आसनसोल भगदड़ : पुलिस ने पांच लोगों को किया गिरफ्तार

Fallback Image

कोलकाता : आसनसोल में एक धार्मिक आयोजन के दौरान मची भगदड़ में संलिप्तता के आरोप में पुलिस ने शुक्रवार को पांच लोगों को गिरफ्तार किया। घटना में तीन लोग मारे गए थे। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आसनसोल नगर पुलिस गुरुवार रात से छापे मार रही है और उसने बुधवार शाम हुई घटना में संलिप्तता के आरोप में विभिन्न जगहों से पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने भगदड़ की घटना के सिलसिले में विभिन्न जगहों से पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या भगदड़ की यह घटना सुनियोजित थी या धार्मिक कार्यक्रम के आयोजकों की लापरवाही के कारण घटना हुई। छापेमारी जारी है।’’ पुलिस के सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार पांचों लोग स्थानीय भाजपा नेता जितेंद्र तिवारी के सहयोगी हैं। आसनसोल में बुधवार को कंबल वितरण कार्यक्रम में भगदड़ मच गई जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई और पांच अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। भगदड़ की घटना उस वक्त हुई जब राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के आयोजन स्थल से जाने के बाद लोग कंबल लेने के प्रयास में मंच की ओर बढ़ने लगे। भगदड़ में दो महिलाओं और एक लड़की की मौत हो गई। अधिकारी के आयोजन स्थल से जाने के बाद ये घटना हुई। उन्होंने आरोप लगाया कि जैसे ही वह कार्यक्रम स्थल से निकले उस स्थान से पुलिस की तैनाती हटा ली गई और इसी कारण भगदड़ की घटना हुई। हादसे ने जल्द विवाद का रूप ले लिया और भाजपा तथा तृणमूल कांग्रेस दोनों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए। पुलिस ने दावा किया कि कंबल वितरण कार्यक्रम के लिए कोई अनुमति नहीं दी गई थी। पुलिस ने घटना के संबंध में जांच के लिए टीम गठित की है।

 

Visited 80 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

सिर्फ गर्दन का व्यायाम हमें इतने रोगों से रख सकता है दूर

कोलकाता : रीढ़ की हड्डी को कशेरूक दंड या मेरूदंड कहा जाता है। इससे समस्त कंकाल को सहारा मिलता है। रीढ़ की हड्डी या मेरूदंड आगे पढ़ें »

गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की करें पूजा, इन 3 बातों को रखें ध्यान

नई दिल्ली: गुरुवार के दिन का हिंदूओं में विशेष महत्व है। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और देवताओं के गुरु बृहस्पति देव की पूजा होती आगे पढ़ें »

ऊपर