अब म्यांमार में बंदरगाह बनाएगा ड्रैगन, भारत की बढ़ी चिंता

पेइचिंग : चीन अपनी महत्वाकांक्षी बेल्ड ऐंड रोड परियोजना (बीआरआई) के तहत अब म्यांमार में अरबों डॉलर खर्च कर बंदरगाह बनाने की तैयारी में है। यह बंदरगाह म्यांमार के क्याप्यू शहर में बनाया जाएगा जो बंगाल की खाड़ी से लगा हुआ है। इसके बंदरगाह के लिए पेइचिंग और नैप्यीडॉ (म्यांमार की राजधानी) के बीच गुरुवार को डील साइन कर दी गई है। अापको बता दें कि चीन पहले से ही पाकिस्तान में ग्वादर बंदरगाह बना रहा है। इसके अलावा श्रीलंका में रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण हंबनटोटा बंदरगाह पर 99 साल की लीज चीन के पास ही है। इसके अलावा चीन बांग्लादेश के चटगांव में भी एक बंदगाह को वित्तीय मदद प्रदान कर रहा है।

भारत के लिए चिंता का विषय –
भारत के लिए यह बंदरगाह इसलिए भी चिंता का विषय है क्योंकि इससे पहले चीन भारत के पड़ोसी देशों में दो बंदरगाह और बना चुक है। चीन द्वारा पड़ोसी देशों में तैयार किए जा रहे बंदरगाहों को भारत हिंद महासागर में प्रभुत्व स्थापित करने की रणनीति के रूप में देख रहा है। हालांकि म्यांमार भी चीन के बढ़ते निवेश को लेकर चिंतित है और कुछ प्रॉजेक्ट पर नियंत्रण स्थापित किया गया है।

चीन के कर्जे की वजह से छोटे देशों में राजनीतिक संकट –
वहीं चीन की सरकारी मीडिया के अनुसार म्यांमार से बंदरगाह बनाने को लेकर हुई यह डील बीआरआई के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस प्रॉजेक्ट में चीन का निवेश 70 फीसदी जबकि म्यांमार का निवेश 30 फीसदी होगा। इस वजह से की बीआरआई की आलोचना हो रही थी और कुछ विदेशी आलोचक इसे चीन के लोन ट्रैप के रूप में भी ले रहे थे। आपको बता दें कि बीआरआई परियोजना में छोटे देशों को कथित तौर पर लोन के जाल में फंसाने की कोशिश को लेकर चीन की आलोचना हो रही है। चीन समुद्री मार्ग से सटे और रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण देशों को कर्ज देकर बंदरगाह जैसे विशाल इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार कर रहा है। चीन के कर्जे की वजह से कुछ देशों में राजनीतिक संकट भी पैदा होने के आरोप लग रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण श्रीलंका है। श्रीलंका में भी चीन ने भारी निवेश कर रखा है।


एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

मुख्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

ऊपर