कोलकाता में डेंगू का आंकड़ा 5 हजार पार

कोलकाता में पॉजिटिविटी रेट सबसे अधिक
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : महानगर में डेंगू के मामले पांच हजार के पार हो चले हैं। इतना ही नहीं राज्य में डेंगू की सबसे अधिक पॉजिटिविटी रेट भी कोलकाता की है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार कोलकाता में जनवरी से अब तक 5,428 डेंगू के मामले पाए गए हैं। वहीं पॉजिटिविटी रेट 24.8 प्रतिशत है। बीते एक सप्ताह में महानगर में 681 डेंगू के नए मामले सामने आए हैं। डेंगू से सबसे ज्यादा प्रभावित कोलकाता नगर निगम के बोरो 10 और 12 हैं। यहां डेंगू के 493 और 975 मामले पाए गए हैं। बोरो 11 के वार्ड नम्बर 112 में डेंगू के 141 मामले और बोरो 13 के वार्ड नम्बर 115 में 151 मामले सामने आए हैं। डेंगू से सबसे ज्यादा प्रभावित वार्ड नम्बर 106 है। इस वार्ड में 412 डेंगू के मामले सामने आए हैं। गौरतलब है कि कसबा थानांतर्गत आने वाले इस वार्ड में बीते दो महीने में डेंगू से सबसे अधिक मृत्यु हुई है। केएमसी के वार्ड नम्बर 101 में डेंगू के 228 मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पिछले सप्ताह सबसे ज्यादा डेंगू के मामले वार्ड नम्बर 109 में पाये गये हैं। सर्वे पार्क थाना और पंचशायर थाना इलाके में 48 नए डेंगू के मामले पाए गए। वार्ड में कुल 179 लोग डेंगू से संक्रमित पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग सूत्रों के अनुसार केएमसी के 14 वार्ड डेंगू के प्रकोप में हैं।
डेंगू से प्रभावित वार्ड
वार्ड मामले
106 412
101 228
109 179
107 156
115 151
112 141
99 136
3 104
100 101
82 99
93 95
98 81
131 81
81 80
लोगों की लापरवाही की वजह से बढ़ रहा है डेंगू : मेयर
मेयर फिरहाद हकीम ने महानगर में डेंगू के बढ़ रहे मामले को लेकर कहा कि लोगों की लापरवाही के कारण डेंगू के मामले बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि डेंगू पॉजिटिव होने पर व्यक्ति को फौरन स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र जाकर प्लेटलेट काउंट चेक करवानी चाहिए। उन्होंने कहा कि बीते 8 महीने से केएमसी डेंगू की रोकथाम और लोगों को जागरूक करने के लिए जागरूकता अभियान चला रहा है। ड्रोन की सहायता से भी कीटनाशक का छिड़काव किया जा रहा है, पर लोगों में जागरूकता का अभाव है। मेयर ने कहा कि अगर लोग जागरूक हो जाएं और घर व आवासन की छतों पर पानी जमने न दें, यहां- वहां कचरा न फेंके तो डेंगू की स्थिति को काबू में किया जा सकता है।
परित्यक्त मकान की सफाई करने पर निगम वसूलेगा तीन गुना चार्ज
परित्यक्त मकानों की सफाई किए जाने पर निगम तीन गुना चार्ज वसूलेगा। शुक्रवार को टॉक टू मेयर कार्यक्रम के दौरान एक व्यक्ति ने मेयर को कॉल पर बताया कि उनके घर के समीप स्थित परित्यक्त मकान में कचरे का अंबार इकट्ठा हो गए है जिससे आस- पास के घरों में डेंगू होने का भय है। मेयर ने निगम के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी को मकान मालिक के खिलाफ नोटिस जारी करने और ठोस कचरा प्रबंधन विभाग के डीजी को मकान की सफाई कर मकान मालिक से तीन गुना चार्ज वसूलने को कहा। मेयर ने कहा कि निगम को अर्जित होना वाला राजस्व कोलकाता की सड़कों, जल आपूर्ति, जल निकासी के कार्य के लिए है न कि किसी की निजी संपत्ति की सफाई का खर्च वहन करने के लिए।
केएमडीए इलाके में साफ- सफाई न हो तो चेयरमैन को भेजें नोटिस : मेयर
टॉक टू मेयर कार्यक्रम के दौरान वार्ड 107 के एक व्यक्ति ने कॉल पर बताया कि कसबा के राजडांगा मेन रोड इलाके में मकान के सामने खाली पड़ी जमीन पर गंदगी होने की वजह से काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस पर मेयर फिरहाद हकीम ने निगम के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी को जमीन के मालिक के खिलाफ नोटिस जारी करने का निर्देश दिया। जिसके बाद उन्होंने कहा कि अगर जमीन का कोई मालिक नहीं है तो आप केएमडीए के चेयरमैन के खिलाफ नोटिस जारी करें। गौतरलब है कि केएमडीए के चेयरमैन फिरहाद हकीम हैं। उन्होंने कहा कि नोटिस जारी होने पर वे केएमडीए के उक्त विभाग के अधिकारियों से जवाब तलब करेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वास्थ्य साथी के बावजूद अस्पताल ने वसूले रुपये, लगाया गया जुर्माना

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्वास्थ्य साथी कार्ड दिखाकर अस्पताल में भर्ती होने के बावजूद मरीज के परिजनों से नकद रुपये लिये जाने का आरोप न्यूटाउन के आगे पढ़ें »

प्रेमिका की हत्या कर शव को दफनाया

खड़गपुर : पश्चिम मिदनापुर जिले के खड़गपुर लोकल थाना इलाके के एक गांव में रहने वाली एक महिला को मार कर दफना दिए जाने के आगे पढ़ें »

ऊपर