बी. गार्डेन में पुराने पेड़ों को काटा गया ?

केंद्रीय मंत्री काे दी गयी चिट्ठी
हाल में केंद्र सरकार ने जारी किया था जुर्माने का फरमान
1100 प्रजातियों के 14,000 से अधिक पेड़ हैं बी. गार्डेन में
सन्मार्ग संवाददाता
हावड़ा : हावड़ा के ऐतिहासिक बोटानिकल गार्डेन में पुराने पेड़ों को काटने का आरोप लगाते हुए बी. गार्डेन डेली वॉक एसोसिएशन के सदस्य ने केंद्रीय मंत्री को चिट्ठी भेजी है। यहां उल्लेखनीय है कि बी. गार्डेन में लगभग 1100 प्रजातियों के 14 हजार से अधिक पेड़ हैं। यह गार्डेन पुराने पेड़ों के लिए ही दुनिया भर में मशहूर है और इनमें कई पेड़ दुर्लभ प्रजातियों के भी हैं।
केंद्र सरकार ने लगाया है जुर्माना
यहां उल्लेखनीय है कि हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा जुर्माने का फरमान जारी कर कहा गया था कि बी. गार्डेन की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने पर जुर्माना लगाया जायेगा। केंद्र सरकार के पर्यावरण व वन मंत्रालय द्वारा गत 11 नवम्बर को इस संबंध में नोटिस जारी कर कहा गया था कि आयेे दिन यह देखने को मिल रहा है कि बी. गार्डेन में अवैध कार्यकलापों के माध्यम से गार्डेन के ऐ​तिहासिक महत्व को समाप्त करने की कोशिश की जा रही है। इससे ना केवल गार्डेन में दुर्लभ प्रजातियों के पेड़ों को नुकसान पहुंच रहा है बल्कि इस ऐतिहासिक गार्डेन का महत्व भी नष्ट होता जा रहा है। ऐसे में अब बी. गार्डेन की संपत्ति को किसी तरह का नुकसान पहुंचाये जाने पर जुर्माना लगाया जायेगा।
चंदन व महोगिनी के पेड़ों को काटने का आरोप
वहीं बी. गार्डेन डेली वॉक एसोसिएशन के सदस्य स्मरजीत रॉय चौधरी ने केंद्रीय पर्यावरण, वन व जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव को चिट्ठी भेजी है। उन्होंने चिट्ठी में आरोप लगाया कि गत 16/17 तारीख को नर्सरी नं. 1 में चंदन के पेड़ को काटा गया था। इंटरनेशनल यूनियन ऑफ द कन्जरवेशन ऑफ नेचर (यूएनसीएन) के तहत ये पेड़ पुरानी प्रजातियों में शामिल हैं और वन विभाग की अनुमति के बगैर इन्हें काटने की अनुमति नहीं होती है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि इससे पहले महोगिनी के पेड़ को भी काट दिया गया था। इस मामले में शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गयी। इधर, बी. गार्डेन के समरजीत मण्डल ने कहा कि बी. गार्डेन में आये दिन अवैध क्रियाकलाप हो रहे हैं, लेकिन उन पर किसी का ध्यान नहीं जा रहा है।
क्या है बी. गार्डेन को लेकर केंद्र का जुर्माना
* फूल व फल तोड़ने और पौधों को नुकसान पहुंचाने पर 500 रु.
* गार्डेन की संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने पर 1000 रु.
* गार्डेन में धूम्रपान व शराब पीने पर 500 रु.
* गंदगी फैलाने अथवा प्लास्टिक के इस्तेमाल पर 500 रु.
* पौधों के सैंपलों के अनाधिकृत संग्रह पर 500 रु.
* अनाधिकृत वीडियोग्राफी करने पर 1000 रु.

शेयर करें

मुख्य समाचार

दोस्त ने घर आने से किया मना तो भरे बाजार उसकी पत्नी के काटे अंग-अंग

भागलपुर : भागलपुर के पीरपैंती में वीभत्स हत्या को अंजाम दिया गया। दोस्त ने घर पर आने से रोक लगा दी तो उसकी पत्नी पर आगे पढ़ें »

वोटिंग के दिन रोड शो की अनुमति नहीं : ममता

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने गुजरात में चल रही दूसरे फेज की वोटिंग को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए आगे पढ़ें »

ऊपर