4700 करोड़ की 4 परियोजनाएं आज मिलेंगी बंगाल को, पीएम करेंगे उद्घाटन

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज हल्दिया से पश्चिम बंगाल को 4 परियोजनाओं की सौगात देंगे। तेल, गैस और सड़क सेक्टर से जुड़ी लगभग 4700 करोड़ रुपये की लागत वाली इन परियोजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन आज प्रधानमंत्री करेंगे। हल्दिया रिफाइनरी में आज इंडियन ऑयल के कैटेलिटिक आईएसओ – डिवैक्सिंग यूनिट का शिलान्यास किया जाएगा। इसके अलावा बीपीसीएल की एलपीजी इम्पोर्ट टर्मिनल, गेल की डोभी – दुर्गापुर नैचुरल गैस पाइपलाइन और रानीचक में एनएचएआई के फोर लेन आरओबी कम फ्लाईओवर काे राष्ट्र के प्रति समर्पित किया जाएगा।
डिवैक्सिंग यूनिट से कम होगी आयात पर निर्भरता
आज पीएम इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के हल्दिया रिफाइनरी में दूसरे कैटेलिटिक डिवैक्सिंग यूनिट का शिलान्यास करने वाले हैं। 270 टीएमटीपीए की क्षमता वाली इस यूनिट को 1019 करोड़ रु. की लागत से बनाया जाएगा। इससे एडवांस ग्रुप 3 ल्यूब्स ऑयल बेस स्टॉक (एलओबीएस) का उत्पादन होगा जो भारत में अपनी तरह का पहला स्थापन होगा। इसकी शुरुआत हाेने के बाद आयात में कमी आयेगी और भारत की आत्मनिर्भरता भी बढ़ेगी। वर्तमान में एलओबीएस की की लगभग 70% जरूरत आयात से पूरी की जाती है। वहीं उक्त यूनिट की शुरुआत से आयात पर निर्भरता लगभग 8% तक कम हो जाएगी और 185 मिलियन यूएस डॉलर फॉरेन एक्सचेंज भी बचने की उम्मीद है। अप्रैल 2023 तक इस परियोजना के पूरा होने की उम्मीद है।
डोभी-दुर्गापुर नैचुरल गैस पाइपलाइन
पीएम आज 348 कि.मी. लम्बी डोभी-दुर्गापुर नैचुरल गैस पाइपलाइन को राष्ट्र के प्रति समर्पित करेंगे। ये पाइपलाइन महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री उर्जा गंगा परियोजना का हिस्सा है। डोभी-दुर्गापुर पाइपलाइन को गेल की ओर से 2400 करोड़ रु. की लागत से बनाया जा रहा है। परियोजना के चरण में 11 लाख रोजगार के दिनों का सृजन हाेगा। डोभी-दुर्गापुर पाइपलाइन परियोजना झारखण्ड के सिंदरी फर्टिलाइजर प्लांट में एचयूआरएल को पुनर्जीवित करने के साथ ही दुर्गापुर के मैटिक्स फर्टिलाइजर प्लांट को गैस सप्लाई करेगा और इंडस्ट्रियल, कॉमर्शियल और ऑटोमोबाइल सेक्टर को भी गैस सप्लाई करेगा। पुरुलिया, आसनसोल और दुर्गापुर समेत अन्य कई शहरों के गैस डिस्ट्रिब्यूशन सेंटरों में भी इससे गैस सप्लाई होगी।
एलपीजी इम्पाेर्ट टर्मिनल से पूर्वी क्षेत्र में बढ़ेगी एलपीजी की मांग
भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन द्वारा एलपीजी इम्पोर्ट टर्मिनल को भी पीएम राष्ट्र के प्रति समर्पित करेंगे। इससे पूर्वी क्षेत्र में एलपीजी की बढ़ी मांग को पूरा किया जाएगा। 1100 कराेड़ रु. की लागत से हल्दिया में इस एलपीजी इम्पोर्ट टर्मिनल को बनाया जा रहा है। इससे पश्चिम बंगाल और पूर्वी और उत्तर – पूर्वी भारत में एलपीजी की जरूरत भी पूरी की जाएगी। पिछले कुछ समय में एलपीजी खपत में वृद्धि दर्ज की गयी है। अप्रैल 2014 में एलपीजी खपत 41.4% थी जो अब 99.5% तक बढ़ गयी है।
फोर लेन आरओबी कम फ्लाईओवर
हल्दिया के रानीचक में एनएच 41 पर पीएम 4 लेन आरओबी कम फ्लाईओवर को राष्ट्र के प्रति समर्पित करेंगे। हल्दिया डॉक कॉम्प्लेक्स देश के पूर्वी और उत्तर – पूर्वी हिस्से के साथ ही नेपाल और भूटान जैसे देशों से कार्गों के आयात व निर्यात के लिए मेन गेटवे है। 190 करोड़ रु. की लागत से इस परियोजना को बनाया जा रहा है। इस फ्लाईओवर के चालू होने पर कोलघाट से हल्दिया डॉक कॉम्प्लेक्स और आस-पास के अन्य इलाकों में ट्रैफिक का संचालन सामान्य रहेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नियुक्ति पत्र में त्रुटि, एग्रीगेटर के खिलाफ एफआईआर

107 लोगों के भविष्य को खतरे में नहीं पड़ने दिया गया - मुख्य सचिव कहा, अब से होगी ‘डबल चेकिंग’ सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उत्कर्ष बांग्ला में 107 आगे पढ़ें »

आज से कोलकाता में चलेगी डबल डेकर बस

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : दुर्गा पूजा के समय काफी लोग पूजा पण्डालों की भीड़ में नहीं जाना चाहते हैं। हालांकि दुर्गा पूजा के समय का कोलकाता आगे पढ़ें »

ऊपर