सीएम ने रोजगार के बताये कई उपाय, कहा – काम के लिए नहीं जाना होगा बाहर

चाय, झालमूढ़ी से लेकर घुघनी, पूजा में होगी खूब बिक्री
सन्मार्ग संवाददाता
खड़गपुर : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने खड़गपुर में प्रशासनिक सभा से रोजगार के एकाधिक उपाय बताये हैं, साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि काम की तलाश में किसी को बंगाल से बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। आगामी 4 – 5 वर्षों में रोजगार सृजन के मामले में बंगाल देश में सबसे आगे होगा। सीएम ने अपने चार दिवसीय दौरे के आखिरी दिन गुरुवार को पश्चिम मिदनापुर जिले की रेलनगरी खड़गपुर के विद्यासागर इंड्रस्ट्रियल पार्क में एक प्रशासनिक सभा की। उन्होंने यहां से रोजगार के एकाधिक उपाय बताये। उन्होंने दुर्गापूजा के समय चाय और घुघनी की दुकान खोलने की सलाह दी। सीएम ने कहा कि कचूरीपाना अर्थात जलकुंभी के पत्तों से बैग व थाली तैयार की जाती है और उसी तरह से काश के फूलों से गुलदस्तों को सजाये जाने के अलावा काफी कुछ तैयार किया जा सकता है। जिन युवतियों ने ब्यूटी पार्लर का कोर्स किया है वह अपने घर में ब्यूटी पार्लर खोल सकती हैं। इसके अलावा इस दिन उन्होंने कारीगरी शिक्षा विभाग की ओर से प्रशिक्षित किए गये युवक-यवतियों को नौकरी का ज्वाइनिंग लेटर भी दिया।उन्होंने कहा कि हो सके तो सृष्टि के पीछे दौड़ो जिससे मां बाप का व ऊपर वाले का आशीर्वाद मिलेगा और सर उठाकर चल सकोगे। मुख्यमंत्री ने परियोजनाओं का नाम लेते हुए कहा कि कई मामलाें में बंगाल का दुनिया में नाम है। खड़गपुर में टाटा मेटालिक्स और 6 सौ करोड़ का निवेश करने जा रहा है जिससे हजारों युवाओ को रोजगार का अवसर मिलेगा, देवचा पचामी का कार्य शुरू हो चुका है। वहां पर एक लाख युवाओं को रोजगार मिलेगा इसलिये नौकरी की तलाश में बाहर जाने की जरूरत नहीं है।
परियोजनाओं का किया उद्घाटन
इस दिन उन्होंने वर्चुअल तरीके से प्रत्यय का उद्घाटन किया। प्रत्यय आवास में 62 पुरुष और 48 महिलाओं के रहने की व्यवस्था की गयी है। उस आवास को ऐसे लोगों के बनाया गया है जो मानसिक कारणों से अपने परिवार को छोड़ कर आ गये हैं और उनके परिजनों से सम्पर्क नहीं हो पाया है। मुख्यमंत्री ने खड़गपुर में प्रशासनिक बैठक से पश्चिम मिदनापुर में 2, पुरुलिया में 8, बांकुड़ा में 7 व झाड़ग्राम में 2 परियोजनाओं का वर्चुअल तरीके से उद्घाटन किया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज से बसें चलाने के लिए है एनओसी का इंतजार

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : टाला ब्रिज खुल चुका है, लेकिन अभी बड़े वाहन यहां से आना-जाना नहीं कर रहे हैं। हालांकि बताया जा रहा है कि आगे पढ़ें »

नवरात्रि में इन लोगों को जरूर करनी चाहिए मां चंद्रघंटा की पूजा, जानें तीसरे दिन का रंग

कोलकाताः नवरात्रि के तीसरे दिन मां दुर्गा के तृतीया रूप मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है। 28 सितंबर 2022 को मां चंद्रघंटा की पूजा आगे पढ़ें »

ऊपर