न्यूजीलैंड के साथ कई समझौतों पर हस्ताक्षर कर लौटे प्रणब मुखर्जी

माओरी प्रमुख के साथ नाक रगड़कर हुआ प्रणब का स्वागत ऑकलैंड विश्वविद्यालय में राष्ट्रपति ने कहा कि भार…
न्यूजीलैंड सहयोग करके इसका लाभ उठा सकता है। प्रधानमंत्री के रूप में राजीव गांधी की यात्रा के करीब 20 साल बाद न्यूजीलैंड गए राष्ट्रपति मुखर्जी पहली बड़ी हस्ती हैं। पापुआ न्यू गिनी की यात्रा में राष्ट्रपति समुद्री व्यापार और सुरक्षा पर अहम समझौते किए। भारत देश में आधारभूत ढांचे और ऊर्जा स्त्रोतों के विस्तार में 664 करोड़ रुपये की सहायता देगा। भारत पापुआ न्यू गिनी के साथ मिलकर तेल और गैस को निकालने और उनके शोधन का कार्य भी करेगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

क्या ट्रंप ने दे दिया इस्तीफा?

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इस्तीफा देने की खबर वाला अखबार व्हाइट हाउस के बाहर और राजधानी के भीड़ वाले इलाकों में बांटे गये। इस खबर से ट्रंप के विरोधियों में खुशी की लहर फैल गई। यह खबर [Read more...]

हाेटल से 123 रोबोट नौकरी से निकाले गए

टोक्यो : जापान के एक होटल में मैनेजमेंट ने अपने यहां काम कर रहे रोबोट्स की संख्या को आधा करने का फैसला किया है। मैनेजमेंट का कहना है कि कुछ रोबोट होटल की समस्याएं सुलझाने की बजाय बढ़ा रहे थे। [Read more...]

मुख्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

ऊपर