अप्रैल से बंगाल को मिल सकती है और 2 वंदे भारत एक्सप्रेस

हावड़ा-वाराणसी व हावड़ा-पटना के बीच चलेगी ट्रेन
वर्तमान में हावड़ा-न्यूजलपाईगुड़ी के बीच चलती है ट्रेन
दूरीवाले ट्रेनों में लगेंगे स्लीपर कोच
कोलकाता : वर्तमान में बंगाल में एक वंदे भारत एक्सप्रेस चलती है। बंगाल को अगले अप्रैल में दो और वंदे भारत एक्सप्रेस मिल सकती है। बंदे भारत एक्सप्रेस किन दो रूटों पर चलेगी इसको लेकर सोशल मीडिया पर काफी समय से कयास लगाए जा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, जिन दो ट्रेनों की शुरुआत करने जा रहा है, वे हावड़ा से चलेंगी। एक हावड़ा-पटना रूट पर चलेगी। सूत्रों के मुताबिक, दूसरी वंदे भारत एक्सप्रेस हावड़ा और वाराणसी के बीच चलेगी। वर्तमान में बंगाल में एक वंदे भारत एक्सप्रेस चलती है। हालांकि आधिकारिक तौर पर इस संबंध में रेलवे की ओर से कोई टिप्पणी नहीं की गई है। वहीं इसे सियालदह से भी चलाने की मांग की गयी है।
दूरीवाली वंदे भारत में लगेंगे स्लीपर कोच : सबसे तेज गति से दौड़ने वाली वंदे भारत ट्रेन में अब स्लीपर कोच को जोड़ा जाएगा। 5 घंटे से ज्यादा और 400 किमी. से अधिक दूरी वाले स्टेशनों के लिए स्लीपर वंदे भारत एक्सप्रेस का संचालन किया जाएगा। स्लीपर कोच जुड़ने से रेलवे की आय में इजाफा भी होगा। इस दौरान ट्रेन की स्पीड 130 किमी. प्रति घंटे से ज्यादी की रहेगी। दरअसल इस ट्रेन में अभी चेयर सिटिंग की व्यवस्था है। स्लीपर वंदे भारत चलाने के लिए भारतीय रेलवे ने एक सर्वे किया जिसमें देखा गया कि वो लंबे रूट पर यात्रियों को अधिक सुविधा दे सकता है।
इन रूट्स पर स्लीपर ट्रेन चलाने की योजना? : शुरुआत में रेलवे दिल्ली से कानपुर और वाराणसी से दिल्ली के बीच स्लीपर वंदे भारत ट्रेन चलाने की योजना पर विचार कर रहा है। रेलवे की मॉनिटरिंग कमेटी इस पूरे मामले पर रिपोर्ट भी तैयार कर रही है। रेलवे वंदे भारत के साथ साथ शताब्दी ट्रेन में भी चेयर कार में बदलाव करने पर विचार कर रहा है। इसके बाद हावड़ा-वाराणसी व हावड़ा-पटना के बीच भी स्लीपर कोच लगाये जायेंगे।
ट्रैक के नवीनीकरण के बाद समय में कटौती : यह ट्रेन हावड़ा से न्यू जलपाईगुड़ी के बीच चलती है। सप्ताह में 6 दिन (बुधवार को छोड़कर) सुबह 5:55 बजे हावड़ा से प्रस्थान करती है। दोपहर 1:25 बजे न्यू जलपाईगुड़ी पहुंचती है। वापसी में वंदे भारत एक्सप्रेस दोपहर 3:05 बजे न्यू जलपाईगुड़ी से रवाना होती है। जो रात 10:35 बजे हावड़ा पहुंचती है। इसमें 7 घंटे 30 मिनट का समय लगता है। रेलवे को उम्मीद है कि हावड़ा-न्यू जलपाईगुड़ी के बीच रेल ट्रैक के नवीनीकरण के बाद समय में और कमी आएगी।
रेलमंत्री ने की थी वंदे भारत की प्रशंसा : रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने पिछले महीने वंदे भारत एक्सप्रेस के बारे में कहा था कि ‘वंदे भारत एक बेहतरीन ट्रेन है। यह 52 सेकंड में शून्य से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है। जहां दुनिया की दूसरी ट्रेनें 54 से 660 सेकेंड का समय लेती हैं। भारत के डिजाइन हवाई जहाज से बेहतर हैं। यात्रियों का ट्रेन से यात्रा करने का एक शानदार अनुभव है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

खेल अकादमी का शुभारंभ

कोलकाता:  फुटबॉल प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है। मैनचेस्टर यूनाइटेड के पूर्व कोच पॉल नेरी के सहयोग से एक नई स्पोर्ट्स अकादमी शुरू की गई आगे पढ़ें »

‘हम सुरक्षित नहीं, अभिषेक और मुझे निशाना बना रही BJP’, CM ममता का हमला

बालुरघाट: लोकसभा चुनाव को लेकर बंगाल में सियासी पारा हाई है। आज बालुरघाट में सीएम ममता ने जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ममता आगे पढ़ें »

ऊपर