पगड़ी बांध, हथियार लहराकर गुंडई बर्दाश्त नहीं – ममता

रामनवमी के हिंसक घटनाओं पर ममता ने तोड़ी चुप्पी, कहा राम का नाम बदनाम न करो
रैली में हथियार लहराने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी
कुछ गुंडा-मस्तान पगड़ी बांध कर संस्कृति को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं
पुलिस से कहा, किसी तरह का समझौता न करें
सन्मार्ग संवाददाता
दक्षिण 24 परगना : राज्य प्रशासन की चेतावनी के बावजूद रामनवमी के मौके पर कई स्थानों पर लोगों द्वारा हथियार लहराने को लेकर विवाद काफी बढ़ गया है। भाजपा और टीएमसी एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। सीएम ममता बनर्जी ने अपने अंदाज में जवाब दिया। साेमवार को दक्षिण 24 परगना के पैलान में आयोजित प्रशासनिक बैठक में सीएम ने कहा कि क्या कभी राम ने कहा कि हथियारों के साथ ही रैली निकालना है।
उन्होंने कहा कि कुछ गुंडे पिस्तौलों, तलवारों, हथियारों के साथ अपने सिर को कपड़े से बांधे हुए सड़क पर गुंडागर्दी कर रहे हैं। यह बंगाली संस्कृति नहीं है। हमने शांतिपूर्ण रैलियां निकालने की अनुमति दी है। सभी लोगों को अपने धर्म के अनुसार पूजा-अर्चना और इबादत करने की आजादी है लेकिन राम के नाम पर पिस्तौल ले जाना और राजनीति करना बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। किसी को पड़ोस में जाकर दूसरे समुदाय के किसी व्यक्ति की हत्या करने की इजाजत नहीं दी जायेगी। उन्होंने कहा कि कुछ गुंडे राम के नाम पर माहौल को खराब कर रहे हैं। सीएम ने प्रशासनिक बैठक में पुलिस अधिकारियों को कड़ा निर्देश दिया है कि हथियार के साथ रैली करने वालों को बिल्कुल बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने पुलिस से कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने पुलिस को भी चेताया है कि अगर किसी तरह का सेटलमेंट की बात सामने आती है तो उसे भी बख्शा नहीं जाएगा। सीएम ने किसी भी पार्टी या संस्था का नाम लिए बिना कहा कि प्रतिबंध के बाद भी रैली में हथियारों को शामिल किया गया। गुंडा बदमाशों का एक संगठन राम के नाम को बदनाम कर रहा है। मैं डीजीपी से लेकर समस्त एसपी को निर्देश दिया है कड़ा से कड़ा कदम उठाये।
उल्लेखनीय है कि रविवार को पुरुलिया में बजरंग दल के सदस्यों ने कथित तौर पर तलवार के साथ रैली निकाली। वहां दोनों समूहों के बीच हुए संघर्ष में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 5 पुलिस कर्मी घायल हो गए। सीएम ने कहा कि कुछ गुंडा – मस्तान संस्कृति को बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। हाथ में पिस्तौल लेकर माथा में पगड़ी बांधकर क्या साबित करना चाहते हैं। मैंने शांतिपूर्ण तरीके से रैली निकालने को कहा था। सीएम ने कहा कि हिंदु धर्म में युग युग चलता आया है कि शांति। जो लोग धर्म को राजनीति के लिए इस्तेमाल करते हैं उन्हें मैं बता दूं कि राजनीति बहुत बड़ी चीज है, यह आपके बस की बात नहीं है। ये सोच रहे हैं पूरा भारतवर्ष जीत लेंगे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अनिल अंबानी पर 230 करोड़ बकाया, खातों में केवल 19 करोड़

नई दिल्‍ली : अनिल अंबानी की 2 कंपनियों के बैंक खातों में लगभग 19 करोड़ रुपये ही मौजूद हैं। ये कंपनियां रिलायंस टेलीकॉम और उसकी इकाई रिलायंस कम्यूनिकेशंस लिमिटेड हैं। इन दोनों ही कंपनियों के कुल 144 बैंक खाते हैं, [Read more...]

न्यूजीलैंड जोड़ी ने लिस्ट ए का विश्व रिकार्ड कायम किया, 1 ओवर में बनाये 43 रन

हैमिल्टनः न्यूजीलैंड के बल्लेबाज जो कार्टर और ब्रैट हैम्पटन ने बुधवार को घरेलू एकदिवसीय क्रिकेट मैच में एक ओवर में छह छक्कों सहित 43 रन बनाकर लिस्ट ए का विश्व रिकार्ड कायम कर दिया। नादर्न डिस्ट्रिक्ट्स के लिये बल्लेबाजी करते [Read more...]

मुख्य समाचार

2 मोटरसा​इकिलों की टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल, 4 की हालत गंभीर

जामुड़िया : केंदा फांड़ी अंतर्गत तपसी के भूत बांग्ला के पास तेज गति से आ रही 2 मोटर साइकिलों में आमने-सामने हुई टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल हो गये जिसमें 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही [Read more...]

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

ऊपर