मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता में शर्त रखे जाने के विरोध में हंगामा

पटनाः बिहार विधान परिषद में भाजपा सदस्यों ने बेरोजगारों को दिये जाने वाले मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता में शर्त रखे जाने के विरोध में भारी शोरगुल और नारेबाजी की, जिसके कारण परिषद की कार्यवाही भोजनावकाश के लिए निर्धारित समय से पूर्व ही स्थगित कर दी गयी। सभापति अवधेश नारायण सिंह के आसन ग्रहण करते ही भाजपा के रजनीश कुमार ने कहा कि उन्होंने स्वयं सहायता भत्ता के मामले में कार्यस्थगन की सूचना दी है। उन्होंने कहा कि बिहार में लाखों बेरोजगार युवक हैं जो इंटर मीडियेट पास हैं। राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता योजना के तहत राज्य के 20 से 25 वर्ष के इंटर पास बेरोजगार युवाओं को रोजगार तलाशने के दौरान सहायता राशि के तौर पर एक हजार रुपये प्रतिमाह की दर से दो वर्षों का प्रावधान किया है। लेकिन इंटर से अधिक शिक्षा प्राप्त स्नातक, स्नातकोत्तर, पॉलीटेक्निक तथा विभिन्न तकनीकी विषयों में उत्तीर्ण अन्य बेरोजगार युवकों को इस योजना से वंचित रखा गया है। राज्य सरकार इस योजना के लाभ से वंचित उच्च शिक्षा प्राप्त युवकों को भी इसमें शामिल करे। उनके इतना कहते ही भाजपा के सदस्य अपनी-अपनी सीटों के समक्ष खड़े होकर जोर-जोर से बोलने लगे। इसी दौरान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के समय सरकार ने कहा था कि सभी बेरोजगार युवकों को भत्ता दिया जायेगा, लेकिन अब सरकार कह रही है कि केवल इंटर पास करने के बाद जिन्होंने पढ़ाई छोड़ दी है उसी को भत्ता मिलेगा। अभी तक 23 हजार लोगों को बेरोजगारी भत्ता मिला है। इस पर सभापति ने परिषद की कार्य संचालन नियमावली का हवाला देते हुए कार्यस्थगन को नामंजूर कर दिया। इसके बाद भाजपा सदस्य अपनी-अपनी सीट पर शांत होकर बैठ गये।

एसडीपीओ पर कार्रवाई की मांग पर विधान सभा में हंगामा

पटना ः बिहार विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के सदस्यों ने सोमवार को पूर्वी चंपारण जिले के पकड़ी दयाल के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी (एसडीपीओ) विजय कुमार पर अपराधियों से सांठ-गांठ का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए जोरदार हंगामा किया। विधानसभा में भाजपा के राणा रणधीर के तारांकित प्रश्न के उत्तर के दौरान पकड़ी दयाल के एसडीपीओ पर कार्रवाई की मांग पर प्रभारी गृह मंत्री विजेंद्र प्रसाद यादव ने तल्ख लहजे में कहा कि सरकार ऐसा नहीं करेगी। इससे उत्तेजित भाजपा के सदस्यों ने अपनी सीट से ही शोरगुल और नारेबाजी शुरू कर दी। भाजपा के राणा रणधीर ने कहा कि 18 जनवरी 2017 को पकड़ी दयाल में अपराधियों ने एके 47 से फायरिंग की, जिसमें नगर पंचायत उपाध्यक्ष समेत तीन लोगों की मौत हो गयी। इस मामले के अनुसंधानकर्ता पकड़ी दयाल के एसडीपीओ की अपराधियों से सांठ-गांठ है और इस कारण असली अपराधी को अब तक नहीं पकड़ा गया है। यही कारण है कि अभी भी वहां व्यवसायी को अपराधियों की ओर से रंगदारी नहीं देने पर गोली मारने की धमकी दी जा रही है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

ट्रेनी महिला पुलिस आरक्षियों ने किया खुलासा : अश्लील बातें और शारीरिक संबंध बनाने के लिए बाध्य किया जाता था

पटना : पुलिस लाइन में हुए उपद्रव मामले में पटना के जोनल आईजी एनएच खां ने शुक्रवार को पुलिस मुख्यालय को रिपोर्ट सौंप दी है। सूत्रों के मुताबिक कई अधिकारी जांच के घेरे में हैं। मामला हाईप्रोफाइल होने के चलते [Read more...]

गया से गायब हुए तेजप्रताप, इंतजार करती रही ऐश्वर्या

पटना : लालू के लाल इन दिनों चर्चा का विषय बने हुए हैं। अपने पिता से सांची में मुलाकात के बाद तेजप्रताप बोधगया के एक होटल से अचानक गायब हो गए और उनके सुरक्षाकर्मियों को भनक तक नहीं लगी। जानकारी [Read more...]

मुख्य समाचार

2 मोटरसा​इकिलों की टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल, 4 की हालत गंभीर

जामुड़िया : केंदा फांड़ी अंतर्गत तपसी के भूत बांग्ला के पास तेज गति से आ रही 2 मोटर साइकिलों में आमने-सामने हुई टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल हो गये जिसमें 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही [Read more...]

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

ऊपर