य सरकार की अनुमति का सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : टीचर नियुक्ति घोटाले में सीबीआई की तरफ से पहली चार्जशीट अलीपुर के सीबीआई कोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर