अनुव्रत का 16.97 करोड़ का फिक्स्ड डिपोजिट सीबीआई को मिला

अनुव्रत, उनकी बेटी और परिजनों के नाम से मिला
अभी और फिक्स्ड डिपोजिट होने की संभावना
चार्टर्ड अकाउंटेंट ने सीबीआई को उनके अकाउंट्स के दिये डिटेल्स
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : तृणमूल नेता अनुव्रत मंडल पर बुधवार को एक और बड़ी गाज गिरी है। उनके व उनके करीबियों के नाम से 16.97 करोड़ का फिक्स्ड डिपोजिट सीबीआई की टीम के हाथ लगा है। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक बुधवार को उन्हें सूचना मिली थी कि अनुव्रत ने अपने और अपने करीबियों जिनमें उनकी बेटी व रिश्तेदार शामिल हैं, के नाम से करोड़ों का फिक्स्ड डिपोजिट कर रखा है। इसके बाद अनुव्रत के चार्टर्ड अकाउंटेंट मनीष कोठारी को बुधवार को बोलपुर स्थित सीबीआई के अस्थायी कार्यालय में बुलाया गया। उनसे लगभग 2.30 घंटे पूछताछ की गयी। इसके बाद सीबीआई की टीम बीरभूम स्थित उक्त राष्ट्रीय बैंक की विभिन्न शाखाओं में गयी। वहां से इन फिक्स्ड डिपोजिट के बारे में पता चला। ये रुपये कैश में दिये गये थे या बैंक में पहले से थे, इस बारे में सीबीआई की टीम ने बैंक अधिकारी से पूछताछ की। इसके बाद उनके अकाउंट के बारे में और अधिक जानकारी लेकर सीबीआई कार्यालय में तलब किया गया। बैंक अधिकारियों ने जांच में सहयोग करते हुए अनुव्रत व उनकी बेटी सहित अन्य रिश्तेदारों के बैंक अकाउंट्स डिटेल्स व स्टेटमेंट भी सीबीआई की टीम को सौंप दिया है।
कई अन्य बैंकों में भी सीबीआई जा सकती है संपत्ति का ब्योरा लेने
सीबीआई की टीम को बीरभूम के कुछ स्थानीय लोग भी मदद कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक सीबीआई को सूचना मिली है कि बीरभूम के कुछ और बैंकों में भी उनके अकाउंट्स हैं जहां पर करोड़ों रुपये जमा किये गये हैं। इस बारे में जल्द ही सीबीआई की टीम कार्रवाई कर सकती है। सूत्रों की माने तो 16.97 करोड़ रुपयों में काफी रुपये कैश में जमा किये गये हैं। क्या यह रुपये मवेशी तस्करी से आये थे ? इस बारे में सीबीआई की टीम कोलकाता में निजाम पैलेस स्थित अपने कार्यालय में अनुव्रत मंडल से पूछताछ कर रही है। वहीं ​फिक्स्ड डिपोजिट में कई रिश्तेदारों के नाम हैं, सीबीआई की टीम उनसे भी पूछताछ करेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुर्गापूजा को यूनेस्को से मान्यता दिलाने में केंद्र सरकार की भूमिका : मीनाक्षी लेखी

राज्य छीन रहा है श्रेय सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : दुर्गापूजा को यूनेस्को से अमूर्त सांस्कृतिक विरासत का दर्जा मिलने के बाद पूरे राज्य में उत्साह का माहौल आगे पढ़ें »

डेंगू से सावधान रहने के लिए पूजा समितियां भी करें प्रचार

कोलकाता : कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम ने महानगर में डेंगू की स्थिति को चिंताजनक बताते हुए कहा कि कोलकाता नगर निगम और आगे पढ़ें »

ऊपर