सबसे गर्म संक्रांति के बाद भी नहीं लौटी ठण्ड, फिलहाल तापमान में हेरफेर नहीं

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कड़ाके की ठण्ड के बगैर ही इस बार मकर संक्रांति गुजर गयी औैर लोगों नेे गंगासागर में डुबकी भी लगा ली। सबसे गर्म मकर संक्रांति के बाद मौसम विभाग ने अनुमान जताया था कि सोमवार से ठण्ड लौटेगी। इधर, सोमवार को पारा कुछ कम तो जरूर हुआ, लेकिन ठण्ड कोई खास नहीं लौटी। इस दिन कोलकाता का न्यूनतम तापमान 16.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो स्वाभाविक से 2 डिग्री सेल्सियस अधिक था। वहीं अधिकतम तापमान भी स्वाभाविक से एक डिग्री अधिक यानी 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सोमवार की सुबह कोलकाता के आसमान में कुहासा था, लेकिन दिन गुजरने के साथ ही आसमान साफ हो गया। अगले 24 घण्टे में बारिश का कोई अनुमान मौसम विभाग ने नहीं जताया है। इधर, मौसम विभाग का कहना है कि मकर संक्रांति के बाद अगले कुछ दिन तापमान में कोई हेरफेर होने की संभावना नहीं है और 16 डिग्री के आस-पास ही तापमान रह सकता है। ना केवल कोलकाता बल्कि दक्षिण बंगाल के जिलों में भी ऐसी ही स्थिति रहेगी। समय के साथ – साथ ठण्ड गायब होगी। मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी हवाओं के कारण उत्तरी हवाएं कमजोर हो गयी जिससे बंगोपसागर से गर्म हवाओं ने राज्य में प्रवेश किया। इस कारण तापमान में धीरे – धीरे बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है। हालांकि कुछ दिनों के लिए ठण्ड दूसरी इनिंग भी खेल सकती है। संभवतः कुछ दिनों तक तापमान में थोड़ी गिरावट देखी जा सकती है। इधर, उत्तर बंगाल के दार्जिलिंग व कर्शियांग जिलों में कड़ाके की ठण्ड अब भी बरकरार है। वहीं सिक्किम में बर्फबारी का अनुमान है जिससे दार्जिलिंग व आस-पास के जिलाें में ठण्ड और बढ़ सकती है।
जादवपुर व विक्टोरिया में पर्यावरण रहा खराब
इस बीच, कोलकाता के मौसम में बदलाव होने के साथ ही जहां पर्यावरण की स्थिति में सुधार देखा जा रहा है, वहीं सोमवार को जादवपुर व विक्टोरिया में पर्यावरण खराब रहा। इस दिन जादवपुर में एक्यूआई स्तर 206 पर दर्ज किया गया जिसे ‘पूअर यानी खराब’ स्तर कहा जाता है। इस पर्यावरण स्तर में लंबे समय तक बाहर रहने से सांस संबंधी समस्या हो सकती है। यहां सुबह 6 बजे पीएम2.5 का स्तर 173 दर्ज किया गया जिसे ‘मॉडरेट यानी ठीकठाक’ कहा जा सकता है। हालांकि लंग्स, अस्थमा व हार्ट से जुड़े मरीजों के लिए इस पर्यावरण स्तर में सांस लेने में तकलीफ होती है। वहीं सुबह 10 से 12 बजे के बीच पीएम 2.5 स्तर 235 के आस-पास यानी ‘पूअर स्थिति में था।’ इसी तरह विक्टोरिया में 221 एक्यूआई स्तर रहा जिसे ‘खराब’ कहेंगे। यहां मॉर्निंग वॉक जाने वाले लोगों को भी परेशानी हुई क्योंकि सुबह 6 बजे यहां पीएम 2.5 का स्तर 222 के आसपास यानी ‘पूअर’ स्थि​ति में था। इसी तरह सुबह 8 बजे से अपराह्न 3 बजे तक पीएम 2.5 का स्तर 212 से 233 तक पहुंच गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मिड डे मील के फंंड से दी गयी बोगतुई पीड़ितों को क्षतिपूर्ति : शुभेंदु

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मिड डे मील के आवंटित रुपये खर्च करने को लेकर विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने एक बार फिर विस्फोटक आरोप लगाया। आगे पढ़ें »

सॉल्टलेक में बैठकर ब्रिटेन के नागरिकों को लगाते थे चूना, 13 गिरफ्तार

हाई स्पीड इंटरनेट देने के नाम पर लोगों को फंसाते थे जाल में सन्मार्ग संवाददाता विधाननगर : सॉल्टलेक में बैठकर ब्रिटेन के नागरिकों को कंप्यूटर पर हाई आगे पढ़ें »

ऊपर