‘ई नॉगेट्स’ गेमिंग ऐप के जरिए फल-फूल रहा था ठगी का गोरखधंधा

200 रुपये से शुरू होता था खेल, पहले रिटर्न देकर लोगों का बढ़ाते थे लालच
बाद में जितने रुपये डाले जाते उतनी होती थी ठगी
गेमिंग ऐप के जरिए ठगे गए रुपये मिले आमिर खान के घर से
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : गार्डनरिच स्थित व्यवसायी आमिर खान के घर से ईडी अधिकारियों ने शनिवार को 16 करोड़ से अधिक रुपये जब्त किए हैं। आमिर के माध्यम से ही ऑनलाइन गेमिंग ऐप ‘ई-नॉगेट्स ’ का नाम सामने आया है। उक्त गेमिंग ऐप पर रुपये खर्च कर सैकड़ों लोग कंगाल हो गए हैं। देश के विभिन्न पुलिस स्टेशन में ठगी के शिकार लोगों ने उक्त ऐप के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है। ईडी सूत्रों के अनुसार उक्त ऐप गूगल प्ले स्टोर पर नहीं मिलता है। इसे लिंक भेजकर डाउनलोड कराया जाता है। जानकारी के अनुसार उक्त ऐप में जितने रुपये यूजर खर्च करेगा उतना ही उसका मेंबरशिप लेवल बढ़ेगा। 200 रुपये खर्च करके कोई भी व्यक्ति उसका मेंबर बन सकता है अर्थात उक्त ऐप में 200 रुपये खर्च करने पर व्यक्ति को अच्छी रकम वापस मिलेगी। पहले 200 रुपये खर्च करने पर अच्छा रिटर्न मिलते ही लोग अधिक रुपये पाने के लालच में दूसरे लेवल का मेंबरशिप लेने की कोशिश करते थे। आरोप है कि करीब तीन से 4 बार लोगों के रुपये लाभ के साथ वापस करने के बाद अंत में ऐप में मेंबर द्वारा दिये गये रुपये बैंक में ट्रांसफर करने का ऑप्शन ही ऐप के मालिकों द्वारा हटा दिया जाता था। इस तरह ऐप के मालिकों ने देश के वि‌भिन्न प्रांत के लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी की है।
गेमिंग ऐप में वॉलेट के जरिए होता था लेनदेन
जानकारी के अनुसार आम तौर पर मेंबरशिप लेने के बाद कोई भी ई-नॉगेट्स के जरिए ऑनलाइन गेम खेलने लगता था। एक कॉयन की कीमत एक रुपये है। पहले जीते हुए रुपये वॉलेट के जरिए ट्रांसफर किया जा सकता था या फिर उसके जरिए ऑनलाइन शॉपिंग होती थी। हालांकि मोटी रकम की आमदनी होने पर रुपये वॉलेट से निकालने नहीं दिया जाता था। लोगों को ऐप में मैसेज दिखाता था कि सर्वर की समस्या के कारण रुपये ट्रांसफर नहीं हो पा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार 15 फरवरी 2021 को पार्क स्ट्रीट थाने में एक शिकायत दर्ज करायी गयी। आमिर खान नामक व्यक्ति के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी गयी थी। एक प्राइवेट बैंक की शिकायत पर बैंकशाल कोर्ट में मामला हुआ था। कोर्ट के आदेश पर ही पार्क स्ट्रीट थाने में एफआईआर दर्ज की गयी। ईडी सूत्रों के अनुसार आमिर खान ने ई-नॉगेट्स नामक मोबाइल गेमिंग ऐप को लांच किया था। लोगों को ठगने के लिए ऐप को लांच किया गया था। उक्त ऐप के जरिए गेम खेलने वाले लोगों को पहले रुपये जीतने के लिए ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती थी। बाद में लोगों द्वारा ज्यादा रुपये दाव लगाकर गेम खेलने पर उनके रुपये वापस नहीं किए जाते थे। फिलहाल ईडी अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सप्तमी पर महानगर में ट्रैफिक व्यवस्था हुई प्रभावित

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महासप्तमी के अवसर पर रविवार को महानगर की सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। पूजा पंडाल घूमने के लिए लोगों की आगे पढ़ें »

पार्थ के खिलाफ दाखिल चार्जशीट का तकनीकी रोड़ा

अभी इंतजार है राज्य सरकार की अनुमति का सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : टीचर नियुक्ति घोटाले में सीबीआई की तरफ से पहली चार्जशीट अलीपुर के सीबीआई कोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर