हम एनडीए में हैं और हमेशा रहेंगेः कुशवाहा

नेता प्रतिपक्ष को इफ्तार पार्टी का न्यौता देकर, महागठबंधन में शामिल होने से किया इंकार
पटनाः मिशन 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में सीटों के बंटवारे को लेकर सियासी पारा दिन प्रतिदिन चढ़ता ही जा रहा है। इस सियासी गर्मी को हवा देने वाले राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने रविवार को एक बार फिर इफ्तार पार्टी में नेता प्रतिपक्ष न्यौता देकर चौंका दिया। नेता प्रतिपक्ष को न्यौता देने से कई कयास लगाए जा रहे थे कि वे राजग के साथ बने रहेंगे या महागठबंधन के साथ आगे की राजनीति का सफर तय करेंगे। लेकिन कुशवाहा ने फिर एक बार गुलाटी मारते हुए सबको चौंका दिया।
महागठबंधन शामिल होने का न्यौता अस्वीकार किया
केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने तेजस्वी यादव की ओर से महागठबंधन में शामिल होने के न्योते को स्वीकार करने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि वह एनडीए में ही रहेंगे। उनकी महागठबंधन में जाने की कोई इच्छा नहीं है। कुशवाहा ने कहा- ‘तेजस्वी बोल रहे हैं। बोलने दीजिए। हम एनडीए में हैं और हमेशा रहेंगे।’

तेजस्वी का ताबड़तोड़ ऑफर, लेकिन गली दाल
इससे पहले आरजेडी नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने रविवार को उपेंद्र कुशवाहा को महागठबंधन में शामिल होने का न्योता दिया। खास बात यह रही कि तेजस्वी ने कुशवाहा को प्रभावित करने के लिए एक के बाद एक करके 3 ट्वीट कर डाले। उन्होंने अपने पहले ट्वीट में कहा कि हम उपेंद्र कुशवाहा को महागठबंधन में शामिल होने का न्योता देते हैं। उन्हें पिछले 4 साल से एनडीए में उपेक्षित किया जा रहा है। बीजेपी उनके साथ सौतेला और पराया व्यवहार कर रही है। इसी दौरान बीजेपी ने नीतीश के साथ मिलकर उनकी पार्टी को तोड़ने की कोशिश भी की। इसके बाद तेजस्वी ने मोदी सरकार पर उपेंद्र कुशवाहा की काबिलियत का सही इस्तेमाल नहीं करने का आरोप भी लगाया। फिर अपने तीसरे ट्वीट में उन्होंने संविधान बचाने की लड़ाई में उचित फैसला लेने की बात कही। हालांकि, कुशवाहा ने तेजस्वी के इस खुले प्रस्ताव को नकार दिया।
कुशवाहा एनडीए के अहम सदस्य है
बिहार के कद्दावर नेताओं में शुमार किए जाने वाले कुशवाहा नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार में शामिल अहम सदस्य हैं। उनकी पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने फरवरी 2014 में ऐलान किया था कि वह बीजेपी की अगुवाई में एनडीए में शामिल होगी। 2014 आम चुनाव में बीजेपी के साथ करार में उसे 3 सीट पर चुनाव लड़ने का मौका मिला जिसमें वह सभी 3 सीटों पर चुनाव जीतने में कामयाब रही। कुशवाहा बिहार को कराकट लोकसभा सीट से सांसद हैं और मोदी सरकार में मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री हैं।
कुशवाहा चल रहे हैं नाराज
तेजस्वी के कुशवाहा को यह ऑफर देने की वजह एनडीए के खेमे में कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी की नाराजगी है। अभी तक एनडीए में सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी ने यह साफ किया है कि जेडी(यू) के नीतीश कुमार ही बिहार में एनडीए का प्रमुख चेहरा होंगे। कुछ दिनों पहले आरएलएसपी की ओर से कहा गया कि बिहार में एनडीए का चेहरा कुशवाहा को होना चाहिए।
तय नहीं बिहार का फॉर्मूला
बिहार में 40 लोकसभा सीटों के लिए एनडीए का फॉर्मूला अभी सामने नहीं आया है। जेडी(यू) 40 में से 25 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कर रही है। इसके अलावा एनडीए में शामिल लोजपा ने सात सीटों पर अपना दावा किया है। कुशवाहा की आरएलएसपी भी तीन सीटों की दावेदारी कर रही है। ऐसे में बिहार में बीजेपी के लिए केवल पांच सीटें बचती हैं, जो कि बीजेपी को मान्य नहीं होगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह का इस्तीफा

रायपुरः छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने गत 15 वर्षों से सत्ता पर काबिज भारतीय जनता दल पार्टी को करारी शिकस्त दी है। रुझानों और नतीजों में कांग्रेस को यहां दो तिहाई बहुमत मिलता नजर आ रहा है। इस बीच राज्य के [Read more...]

शक्तिकांत दास बने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नए गवर्नर

नई दिल्लीः उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को उसका नया गवर्नर मिल गया है। वित्त आयोग के सदस्य शक्तिकांत दास को आरबीआई का 25वां गवर्नर बनाया गया है। रिजर्व बैंक के गवर्नर के पद पर [Read more...]

मुख्य समाचार

अब भाजपा सरकार की विदाई तय – ममता

नयी दिल्ली : भाजपा सरकार की विदाई का घंटा बज चुका है। काउंट डाउन शुरू है। 2019 के लिए द गेम इज क्लियर, जनता का मूड सामने आ चुका है। केवल कुछ समय का इंतजार है। यह कहना है बंगाल [Read more...]

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह का इस्तीफा

रायपुरः छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने गत 15 वर्षों से सत्ता पर काबिज भारतीय जनता दल पार्टी को करारी शिकस्त दी है। रुझानों और नतीजों में कांग्रेस को यहां दो तिहाई बहुमत मिलता नजर आ रहा है। इस बीच राज्य के [Read more...]

ऊपर