पुरी पहुंच कर भगवान जगन्नाथ का दर्शन किया ममता ने

पुरी / कोलकाता : पुरी मन्दिर में कुछ सेवायतों द्वारा विरोध करने के बावजूद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कड़ी सुरक्षा के बीच बुधवार की शाम भगवान जगन्नाथ के दर्शन किये। मंदिर परिसर में घुसते ही सीएम ने सबसे पहले भगवान जगन्नाथ की पूजा की। पूजा अर्चना करने के बाद बाहर निकलकर खुशी जाहिर करते हुए सीएम ने कहा कि मैंने भगवान से सबक मंगल हो, ऐसी कामना की है। सभी खुशी व शांति से रहें यही प्रार्थना की है। इधर, वे जब मंदिर में थीं तब बाहर कुछ लोगों द्वारा गो बैक का भी नारा लगा। हालांकि सीएम ने कहा कि मंदिर में पूजा के अलावा और किसी विषय पर बात नहीं करना चाहती हैं। दूसरी तरफ भारी संख्या में दीदी के समर्थकों ने उन्हें वेल्कम भी कहा।
इधर, जगन्नाथ द्वैतपति ने सन्मार्ग को बताया कि ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी तृणमूल कोंग्रेस के नाम पर पूजा कर 501 रुपये दक्षिणा दीं। सीएम के साथ आयी अभिषेक बनर्जी की मां ने अपने बेटे के नाम की पूजा की। जगन्नाथ के दर्शन के बाद ममता बनर्जी ने गरुण स्तम्भ पर माथा टेका।
वहां से श्री बट गणेश मंदिर में प्रार्थना कर ब्रह्मा गादी मुक्तिमंडप पहुचीं। पूरे मंदिर परिसर का चक्कर काटते हुए सीएम ने श्री बिमला मन्दिर, श्री साक्षी गोपाल मन्दिर, श्री कांचीगणेश, खिरचोरा गोपीनाथ, श्री भुवनेश्वरी मंदिर, निलमहादेव मंदिर, महालक्ष्मी मंदिर और सूर्य मंदिर में पूजा कर मंदिर की ध्वजा के सामने सिर टेका। इस दौरान सीएम ने मंदिर के भीतर भजन गा रहे पंडों से बात कर उनका हाल जाना।
उधर, मंदिर के सेवायतों के दल ने ममता बनर्जी का स्वागत करते हुए कहा कि दीदी हम आपके साथ हैं। उधर ममता बनर्जी जैसे ही मन्दिर में जाने के लिए अपनी गाड़ी से उतरीं, तभी कथित तौर पर भाजपा व बजरंग दल के समर्थकों ने काला झंडा दिखाकर विरोध जताया। ममता गो बैक का नारा लगाते हुए उन्होंने ममता के पुरी मंदिर में पूजा करने पर विरोध किया। हालांकि ओडिशा पुलिस ने सीएम की सुरक्षा को देखते हुए रूपेश नायक और आनंद राम नामक दोनों युवकों को हिरासत में ले लिया। इसके पहले भी पुलिस ने सोमनाथ खुंटिया नामक सेवायत को हिरासत में रखा है। जानकारी के अनुसार पुरी मंदिर में करीब 1400 सेवायत हैं जिनमें से करीब 400 सेवायत ममता बनर्जी द्वारा खानपान को लेकर आपत्तिजनक बयान देने की वजह से उनका विरोध कर रहे हैं। मंदिर के एक अन्य सेवायत ने बताया कि कुछ सेवायत हैं वह किसी न किसी राजनीतिक पार्टी से जुड़े हुए हैं। उन्हीं में कुछ हैं जो भाजपा से जुड़े हैं, जिससे प्रभावित होकर ही वह ममता बनर्जी का विरोध कर रहे हैं। पुरी के विभिन्न इलाकों में ममता बनर्जी का विरोध करते हुए गो बैक लिखा गया है जबकि मंदिर में बंगाल से आये सैकड़ों दर्शनार्थी ने ममता का स्वागत करते हुए वेल्कम दीदी का नारा लगाया।
पार्टी नेताओं से मिलीं ममता बनर्जी
एक ओर जहां ओडिशा में बीजेपी अपनी स्थिति मजबूत बनाने में जुट गयी है वहीं आल इंडिया तृणमूल कांग्रेस भी यहाँ अपनी जमीन मजबूत करने में किसी से पीछे नहीं है। बुधवार को पुरी में पार्टी नेताओं से मिलीं ममता बनर्जी ने नेताओं को अभी से ही इसकी तैयारी में जुटने का निर्देश दिया है। अगले साल होने वाले ओडिशा निकाय चुनाव में तृणमूल यहां उम्मीदवार उतारेगी ताकि भाजपा को शिकस्त दी जा सके। पार्टी नेताओं को ममता बनर्जी ने निर्देश दिया है कि वह ब्लॉक स्तर पर तृणमूल का प्रचार करें। साथ ही बीजेपी के विरोध में डट कर मुकाबला करें।

आज पटनायक से मिलेंगी ममता

भुवनेश्वर/ कोलकाता : बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज गुरुवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मुलाकात करेंगी। सूत्रों के अनुसार आज दोपहर दोनों मुख्यमंत्रियों के बीच मुलाकात होगी। बैठक के बाद ममता बनर्जी कोलकाता के लिए रवाना होगी तथा देर शाम कोलकाता पहुचेंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवीन जी से मिलने की इच्छा है। मौका मिला तो जरूर मिलूंगी।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

रथयात्रा के दौरान पुरी को ‘उड़ान वर्जित क्षेत्र’ घोषित करने का विचार

भुवनेश्वरः पुरी में 14 जुलाई से शुरू होने वाली भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा को लेकर ओडिशा के डीजीपी आरपी शर्मा की अध्यक्षता में मंगलवार हुई समन्वय बैठक में यह फैसला लिया गया कि उत्सव के दौरान पुरी और उसके आसपास [Read more...]

ममता ने दिया आशा को बंग विभूषण सम्मान

आशा ने कहा-बहुत कुछ बदला है कोलकाता में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश की जानीमानी गायिका आशा भोसले को राज्य का सर्वोच्च सम्मान बंग विभूषण से सम्मनित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने आशा के साथ लता जी को [Read more...]

मुख्य समाचार

संवाद एजेंसी के कार्यालय में तोड़फोड़

श्रीनगरः उच्च सुरक्षा वाले क्षेत्र 3-एक्सचेंज रोड स्थित भारत की संवाद समिति यूएनआई के कार्यालय में शनिवार-रविवार की दरम्यानी रात अज्ञात बदमाशों ने कई कमरों और कुछ दराजों के ताले तोड़ दिये, फाइलें और दस्तावेज भी खोले। हालांकि घटना की [Read more...]

सिग्नेचर ब्रिज के ग्लास बॉक्स से होगा शहर का दीदार

नयी दिल्लीः यमुना पर बने बहुप्रतीक्षित सिग्नेचर ब्रिज को 31 अक्टूबर तक लोगों के लिए खोला जाएगा। पर्यटकों के लिए यह आकर्षण का केंद्र होगा। इस पुल पर 154 मीटर की ऊंचाई पर एक ग्लास बॉक्स होगा जिससे शहर का [Read more...]

ऊपर