20 हजार करोड़ के पैकेज की मांग अवास्तविक : दिलीप घोष

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की चक्रवात राहत के लिए 20,000 करोड़ रु. की मांग अवास्तविक है। शनिवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रिव्यू मीटिंग में नहीं आयीं ताकि उनके दावों का विस्तृत ब्योरा उन्हें ना देना पड़े। दिलीप घोष ने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने शुक्रवार को रिव्यू मीटिंग बुलायी थी ​जिसे पूरा अधिकार है यह तय करने का कि बैठक में किसे बुलाना है। दिलीप घोष ने कहा, ‘ओडिशा में चक्रवात का सबसे अधिक प्रभाव पड़ा जबकि बंगाल के कुछ ही जिले प्रभावित हुए, लेकिन ममता बनर्जी 20,000 करोड़ रु. का आर्थिक पैकेज मांग रही हैं।’ वहीं शुभेंदु अधिकारी के बैठक में शामिल होने पर दिलीप घोष ने कहा, ‘शुभेंदु तो विधानसभा में भी जाएंगे तो क्या ममता बनर्जी वहां भी जाना छोड़ देंगी ? चक्रवात का राजनीतिकरण करने के बजाय राज्य के लोगों के लिए उन्हें सबके साथ मिलकर काम करना चाहिये।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

पीएम ने मालबाजार हादसे पर जताया दुःख

कोलकाता: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने माल में हुए हादसे को लेकर ट्वीट करते हुए दुःख जाहिर किया।उन्होंने ट्वीट किया कि पश्चिम बंगाल के जलपाईगड़ी में आगे पढ़ें »

पार्थ ने नहीं की जमानत की अपील, सुबिरेश के साथ शांतिप्रसाद फिर भेजे गये जेल

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बुधवार को विजया दशमी की दोपहर एसएससी मामले में गिरफ्तार पार्थ चटर्जी की सुनवाई विशेष अदालत में हुई। सुनवाई में आगामी 19 आगे पढ़ें »

ऊपर