‘पत्नी से आत्महत्या करने की बात की थी अक्षय ने’

खुद पुलिस कमिश्नर विनित गोयल ने की अभियुक्त जवान से पूछताछ
कहा-ढाई महीने से एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर कर रहे थे परेशान
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : शनिवार को इंडियन म्यूजियम में सह कर्मियों पर अंधाधुंध फायरिंग करने वाले अभियुक्त सीआईएसएफ जवान अक्षय कुमार मिश्रा ने पुलिस के समक्ष कई खुलासे किए हैं। रविवार को कोलकाता पुलिस कमिश्नर विनित कुमार गोयल ने खुद उसेस पूछताछ की। इस दौरान ज्वाइंट सीपी क्राइम मुरलीधर शर्मा, डीसी सेंट्रल रूपेश कुमार और होमीसाइड विभाग के अधिकारी मौजूद थे। शनिवार की रात को भी ऑपरेशन मोजो का नेतृत्व पुलिस कमिश्नर विनित गोयल ने किया था। अभियुक्त अक्षय कुमार की फायरिंग में सीआईएसएफ के एएसआई रंजीत सारंगी की मौत हो गयी है। हालांकि पुलिस को पता चला है कि उसके निशाने पर रंजीत के अलावा और भी तीन लोग थे। सूत्रों के अनुसार रविवार को पूछताछ के दौरान अभियुक्त सीआईएसएफ जवान ने बताया कि उसके एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर उसे ढाई महीने से परेशान कर रहे थे। उसने अपनी पत्नी को भी सारी बात बतायी थी और उससे आत्महत्या करने की बात कही थी। पत्नी ने उसे आत्महत्या नहीं करने के लिए अपील की थी। अभियुक्त ने बताया कि शनिवार को उसे अचानक उन लोगों पर गुस्सा आ गया तो उसने सेंट्री से बंदूक छीनकर फायरिंग कर दी। आरोप है कि सीआईएसएफ के इंटेलीजेंस विंग में तैनात रंजीत सारंगी ने ड्यूटी के समय उसके सोने की तस्वीर को अधिकारियों के पास भेज दिया था। उसके इन आरोपों में कितनी सच्चाई है इसकी जांच की जा रही है।
अप्रैल महीने में छुट्टी पर गया था अक्षय
जांच अधिकारियों को पता चला है कि गत अप्रैल महीने में अक्षय कुमाप को जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा की ड्यूटी पर भेजा गया था। गत 21 अप्रैल को वह कश्मीर पहुंचा था। 26 अप्रैल को उसके पिता की मौत हो गयी थी। उस समय उसे 25 दिन की छुट्टी दी गयी थी। बाद में अक्षय ने 10 दिनों की छुट्टी बढ़ा ली थी। इसके बाद उसने म्यूजियम में ड्यूटी ज्वाइन की थी।
रंजीत सारंगी के शरीर में मिले तीन गोलियों के निशान
इधर, रविवार को मृत सीआईएसएफ के एएसआई रंजीत सारंगी के शव का पोस्टमॉर्टम करने पर पता चला कि उसके शरीर में तीन गोली घुसे और वे बाहर निकल गए। एक गोली उसके चेहरे के दाहिने तरफ से प्रवेश कर गर्दन के पीछे से निकल गयी। दूसरी गोली बाएं हाथ से प्रवेश कर बाएं हाथ के पीछे से निकल गयी। तीसरी गोलीसीने के पीछे से प्रवेश कर सीने के बायी तरफ से निकल गयी।इसके अलावा उसके कंधे और आंख के ऊपर चोट के निशान मिले हैं। इसके साथ ही उसके हाथ और रिब्स की कई हड्ड‌ियों में फ्रैक्चर पाया गया है। वहीं दूसरी ओर शनिवार को फायरिंग में घायल सीआईएसएफ के असिस्टेंट कमांडेंट को एसएसकेएम अस्पताल से छोड़ दिया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टेट 2014 : 824 की अवैध नियुक्ति, हाई कोर्ट में रिट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : हाई कोर्ट में दायर एक रिट में आरोप लगाया गया है कि 2014 के टेट में अवैध नियुक्तियां दी गई हैं। इसकी आगे पढ़ें »

हथियारों की तस्करी के आराेप में दो अभियुक्त गिरफ्तार

दक्षिण 24 परगना : बारुईपुर थानांतर्गत बेगमपुर दूसो कॉलोनी इलाके में सोमवार की रात हथियारों की तस्करी के आरोप में पुलिस ने दो अ‌भियुक्तों को आगे पढ़ें »

ऊपर