फर्जी आईएएस अधिकारी नवद्वीप से गिरफ्तार

अभियुक्त को भेजा गया पुलिस हिरासत में
नदियाः फर्जी सीआईडी अधिकारी के बाद अब नदिया में फर्जी आईएएस अधिकारी का भंडाफोड़ हुआ है। धोखाधड़ी करने के आरोप में कृष्णानगर कोतवाली थाने की पुलिस ने अंचित्य बनर्जी नामक फर्जी आईएएस अधिकारी को नवद्वीप से गिरफ्तार किया है। पुलिस रिमांड में देने की अर्जी के साथ पुलिस ने मंगलवार को उसे कृष्णानगर कोर्ट में पेश किया गया जहां अदालत ने उसे 6 दिनों की पुलिस हिरासत में भे​ज दिया। बता दें कि कोलकाता के फर्जी आईएएस अधिकारी देवांजन का भंडाफोड़ होने के बाद से सतर्क हुई कोतवाली थाने की पुलिस तत्परता के साथ कार्यवाई कर रही है। इससे पहले डीएसपी रैंक की सीआईडी अधिकारी बताकर बेरोजगारों को नौकरी देने का झांसा देकर ठगी करने वाली फर्जी सीआईडी अधिकारी राधारानी विश्वास को पिछले दिनों कोतवाली थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया था, फिलहाल वह जेल में है। पुलिस सूत्रों के अनुसार कल्याणी के निवासी अभिजीत राय ने अभियुक्त के खिलाफ कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज करायी थी। आरोप है कि संपत्ति जनित विवाद अपने ओहदे के बल पर सुलझा देने का झांसा देकर फर्जी आईएएस अधिकारी कई किश्तों में उससे कुल 2 लाख 25 हजार रुपये हड़प लिये हैं। संदेह होने पर निजी तौर पर अभिजीत ने उसके आईएएस अधिकारी होने और नियुक्ति के संबंध में पता लगाना शुरु किया। खबर नकारात्मक आने पर पुलिस में शिकायत दर्ज करायी। मंगलवार की तड़के 4 बजे से पहले पुलिस ने नवद्वीप के एक होटल से अचिंत्य को गिरफ्तार किया। आरोप है कि नीले रंग की बत्ती लगी गाड़ी में रौब के साथ घूमता था। गिरफ्तारी के बाद उसके खिलाफ कई शिकायतें सामने आने लगी हैं। गाड़ी चेकिंग के नामपर वह वाहनों से वसूली भी करता था। नीली रंग की बत्ती वाली गाड़ी सड़क के किनारे खड़ी कर वाहनों की चेकिंग करता था। साथ ही आरोप है कि सत्ताधारी पार्टी के ओहदेदार लोगों से उसका मेलजोल है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विसर्जन के बाद नदी से अवशेष हटायेगा पोर्ट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मूर्तियाें के विसर्जन के बाद हुगली नदी में प्रदूषण फैलने से रोकने के लिए हर साल ही श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट आगे पढ़ें »

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान बाढ़ में डूबने से 7 लोगों की मौत

मालबाजार: मालबाजार शहर से सटे माल नदी में अचानक बाढ़ आने से विसर्जन का कार्यक्रम को प्रशासन के तरफ़ से रोक दिया गया है । आगे पढ़ें »

ऊपर