सोशल मीडिया पर अनाप-शनाप पोस्ट किया तो नहीं होगी खैर

विशेष नजर रख रही है पुलिस
बर्दवान में 1 साइबर कैफे  को सील किया गया
….ताकि सांप्रदायिक तनाव व अफवाहें न फैल पाएं

कोलकाता : कभी विभिन्न प्रकार की अफवाहें तो कभी सांप्रदायिक तनाव। सोशल मीडिया पर जितनी तेजी से अच्छी चीजें फैलती हैं उतनी ही तेजी से नकारात्मक बातें भी सोशल मीडिया के माध्यम से फैलायी जाती हैं। पिछले कुछ दिनों में राज्य भर में विभिन्न प्रकार की अफवाहें फैलाये जाने का मामला सामने आ रहा है। कहीं बच्चा चोरी तो कहीं छेड़छाड़ और कहीं किसी आतंकवादी के घुसने जैसी अफवाहें फैलायी जा रही हैं। इसके अलावा सांप्रदायिक तनाव भी फैलायी जाने की कोशिशें की जा रही हैं और सभी चीजें फैलाने का केवल एक ही माध्यम है सोशल मीडिया। पुलिस सूत्रों के अनुसार, सोशल मीडिया से लोग गलत-गलत अफवाहें व सांप्रदायिक चीजें फैलाने की कोशिश कर रहे हैं जिससे पुलिस भी काफी सख्त हो गयी है। सोशल मीडिया पर कुछ अनाप-शनाप पोस्ट करने वालों और सांप्रदायिक चीजें फैलाने वालों की अब खैर नहीं होगी। अब पुलिस की नजर राज्य के सभी सोशल मीडिया अकाउंटों पर है। इसके अलावा राज्य के विभिन्न साइबर कैफे पर पुलिस की ओर से तलाशी अभियान भी चलाये जा रहे हैं।

4 साइबर कैफे मालिकों को शो कॉज

पुलिस के अनुसार, राज्य के 4 साइबर कैफे मालिकों को शो कॉज किया गया है। इसके अलावा बर्दवान में 1 साइबर कैफे को सील भी कर दिया गया है। उक्त साइबर कैफे पर नियम न मानते हुए कैफे चलाने का आरोप है। पुलिस के अनुसार, पिछले कुछ समय से सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात रखने का मामला काफी चलन में आया है, लेकिन कुछ लोग इसका गलत फायदा उठा रहे हैं और सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल कर सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश कर रहे हैं।

नकली अकाउंट बनाकर फैलायी जा रही हैं अफवाहें

कुछ लोग नकली अकाउंट बनाकर सांप्रदायिक चीजें व विभिन्न अफवाहें फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे सोशल अकाउंटों पर भी पुलिस की पैनी नजर है। पुलिस ने बताया कि ऐसे लोगों को जल्द ही गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस का अभियान रहेगा जारी

पुलिस सूत्रों के अनुसार, आगे भी पुलिस का अभियान जारी रहेगा। सोशल मीडिया के माध्यम से नकारात्मक बातें फैलाने वालों के खिलाफ पुलिस कड़े कदम उठायेगी। पुलिस सूत्रों के अनुसार, गत सोमवार को एक व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया पर कुछ ‘आपत्तिजनक’ पोस्ट किये गये थे जिसके बाद उक्त व्यक्ति को थाना में बुलाकर उससे पोस्ट डिलिट करवाया गया था।

क्या कहना है राज्य के एडीजी (लॉ एण्ड ऑर्डर)  अनुज शर्मा का

जिस प्रकार राज्य में गलत अफवाहें फैलायी जा रही हैं, उसे देखते हुए पुलिस की ओर से लोगों के सोशल मीडिया अकाउंटों पर नजर रखी जा रही है। लोगों के सोशल मीडिया अकाउंटों को भी खंगाला जा रहा है। अफवाहें फैलाये जाने वालों पर पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर रखी जाएगी निगरानी – पार्थ

कोलकाता : सोमवार को विधानसभा में प्रश्नोत्तर काल के दौरान राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने ​कांग्रेस विधायक असित मित्रा के सवालों का जवाब देते हुए कहा ​कि राज्य के अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर निगरानी रखने के लिए राज्य [Read more...]

नायडू मिले ममता से, हुई विपक्षी एकता पर बात

कोलकाता : लोकसभा चुनाव में भाजपा को शिकस्त देने के लिए विपक्ष एक बार फिर सक्रिय हो गया है। इस कड़ी में सोमवार को आंधप्रदेश के मुख्यमंत्री व टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मिलें। [Read more...]

मुख्य समाचार

अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर रखी जाएगी निगरानी – पार्थ

कोलकाता : सोमवार को विधानसभा में प्रश्नोत्तर काल के दौरान राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने ​कांग्रेस विधायक असित मित्रा के सवालों का जवाब देते हुए कहा ​कि राज्य के अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर निगरानी रखने के लिए राज्य [Read more...]

नायडू मिले ममता से, हुई विपक्षी एकता पर बात

कोलकाता : लोकसभा चुनाव में भाजपा को शिकस्त देने के लिए विपक्ष एक बार फिर सक्रिय हो गया है। इस कड़ी में सोमवार को आंधप्रदेश के मुख्यमंत्री व टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मिलें। [Read more...]

ऊपर