बड़ाबाजार में जान हथेली पर रखकर रहते हैं किरायेदार

कोलकाता : कहा जाता है कि जिंदगी एक सर्कस का मैदान है जहां मौत के साथ अक्सर आंख-मिचौली खेलते हुए सर्कस के लोगों को देखा जाता है। ऐसा ही कुछ मंजर बड़ाबाजार के जर्जर मकान में देखने को मिलता है जहां रहने वाले किरायेदार जान हथेली पर रखकर अपना आशियाना बनाए हुए हैं। मानसून के आगमन के साथ ही जर्जर मकानों के गिरने का भी खतरा बढ़ जाता है यह जानते हुए भी लोग उन मकानों में रह रहे हैं। यह कोई नई बात नहीं है कि जर्जर मकान का हिस्सा गिरता है और जानें जाती हैं। कोलकाता नगर निगम की तरफ से प्रयास जारी है लोगों की जीवन की रक्षा के लिए मगर चाह कर भी निगम के हाथ भी बंधे हुए हैं।
किरायेदारों का आरोप, मकानमालिक हैं उदासीन
हेमन्त कुमार का कहना है कि हमलोग अपने मकान की मरम्मत करवाने के लिए तैयार हैं मगर मकान मालिक बिल्कुल उदासीन बने हुए हैं। मकान मालिक मरम्मत नहीं करवाता और कोलकाता नगर निगम ने नोटिस बोर्ड लगा दी कि यह मकान कभी भी टूट सकता है। हमलोग यहां पर 20 सालों से रह रहे हैं हर रोज दिल में एक डर बना रहता है कि मकान का हिस्सा गिर सकता है और हमारी जान जा सकती है। ऐसे में मकान मालिक से बात भी की गयी मगर हाथ कुछ नहीं लगा। हम ज्यादा भाड़ा भी देंगे मगर पहले मरम्मत तो हो। विवेक पाठक का कहना है कि हम लोग कई सालों से हैं मगर यह मकान ऐसे ही है। रहने के लिए दूसरी जगह नहीं है ऐसे में हम यहीं रहने को मजबूर हैं। रेशमी शर्मा का कहना है कि हमलोग यहां बहुत लंबे समय से हैं। जिस तरह से कोलकाता नगर निगम और मकान-मालिक जर्जर मकानों की तरफ उदासीन बने हुए हैं उससे ऐसा लगता है कि चाहे कुछ भी हो मरम्मत नहीं करवाया जाएगा और हम अगर मकान छोड़ेंगे तो जाएंगे कहां।
मकान मालिक चाहते हैं किराया बढ़ाना मगर बात बनती ही नहीं
इधर जर्जर मकानों को लेकर कई मकान के मालिक ऐसे भी हैं जो भाड़ा तो बढ़ाना चाहते हैं मगर किरायेदारों के साथ उनकी बात ही नहीं बन पाती है। विश्वजीत विश्वास नामक एक मकान के मालिक का कहना है कि सालों से हमें किराये के नाम पर 12 से 15 रुपये प्रति महीने मिलते हैं। आज एक सिगरेट की कीमत भी इससे कहीं अधिक है। ऐसे में मकान की मरम्मत का सवाल ही नहीं उठता है। मजबूर होकर हमने भी हाथ खड़े कर दिए हैं।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

डेंगू से हावड़ा में एक और की मौत

हावड़ाः डेंगू के कारण हावड़ा में एक और मौत हो गयी। इस साल डेंगू के कारण हावड़ा में यह दूसरी मौत का मामला है। मृतका का नाम नेहा मेहतो है। वह हनुमान बालिका विद्यालय की कक्षा 12वीं की छात्रा थी। [Read more...]

इटली के उद्योगपतियों को बंगाल में निवेश का दिया न्योता

इटली और भारत को बताया स्वीट सिस्टर्स इटली : बंगाल में निवेश का माहौल है। सरकार निवेशकों को हर सुविधा देने के लिए तत्पर है। आइए और बंगाल में निवेश कीजिए यहां आपकाे अवसर मिलेगा। इटली के मिलान में आयोजित मिलान [Read more...]

मुख्य समाचार

डेंगू से हावड़ा में एक और की मौत

हावड़ाः डेंगू के कारण हावड़ा में एक और मौत हो गयी। इस साल डेंगू के कारण हावड़ा में यह दूसरी मौत का मामला है। मृतका का नाम नेहा मेहतो है। वह हनुमान बालिका विद्यालय की कक्षा 12वीं की छात्रा थी। [Read more...]

इटली के उद्योगपतियों को बंगाल में निवेश का दिया न्योता

इटली और भारत को बताया स्वीट सिस्टर्स इटली : बंगाल में निवेश का माहौल है। सरकार निवेशकों को हर सुविधा देने के लिए तत्पर है। आइए और बंगाल में निवेश कीजिए यहां आपकाे अवसर मिलेगा। इटली के मिलान में आयोजित मिलान [Read more...]

ऊपर