2022 – जब नोटों के पहाड़ मिलने लगे कई घराें से, सभी को चौंका दिया…

सबिता राय

* कई बड़े नेताओं को पहनायी गयी हथकड़ियां
* इसी साल मिली हैं कई सौगातें भी
* कई खट्टी – मिठी यादों के साथ गुजरता 2022
 
कोलकाता : यह साल अंतिम दौर में गुजर रहा है। आज से गिनकर 2022 के मात्र 6 दिन बचे हैं और फिर सभी 2023 नये साल का स्वागत करेंगे। नये साल से कई उम्मीदें हैं लेकिन 2022 की कई घटनाएं और सौगातें हैं जिनके के लिए साल लोगों को याद रहेगा। कई ऐसी घटनाएं घटी जो सबको चौंका दिया। कई बड़े नेताओं को हथकड़ियां लगी जो कभी सोचा भी नहीं था। वहीं राज्य के लोगों को कई उपहार भी मिले। पेश हैं उनमें से प्रमुख –
* जब पार्थ के करीबी अर्पिता के फ्लैट्स से मिले थे करोड़ों के बंडल
सेंट्रल एजेंसी की बड़ी कार्रवाई 2022 की सबसे बड़ी सुर्खियों में शामिल हैं। पार्थ चटर्जी की करीबी कहलाने वाली अर्पिता मुखर्जी के दो फ्लैट्स से सेंट्रल एजेंसी ने करोड़ों रुपये के नोटों के पहाड़ को जब्त किये थे। रुपये इतने थे कि ट्रकों में लादकर ले जाना पड़ा था। इस घटना ने न केवल बंगाल बल्कि देश को चौंका दिया था। बहरहाल मामले की जांच जारी है।
गार्डनरीच से मिले थे करोड़ों रुपये, हावड़ा से भी हुई थी कैश बरामदगी
गार्डनरीच में आमिर खान के घर से करोड़ों रुपये बरामद हुए थे। इस घटना ने भी सभी को चौका दिया था। इससे गेमिंग सहित कई मामले सामने आये थे। कोलकाता पुलिस और ईडी दोनों ही मामले की जांच कर रही है। वहीं हावड़ा में झारखंड के तीन विधायकों की गाड़ी से भारी मात्रा में कैश मिलने की खबर से हड़कंप मच गया था।
पार्थ से लेकर अनुव्रत सहित कई को लगी हथकड़ियां
इसी साल कई बड़े नेताओं को हथकड़ियां लगी है जो चौंकाने वाली घटना थी। पार्थ चटर्जी बड़े नेता और कैबिनेट के मंत्री थे, वहीं अनुव्रत मंडल का जिले में तूंती बोलती थी। शिक्षक भर्ती घोटाला मामले में पार्थ, मानिक भट्टाचार्य तथा मवेशी तस्करी मामले में अनुव्रत को हथकड़ियां लगी।
* बोगटुईकांड : जिंदा जला दिया गया था 10 लोगों को
इस साल की बहुचर्चित मामलों में से एक है बोगटुईकांड। बीरभूम के बोगटुई गांव के घरों में कथित तौर पर आग लगा दी गई थी जिसमें करीब 10 लोगों की जान चली गयी थी। हालांकि इस मामले जांच जारी है। इस घटना के बाद से बंगाल की राजनीति गरमा गई थी।
इस साल मिली हैं ये बड़ी सौगातें
* लोगों को मिला है नया टाला ब्रिज
करीब ढ़ाई साल के लंबे इंतजार के बाद इसी साल सितंबर महीने में लोगों को नये टाला ब्रिज की सौगात मिली है। इस ब्रिज को पूरी तरह से नये रूप में बनाया गया है जो कि उत्तर कोलकाता, उत्तर 24 परगना के लोगों के यातायात का लाइफलाइन है।
* सरकार की महत्वकांक्षी परियोजना ताजपुर पोर्ट का काम हुआ शुरू
राज्य सरकार की बेहद ही महत्वकांक्षी योजनाओं में से एक है ताजपुर पोर्ट। इसी साल अक्टूबर में राज्य सरकार ने ताजपुर पोर्ट के निर्माण से संबधित दस्तावे​ज अडानी ग्रुप काे हस्तांतरित किया गया। यह परियोजना इसलिए अहम मानी गयी है क्योंकि इससे प्रत्यक्ष रूप से 25,000 लोगों के लिए रोजगार के अवसर सृजित होंगे एवं परोक्ष रूप से एक लाख अधिक रोजगार का सृजन होगा। कुल मिलाकर इसमें 25,000 करोड़ रुपये निवेश किये जायेंगे।
* सबसे बड़ा ऑडिटोरियम अलीपुर में तैयार हुआ
पीडब्ल्यूडी द्वारा धनधान्य ऑडिटोरिय को अलीपुर में तैयार कर लिया गया है। पीडब्ल्यूडी अधिकारी की माने तो ए एशिया का सबसे बड़ा ऑडिटोरियम इसे कहा गया है। बहरहाल अब सीएम के हाथों से इसका उद्घाटन होने का इंतजार है।
* 112 साल पुराने सुधार गृह को अलीपुर म्यूजियम के रूप में तैयार किया
सितंबर महीने में अलीपुर म्युजियम का उद्घाटन किया गया है। 112 साल पुराने अलीपुर केंद्रीय सुधार गृह को 2019 में सुरक्षा उद्देश्यों के लिए बंद कर कैदियों को अन्य बारुईपुर संशोधनागार में स्थानांतरित कर दिया गया था। उसके बाद से ही इसे म्युजियम के रूप में तैयार करने का काम किया गया और इसी साल इस म्युजियम को तैयार कर लोगों के लिए खोल दिया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

46वें अंतरराष्ट्रीय में अमेरिकी पैवेलियन कोलकाता पुस्तक मेले का उद्घाटन

कोलकाता : अमेरिकी महावाणिज्यदूत मेलिंडा पावेक ने 46वें अंतरराष्ट्रीय कोलकाता पुस्तक मेले में अमेरिकी पैवेलियन का उद्घाटन किया। इस वर्ष मंडप की थीम डीईआईए (विविधता, आगे पढ़ें »

गांजा तस्करी के आरोप में अभियुक्त को 3 साल कैद की सजा

कोलकाता : गांजा तस्करी के आरोप में अदालत ने एक तस्कर को दोषीठहराते हुए 3 साल कैद की सजा सुनायी है। अलीपुर कोर्ट के अतिरिक्त आगे पढ़ें »

ऊपर