बैंकाॅक जा रही फ्लाइट की हुई इमरजेंसी लैंडिंग

कोलकाता से बैंकॉक जा रही थी स्पाइसजेट की फ्लाइट
फ्लाइट में कुल 178 यात्री और चालक दल के 6 कर्मचारी सवार थे
कोलकाता : कोलकाता से बैंकॉक जा रही स्पाइसजेट की एक फ्लाइट में टेक-ऑफ करते समय तकनीकी खराबी आ गई, जिसके बाद दोबारा कोलकाता एयरपोर्ट पर ही उसकी इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। फ्लाइट में कुल 178 यात्री और चालक दल के 6 कर्मचारी सवार थे। सभी को दूसरी फ्लाइट से रवाना किया गया। जानकारी के मुताबिक स्पाइसजेट की फ्लाइट संख्या एसजी 83/एटीडी की इमरजेंसी लैंडिंग रविवार देर रात की गई। विमान ने कोलकाता एयरपोर्ट से रात 1.09 बजे बैंकॉक के लिए उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही इंजन में खराबी की घटना सामने आई, जिसके बाद फ्लाइट को 1.27 बजे वापस कोलकाता एयरपोर्ट पर ही लैंड करा दिया गया। सूत्रों के मुताबिक उड़ान भरते समय प्लेन के बाएं इंजन की एक ब्लेड टूट गई थी, इसलिए फ्लाइट को ग्राउंडेड घोषित कर दिया गया। इसके बाद एयरलाइन ने दूसरे विमान की व्यवस्था कर सोमवार सुबह 7.10 बजे सभी यात्रियों को बैंकॉक रवाना किया।
हवाईअड्डे के एक अधिकारी ने कहा कि विमान को खींच कर ले जाने के बाद पूरी तरह से जांच की गई। कोलकाता हवाईअड्डे के अधिकारियों के पास एंबुलेंस, सीआईएसएफ, फायर टेंडर, एक आपातकालीन निकासी दल और किसी भी आपात स्थिति के लिए चिकित्सक तैयार थे लेकिन इसकी कोई जरूरत नहीं पड़ी, क्योंकि पायलट ने विमान को सुरक्षित उतार दिया और सभी यात्रियों को बिना किसी परेशानी के उतार दिया गया। इसके बाद हवाईअड्डे पर घोषित पूर्ण आपात स्थिति को रात दो बजे समाप्त कर दिया गया। यात्रियों को उतारने के बाद विमान की पूरी जांच की जा रही थी। घटना के लगभग 6 घंटे के बाद इन सभी यात्रियों के लिए बैंकॉक जाने के लिए एक अलग विमान की व्यवस्था की गई थी। स्पाइसजेट के प्रवक्ता के मुताबिक, इस फ्लाइट ने सुबह 7:10 बजे उड़ान भरी और अब सुरक्षित रूप से बैंकॉक के एयरपोर्ट पर पहुंच गई है।

Visited 112 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Weather Update: बंगाल में भीषण गर्मी के बीच आज 3 जिलों में बदलेगा मौसम, कहां-कहां होगी बारिश ?

कोलकाता: बंगाल में लोगों को लू और गर्म हवा का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग की मानें तो गर्मी की लहर अभी कम आगे पढ़ें »

JNU स्‍टूडेंट्स ने वीसी को बताया मुफ्तखोर, यह है कारण

नयी दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) ने विश्वविद्यालय की कुलपति शांतिश्री धुलिपुड़ी पंडित के इस बयान के लिए उन पर निशाना साधा आगे पढ़ें »

ऊपर