देश में शान्ति और सौहार्द्र बनाये रखने की जरूरत : ममता

नयी दिल्ली : महात्मा गांधी अहिंसा के पक्षधर थे, उनके विचार और आदर्शों को आज भी जिंदा रखने के लिए जरूरी है कि देश मे शांति और सौहार्द्र बना रहे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राष्ट्रपति भवन में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती मनाने के लिए बनी कमेटी के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक में राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के समक्ष अपना सुझाव रखा। बैठक के बाद ममता ने संवाददाताओं को बताया कि सभी मुख्यमंत्री ने अपने अपने सुझाव दिये। किसी ने गांधी जी के नाम पर विश्वविद्यालय बनाने का प्रस्ताव दिया तो किसी की तरफ से यूनाइटेड नेशन में एक सेमिनार आयोजित करने का सुझाव दिया। इस बीच मैंने भी अपने विचारों को व्यक्त किया और कहा कि आगामी दिनों में शान्ति बनाने की जरूरत है। इस बैठक में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, अमित शाह, लाल कृष्ण आडवाणी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत अन्य वरिष्ठ नेता शामिल थे। इस बैठक में कांग्रेस की ओर से सोनिया गांधी या राहुल गांधी नहीं पहुंचे थे। कांग्रेस का प्रतिनिधित्व गुलाब नबी आजाद ने किया। ममता ने बताया कि राष्ट्रपति ने सभी से अपील की है कि गांधी जी के आदर्शो और फिलॉसफी को राजनीतिक दलों की और से लोगों तक पहुंचने में आगे बढ़े।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अब जीन बतायेंगे कब तक है आपकी जिंदगी!

लंदन : शोधकर्ताओं ने जीवन की अवधि पता लगाने के लिये जीन आधारित एक स्कोरिंग सिस्टम विकसित किया है। वैसे तो एन्ड्रॉइड मोबाइल पर और सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कई एप है जाे आपकी जिन्दगी कितनी है, आपकी मृत्यु कब [Read more...]

वरमाला के समय दुल्हन के पैर में लगी गोली, अगली सुबह लिए फेरे

नयी दिल्ली : मकर संक्राति के साथ ही खरमास की समाप्‍ति हाे जाती है तथा शुभ कार्य शुरु हो जाते है। अभी जोर शोर से शादी विवाह का मौसम चल रहा है। पर खुशियाें कभी कभी परेशानी का सबब बन [Read more...]

मुख्य समाचार

अब जीन बतायेंगे कब तक है आपकी जिंदगी!

लंदन : शोधकर्ताओं ने जीवन की अवधि पता लगाने के लिये जीन आधारित एक स्कोरिंग सिस्टम विकसित किया है। वैसे तो एन्ड्रॉइड मोबाइल पर और सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कई एप है जाे आपकी जिन्दगी कितनी है, आपकी मृत्यु कब [Read more...]

वरमाला के समय दुल्हन के पैर में लगी गोली, अगली सुबह लिए फेरे

नयी दिल्ली : मकर संक्राति के साथ ही खरमास की समाप्‍ति हाे जाती है तथा शुभ कार्य शुरु हो जाते है। अभी जोर शोर से शादी विवाह का मौसम चल रहा है। पर खुशियाें कभी कभी परेशानी का सबब बन [Read more...]

ऊपर