आतंकी फंडिंग का मास्टरमाइंड रमेश शाह पुणे से गिरफ्तार

लखनऊ : उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने आतंकी फंडिंग के मास्टरमाइंड रमेश शाह (28) को महाराष्ट्र के पुणे से गिरफ्तार किया है। इस काम में यूपी एटीएस ने महाराष्ट्र एटीएस की मदद ली थी। रमेश को ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाया जा रहा है। यहां अदालत में उसकी रिमांड के लिए अर्जी दी जायेगी। रिमांड मिलने पर रमेश से विस्तृत पूछताछ की जायेगी। उल्लेखनीय है कि रमेश के बारे में जानकारी पिछले दिनों गोरखपुर से 24 मार्च को गिरफ्तार किये गये छह संदिग्ध आतंकियों से मिली थी। पकड़े गये छह संदिग्ध पाकिस्तानी हैंडलर के निर्देश पर विदेश से अपने बैंक खातों में पैसे मंगवाते थे। पूछताछ में पता चला था कि इनका मास्टरमाइंड बिहार का गोपालगंज निवासी रमेश शाह है। तभी से एटीएस उसकी तलाश में लगी थी। रमेश को इंटरनेट कॉल के माध्यम से पता चलता था कि पैसा आ गया है इसके बाद रमेश के कहने पर मुकेश नामक अभियुक्त खाताधारकों को फोन करके पैसा आने की पुष्टि करता था और खाताधारकों को उनका हिस्सा देकर बाकी पैसा निकलवा लेता था, जो रमेश के ही बताये हुए लोगों को वितरित किया जाता था।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

तलाक के बाद भी पत्नी को घर में कैद रखने वाला गिरफ्तार

बरेली : तलाक देने के बाद पत्नी रजिया को घर में कैद रख कर जुल्म ढहाने वाले नईम को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मुहल्ला कटघर के नईम से रजिया की शादी 13 साल पहले हुई थी। [Read more...]

श्रेय लेने की होड़ : एक्सप्रेसवे हमारी सरकार की परियोजना : अखिलेश

लखनऊ : चुनावी साल में पूर्वांचल एक्सप्रेस का श्रेय लेने की होड़ के बीच समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को यहां पत्रकारों से दावा किया कि लखनऊ से गाजीपुर के बीच बनने वाला एक्सप्रेसवे उनकी सरकार की [Read more...]

मुख्य समाचार

अफगान में आत्मघाती हमला, 7 मरे, 15 जख्मी

काबुलः अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में रविवार की शाम शाम करीब 4.30 बजे ग्रामीण पुनर्वास और विकास मंत्रालय के गेट के बाहर एक हमलावर ने खुद को विस्फोटक से उड़ा लिया। इस आत्मघाती हमले में आम लोग एवं सुरक्षाकर्मी समेत [Read more...]

भगवान जगन्नाथ का रथ गुंडिचा मंदिर पहुंचा

पुरीः भगवान जगन्नाथ का ‘नंदीघोष’ रथ रविवार को गुंडिचा मंदिर पहुंच गया। रथ यात्रा के दौरान शनिवार को बालागंडी चक पर इस रथ को रोकना पड़ा और उस दिन रथयात्रा पूरी नहीं हुई क्योंकि सूर्यास्त के बाद रथों को नहीं [Read more...]

ऊपर