हांसखाली बलात्कार मामले में सीबीआई अब उठाने जा रही ये बड़ा कदम

अभियुक्त के घर के दरवाजे से लिये गये फिंंगर प्रिंट्स, कपड़ों व घर के सभी सामानों के नमूनों को भेजा गया जांच के लिए
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता / नदिया : हांसखाली रेप मामले में सीबीआई की टीम ने शुक्रवार को भी छानबीन तेज गति से जारी रखते हुए कई अहम निर्णय लिये। सीबीआई हांसखाली बलात्कार मामले में डीएनए जांच करने की योजना बना रहा है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि अपराध स्थल से एकत्र किये गये नमूने गिरफ्तार अभियुक्त के नमूने से मिलते हैं या नहीं। इसके साथ ही अभियुक्त के घर के दरवाजे से लिये गये फिंंगर प्रिंट्स, कपड़ों व घर के सभी सामानों के नमूनों को जांच के लिए भेज दिया गया है। जांच एजेंसी के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। गत 4 अप्रैल को 9वीं कक्षा की एक छात्रा से मुख्य अभियुक्त के घर जन्म दिन की एक पार्टी के दौरान कथित तौर पर बलात्कार किया गया था। मामले का मुख्य आरोपी तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता का बेटा है। घटना के बाद छात्रा की मौत हो गई थी। उसके पिता ने 10 अप्रैल को पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई थी और आरोप लगाया था कि आरोपी ने हथियार का भय दिखा कर शव को छीन लिया और उसकी अंत्येष्टि कर दी।
घटनास्थल से मिले नमूने से मिलाया जाएगा अभियुक्त का नमूना
सीबीआई अधिकारी और अधिक साक्ष्य एकत्र करने के लिए शुक्रवार को फिर से घटनास्थल पर गये। इससे पहले, उन्होंने बृहस्पतिवार रात घटनास्थल से नमूने एकत्र किये थे। उनकी योजना गिरफ्तार आरोपी से नमूने एकत्र करने की है। डीएनए नमूने एकत्र कर और उसका घटनास्थल से जुटाये गये नमूनों से मिलान किया जा रहा है। यह जांच में एक अहम कदम होगा। सीबीआई की टीम इस मामले में शुक्रवार को भी विभिन्न स्थानों पर अपना खोजबीन अभियान जारी रखे हुए थी। सीबीआई अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को मुख्य आरोपी के घर का ताला तोड़ कर अंदर प्रवेश किया और अपराध स्थल की तलाशी ली। पूरे तलाशी अभियान के दौरान उनके साथ केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला के कर्मी भी थे और साक्ष्य एकत्र करने के कार्य की वीडियोग्राफी की गई। तलाशी बृहस्पतिवार देर रात तक जारी रही और इलाके में बिजली गुल होने के चलते इसमें देर हुई।
शव का पोस्टमार्टम नहीं होने से आ रही सीबीआई के सामने काफी दिक्कत
सीबीआई सूत्रों के मुताबिक मृतका का शव ​बिना पोस्टमार्टम के बगैर जलाया गया। इस कारण छानबीन में काफी दिक्कत आ रही है। अब सिर्फ अभियुक्त व घटना स्थल तथा पीड़ित परिवार का बयान ही है। वहीं अभियुक्तों को जल्द से जल्द सीबीआई की टीम अपने हिरासत में लेकर पूछताछ करने वाली है। इसके साथ ही अब तक जितने भी सबूत व नमूने संग्रह किये गये हैं, उन्हें सीबीआई की टीम फॉरेंसिक जांच के लिए दिल्ली भेज दी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एसएससी : 21 हजार पदों पर नियुक्ति में घपले का खुलासा

सीबीआई की नयी सिट के प्रमुख ने कहा कोर्ट में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्कूलों में ग्रुप डी के पदों पर नियुक्ति घोटाले के एक मामले की आगे पढ़ें »

93 लाख नगदी बरामदगी को लेकर ममता ने भाजपा पर साधा निशाना

भाजपा को आ रहा हवाला का पैसा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जलपाईगुड़ी में एक गाड़ी से 93 लाख रुपये नगदी बरामदगी वाले मामले में सीएम ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर