महापंचमी से लेकर विजय दशमी तक मेट्रो में 39.2 लाख यात्री हुए सवार

कोलकाता : दुर्गापूजा पर इस बार यानी कोविड के दो सालों के बाद 39,20,789 यात्रियों ने सफर किया। यह फुटफाल महापंचमी से लेकर विजयदशमी तक का है। इसमें नार्थ-साउथ मेट्रो में 37,41,361 यात्री सवार हुए। वहीं ईस्ट-वेस्ट मेट्रो में 1,79,428 यात्री सवार हुए। इन 6 दिनों में मेट्रो ने करीब 6 करोड़ के आसपास यानी 6,06,94,056 रुपये कमाई की। इसमें टोकन्स, स्मार्ट कार्ड व स्मार्ट की रिचार्जिंग शामिल थी। इसमें नार्थ-साउथ मेट्रो ने 5,79,90,716 रुपये कमाये जबकि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो ने 27,03,340 रुपये कमाये। साल 2021 में यह संख्या काफी कम थी। यानी मेट्रो में 12,68,583 यात्रियों ने सफर किया। वहीं मेट्रो यात्रियों को बेहतर व सुरक्षित सेवा प्रदान करने के लिए मेट्रो ने अपनी सिक्योरिटी व्यवस्था को टाइट कर रखा था। इसके तहत दक्षिणेश्वर, दमदम, शोभाबाजार सुतानुटी, सेंट्रल, जतिन दासपार्क, कालीघाट, र​वींद्र सरोवर एवं गीतांजलि मेट्रो स्टेशन स्टेशनों में आरपीएफ असिस्टेंट बूथ खोले गये थे। इसके साथ ही क्विक रिस्पांस टीम एवं डिजास्टर मैनेजमेंट टीम भी अलग-अलग स्टेशनों पर तैनात रही। मेट्रो में खासकर महिला यात्री व बच्चों की सुरक्षा का खास ख्याल रखा गया। इसके अलावा खोजी कुत्तों और सुरक्षा उपकरणों की मदद से जांच की गयी। यात्रियों की मदद के लिए दमदम, शोभाबाजार-सुतानुटी और कालीघाट स्टेशनों पर मेडिकल बूथ खोलकर रखे गये।

शेयर करें

मुख्य समाचार

साल्टलेक में फेक कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 4 गिरफ्तार

विधाननगर : साल्टलेक और न्यूटाउन में कुकुरमुत्ते की तरह फर्जी कॉल सेंटर का व्यवसाय फैल गया है। आये दिन पुलिस की ओर से अभियान चलाकर आगे पढ़ें »

टेट 2014 : 824 की अवैध नियुक्ति, हाई कोर्ट में रिट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : हाई कोर्ट में दायर एक रिट में आरोप लगाया गया है कि 2014 के टेट में अवैध नियुक्तियां दी गई हैं। इसकी आगे पढ़ें »

ऊपर