जादवपुर के बंगाल लैंप फैक्ट्री इलाके में डेंगू का कहर

घर छोड़कर लोग कर रहे हैं पलायन

मधुर चतुर्वेदी

कोलकाता : जादवपुर के बंगाल लैंप फैक्ट्री इलाके में स्थित आजमगढ़ बस्ती में डेंगू का कहर कायम है। आलम यह है कि दो लोगों की मौत के बाद इलाके के लोग घर छोड़ कर अपने-अपने गांव जा रहे हैं। वहीं कुछ लोग जाने की तैयारी में हैं। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि डेंगू के कारण सभी लोग सहमे से हैं। ऐसे में डेंगू के नियंत्रण होने पर ही फिर से वापस लौटेंगे। डेंगू के कारण यहां के लोगों में आतंक का माहौल व्याप्त है। ज्ञात हो कि बस्ती इलाके में गत 4 दिनों में दो लोगों की डेंगू से मौत हो गई।

2 दर्जन डेंगू की चपेट मेंः

इस इलाके में 20 से अधिक लोग इस बीमारी से ग्रसित हैं। जिन दो लोगों की डेंगू से मौत हुई उनमें से एक का नाम विनोद चौधरी (43) है। विनोद के संबंधियों ने बताया कि गत सप्ताह गुरुवार को विनोद की तबीयत अचानक खराब हो गई। एक डॉक्टर के परामर्श पर उसके रक्त की जांच करवायी जहां उसमें एनएस1 पॉजिटिव पाया गया। शुक्रवार को उसे एम. आर. बांगुर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां रविवार के दिन उसकी मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने बताया कि विनोद काफी विनम्र स्वभाव का व्यक्ति था। एक लंबे समय से वह जादवपुर की इस बस्ती में कपड़ा प्रेस करने का कार्य करता था। विनोद यहां अकेले ही रहता था। रविवार को उसकी मौत के बाद उसके परिजन उसकी अस्थियों को लेकर बिहार चले गए। इस बीमारी से दूसरी मौत दिशा बर्मन (28) नामक एक महिला की हुई है। दिशा जो रांची में अपने पति राजेश बर्मन के साथ रहती थी, दुर्गापूजा और छठ पूजा त्योहार को अपने परिवार के साथ मनाने के लिए अपने मायके आयी थी। सोमवार को दिशा की तबीयत अचानक खराब हो जाने के कारण एक स्थानीय केएमसी क्लिनिक में उसे भर्ती कराया जहां वह एनएस 1 पॉजिटिव पाया गया। दिशा के परिजनों ने उसे फौरन केपीसी मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भर्ती कराया जहां, बुधवार को उसकी मौत हो गई। दिशा के पति राजेश ने बताया कि बार-बार शिकायत करने पर भी केएमसी की तरफ से इलाके की कभी सफाई नहीं की गई। दिन -प्रति दिन इलाके में कचरों का अंबार बढ़ता जा रहा है। अधिकारियों से इस बात की शिकायत करने पर भी उन्होंने कभी भी इस बात की सुध नहीं ली।

बेटी की मौत से सदमे में मांः

बेटी की मौत से आहत दिशा की मां का रोते बिलखते बुरा हाल है। उन्होंने आरोप लगाया कि अगर केएमसी के अधिकारियों ने समय पर एहतियात बरता होता और इलाके में नियमित साफ- सफाई की गयी होती तो, आज उनकी बेटी की डेंगू से मौत नहीं होती। दिशा अपने पीछे एक चार वर्षीय बेटी और एक 2 महीने के बच्चे को छोड़ गई हैं।डेंगू से हुई इन 2 मौतों के बाद इलाके के लोगों में काफी आक्रोश है। एक स्थानीय व्यक्ति ने बताया कि इन दो मौतों के पहले तक केएमसी की तरफ से कभी भी किसी अधिकारी ने इलाके के हालात के बारे में नहीं जानना चाहा। लोगों की जान जाने के बाद केएमसी के कर्मी इलाके की साफ-सफाई करने में जुट गए हैं। एक और व्यक्ति ने कहा कि इलाके में विगत 10 वर्षों से कभी भी साफ-सफाई नहीं की गई। चुनाव के दौरान लोग आकर बड़े- बड़े वादे करते हैं और फिर अगले चुनाव में उन्ही वादों को दोहरा कर गायब हो जाते हैं। वहीं डेंगू से अब तक महानगर में कुल 15 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। केएमसी के अधिकारी जहां एक तरफ दावा कर रहे हैं कि महानगर के हर इलाके में साफ-सफाई की जा रही है, वहीं इस बीमारी से ग्रसित लोगों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी इन खोखले दावों का पोल खोल रही है। अब देखना यह है कि प्रशासन की कब नींद खुलती है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका का ट्रेलर हुआ जारी

मुंबई : कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी की इन दिनों लगातार चर्चाएं हो ही रही है। हाल ही में कंगना का एक लुक सामने आया था जिसमें वो सिंहासन पर बैठी हुई नजर [Read more...]

लोकसभा में हंगामे से नाराज सुमित्रा महाजन ने कहा – ‘हम स्कूली बच्चों से भी गए-गुजरे हैं’

नयी दिल्ली : संसद के शीतकालीन सत्र में पांच दिनों से विभिन्न मुद्दों पर चल रहे हंगामें तथा मंगलवार को भाजपा, कांग्रेस, एआईएडीएमके, टीडीपी सदस्यों के शोर शराबे से नाराज लोकसभा [Read more...]

मुख्य समाचार

कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका का ट्रेलर हुआ जारी

मुंबई : कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी की इन दिनों लगातार चर्चाएं हो ही रही है। हाल ही में कंगना का एक लुक सामने आया था जिसमें वो सिंहासन पर बैठी हुई नजर [Read more...]

लोकसभा में हंगामे से नाराज सुमित्रा महाजन ने कहा – ‘हम स्कूली बच्चों से भी गए-गुजरे हैं’

नयी दिल्ली : संसद के शीतकालीन सत्र में पांच दिनों से विभिन्न मुद्दों पर चल रहे हंगामें तथा मंगलवार को भाजपा, कांग्रेस, एआईएडीएमके, टीडीपी सदस्यों के शोर शराबे से नाराज लोकसभा [Read more...]

ऊपर