दहेज के लिए बहू को जिंदा करंट से जलाया

नदिया : हम 21वीं सदी में जी रहे हैं लेकिन दहेज आज भी समाज के लिए एक अभिशाप बना हुआ है। समाज में ऐसे लाखों मामले है, जहां महिला को दहेज के लिए शादी के कई सालों बाद भी उत्पीड़न का सामना करना पड़ता है। ऐसा ही एक मामला नदिया जिले से सामने आया है। यहां दहेज के लिए दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी एक ससुर ने। यहां ससुर ने बहू को बिजली के तारों से बांधकर करंट छोड़ दिया।

आठ साल की मासूम ने नाना को सुनाई अपराध की दास्तां
नदिया जिले के डांगा गांव में मंगलवार को सास और ससुर ने मिलकर दहेज के लिए अपनी बहू को नंगे तारों से बांध दिया। इसके बाद तारों में करंट छोड़ दिया। महिला एक घंटे तक तड़पती रही और बाद में उसने दम तोड़ दिय। महिला की उम्र सिर्फ 29 साल थी। महिला की मौत के बाद उसी आठ साल की बेटी ने अपने नाना को अपराध की दास्तां सुनाई। मृतक महिला की बेटी ने कहा कि मेरे दादा और दादी ने मिलकर मेरी मांग को जिंदा तारों से बांद दिया, जिससे तड़प तड़प कर उनकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया है कि पीड़िता का नाम मोहसिना बीवी था। सूत्रों के मुताबिक, महिला के ससुर का नाम खोडाबाक्स मंडल और उसकी पत्नी का नाम रहीमा बीवी है। दोनों ने मिलकर महिला को जिंदा तारों से बांधकर उसे करीब एक घंटे तक ऐसे ही बांधे रखा। घटना सामने आने के बाद कुछ पड़ोसी और रिश्तेदार महिला को छपरा ग्रामीण अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बताया कि घटना के वक्त महिला का पति समद घर पर नहीं था। वह केरल में मजदूरी करता है। पुलिस ने बताया कि ससुराल वाले फरार हो गए हैं, लेकिन मामले की जांच जारी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एसएससी : 21 हजार पदों पर नियुक्ति में घपले का खुलासा

सीबीआई की नयी सिट के प्रमुख ने कहा कोर्ट में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्कूलों में ग्रुप डी के पदों पर नियुक्ति घोटाले के एक मामले की आगे पढ़ें »

93 लाख नगदी बरामदगी को लेकर ममता ने भाजपा पर साधा निशाना

भाजपा को आ रहा हवाला का पैसा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जलपाईगुड़ी में एक गाड़ी से 93 लाख रुपये नगदी बरामदगी वाले मामले में सीएम ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर