बंगाल : वंदे भारत पर पथराव, भाजपा ने मामले की जांच एनआईए से कराने की मांग की

मालदा : हावड़ा और न्यू जलपाईगुड़ी को जोड़ने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाए जाने के कुछ दिन बाद ही उस पर मालदा जिले में पथराव किया गया। भाजपा ने मामले की जांच एनआईए द्वारा कराए जाने की मांग की है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है। मालदा शहर से लगभग 50 किलोमीटर दूर कुमारगंज रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन पर पथराव किया गया। इस घटना में 22303 वंदे भारत एक्सप्रेस के डिब्बा संख्या सी-13 का शीशा टूट गया है। कुमारगंज क्षेत्र पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एफएफआर) के कटिहार डिवीज़न के अधिकार क्षेत्र में आता है। अधिकारी ने बताया कि घटना सोमवार को शाम करीब पांच बजकर 10 मिनट पर हुई और ट्रेन को बीच रास्ते में नहीं रोका गया। यह मालदा टाउन रेलवे स्टेशन पर अपने तय कार्यक्रम के तहत ही रुकी। मालदा टाउन रेलवे स्टेशन राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के आईसी प्रशांत राय ने बताया कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) मामले की जांच कर रहा है। मालूम हो कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 30 दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हावड़ा स्टेशन से इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी। पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं भाजपा के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि क्या यह घटना हावड़ा स्टेशन पर उद्घाटन समारोह में ‘‘जय श्री राम’’ के नारे लगाने का ‘‘बदला’’ है ? उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण व घिनौना। पश्चिम बंगाल के मालदा में भारत की शान वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव। क्या ऐसा उद्घाटन समारोह में ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने का बदला लेने के लिए किया गया? मैं प्रधानमंत्री कार्यालय, रेल मंत्रालय को मामले की जांच एनआईए को सौंपने और दोषियों को दंडित करने का आग्रह करता हूं।’

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

वंदे भारत एक्सप्रेस पर हमला को लेकर पीआईएल

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : वंदे भारत एक्सप्रेस पर हुए हमले को लेकर एक पीआईएल दायर की गई है। एडवोकेट रमाप्रसाद सरकार ने यह पीआईएल दायर की आगे पढ़ें »

प्लेटफॉर्म छोड़ 500 मीटर दूर जाकर रुकी लोकल ट्रेन

विधाननगर रेलवे स्टेशन की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार की सुबह विधाननगर रेलवे स्टेशन पर लोकल ट्रेन प्लेटफॉर्म से 500 मीटर दूर जाकर रुकी। अचानक इस आगे पढ़ें »

ऊपर