विरोधियों के नाटक का जवाब जल्द ही जनता फिर देगी : फिरहाद

जगदल : प्रत्येक चुनाव के दौरान विरोधी अन्याय का आरोप लगाया निर्वाचन कमिशन के सामने गुहार लगाने पहुंच जाते हैं। यह साफ हो जाता है कि उनका नाटक यहां नहीं चलने वाला मगर जो सिर्फ ओछी राजनीतिक करना जानते हैं वे इससे बाज नहीं आते। यह बातें राज्य के शहरी विकास व नगरपालिका मामलों के मंत्री फिरहाद हकीम ने विरोधियों को आंड़े हाथों लेते हुए कही। उन्होंने कहा कि इस बार भी उनके हिंसा का शिकार तृणमूल कर्मी को ही बनना पड़ा है और बावजूद इसके विरोधी ढाेंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके इस मिथ्या प्रचार का भी जवाब जल्द ही चुनाव परिणाम में जनता दे देगी। सच तो यही है कि तृणमूल परिचालित नगरपालिकाओं में विकास हो रहा है और जनता विकास की सरकार तृणमूल को ही चुनेगी। उन्होंने इसदिन कांकीनाड़ा में नव निर्मित कांकीनाड़ा ओवर ब्रिज का उद्घाटन किया। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि रेल के काफी कर बाकी है मगर बार-बार कहे जाने पर भी वह कर नहीं मिल रहा इससे कई काम अवरुद्ध होते हैं अतः जल्द ही हम इस बाबत रेल के साथ बैठकर बातचीत करेंगे। मौके पर विधायक अर्जुन सिंह सहित बैरकपुर के कई तृणमूल नेता व कर्मियों की उपस्थिति रही।

Leave a Comment

अन्य समाचार

‘गणपति बप्‍पा माेरया’ के नारों से गूंजे महानगर व उपनगर

कोलकाता : हर बार की तुलना में इस बार महानगर समेत उपनगरों में गणेश पूजा का उत्साह काफी अधिक देखने को मिल रहा है। गुरुवार से शुरू गणेश चतुर्थी की धूम विभिन्न स्थानों पर देखने को मिली। ‘गणपति बप्पा मोरया’ [Read more...]

सात राज्यों में भूकंप के झटके, सबसे ज्यादा तीव्रता असम में

नई दिल्लीः देश के सात राज्यों में बुधवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। सबसे पहले सुबह 5:15 बजे कश्मीर में फिर 5.47 बजे हरियाणा और इसके बाद करीब 10:25 बजे असम, नगालैंड, मणिपुर, पश्चिम बंगाल और बिहार में [Read more...]

मुख्य समाचार

ब्रिटिश गोताखोर ने एलन मस्क पर किया मानहानि मुकदमा

कैलिफोर्नियाः थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने वाले ब्रिटिश गोताखोर वर्नोन अनस्वोर्थ ने अब इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क के खिलाफ 75,000 डॉलर (54 लाख 40 हजार रुपए) का मानहानि का मुकदमा किया है। अनस्वोर्थ [Read more...]

पूर्व सीएफओ से केस हारी इंफोसिस, अब ब्याज सहित देने होंगे 12.17 करोड़

नई दिल्लीः भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस मंगलवार को आर्बिट्रेशन केस हार गई है। अब उसे पूर्व सीएफओ राजीव बंसल को 12.17 करोड़ रुपये और ब्याज चुकाने होंगे। दरअसल, इंफोसिस के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्‍का के कार्यकाल [Read more...]

ऊपर