गरीबों की थाली से किसने छीना निवाला ?

भाजपा का ट्रेडर्स सेल हुआ सख्तः केंद्र सरकार को बदनाम कर रहे हैं कुछ होटल व्यवसायी

कोलकाता : आखिर गरीबों की थाली से कौन छीन रहा है निवाला ? केंद्र सरकार द्वारा जीएसटी लागू करने के समय साफ तौर पर कहा गया था कि जीएसटी से किसी गरीब पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा और ना ही चीजों के दाम महंगे होंगे। हालांकि कुछ होटल कारोबारी केंद्र सरकार की इस बात काे झूठा साबित करने और केंद्र को बदनाम करने में जुटे हुए हैं। यह होटल कारोबारी जीएसटी के नाम पर एक तरह से लोगों को लूटने का काम कर रहे हैं। ऐसे अधिकतर होटल बड़ाबाजार में ही स्थित हैं जिनके नाम शुरू तो होते हैं किसी भगवान के नाम से लेकिन यह होटल भगवान के नाम पर भी लोगों को लूटने का काम कर रहे हैं। आटा पर कोई जीएसटी लागू न होने के बावजूद रोटी की कीमत लगभग 20 फीसदी बढ़ा दी गयी। इसके अलावा सब्जियों की कीमत भी बढ़ा दी गयी है जिससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है। बड़ाबाजार में​ स्थित इन होटलों में अधिकतर वहां काम करने वाले मध्यमवर्गीय लोग ही खाना खाने आते हैं। यह होटल खाने की कोई पक्की रसीद भी ग्राहकों को नहीं देते जिससे यह समझ में नहीं आता जीएसटी के रुपये ​उनसे वसूले गये या फिर उन्हें जीएसटी के नाम पर लूटने का काम किया गया। खाना खाने के बाद जब सादे कागज में ग्राहकों को बिल थमाया जाता है तो ग्राहक यह तय नहीं कर पाते कि एक सप्ताह पहले जो रुपये लिये जाते थे, अचानक उनके दाम में इतनी वृद्धि क्यों हो गयी ? अगर कोई ग्राहक गलती से दाम बढ़ने का कारण पूछ ले तो उन्हें यह कहकर टाल दिया जाता है कि जीएसटी के कारण खाने की कीमत में बढ़ोतरी हुई है। गौर करने वाली बात यह है कि अधिकतर बड़ाबाजार के ये होटल व्यवसायी किसी न किसी रूप में भाजपा से जुड़े हुए हैं अथवा भाजपा समर्थक हैं। वहीं बड़ाबाजार को भाजपा का गढ़ माना जाता है। ऐसे में यहां जिस प्रकार ग्राहकों को ठगा जा रहा है, उसे देखते हुए ग्राहक यही कह रहे हैं कि ऐसा कर यह होटल कारोबारी जो कि खुद को भाजपा का समर्थक बताते हैं, वह केंद्र सरकार को बदनाम कर रहे हैं। इसे लेकर भाजपा का ट्रेडर्स सेल भी सख्त रवैया अपनाने वाला है। भाजपा से जुड़े ऐसे नेताआें व कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी जो कि होटल व्यवसाय से जुड़े हैं और जीएसटी के नाम पर लोगों को ठग रहे हैं।

क्या कहना है भाजपा के ट्रेडर्स सेल का?

प्रदेश भाजपा के ट्रेडर्स सेल के सुधीर पाण्डेय ने कहा, ‘जब भी कोई नयी व्यवस्था आती है तो पहले उसका गलत इस्तेमाल करने की कोशिश की जाती है। जीएसटी को लेकर हमने लोगों को जागरूक करने के लिए सेमिनार का आयोजन भी किया था, लेकिन संभवतः हम सभी लोगों को जागरूक नहीं कर पा रहे हैं। आगे भी हमारी ओर से सेमिनार आयोजित किये जाएंगे।’ इसके अलावा उन्होंने कहा कि अगर कोई हाेटल कारोबारी जो कि भाजपा से जुड़ा हुआ है और जीएसटी के नाम पर रुपये वसूल रहा है तो ऐसे लोगों के खिलाफ शिकायत मिलने पर अवश्य कार्रवाई की जाएगी।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

रेलमंत्री के कार्यक्रम में हंगामा, कर्मचारियों ने फेंका गमला

लखनऊ : नॉर्दन रेलवे मेंस यूनियन के 70वें वार्षिक अधिवेशन को संबोधित करने के लिए रेलमंत्री पीयूष गोयल चारबाग रेलवे स्टेडियम पहुंचे। कार्यक्रम में अपने भाषण के दौरान उन्होंने यूनियन नेता शिवगोपाल मिश्र के बारे में एक टिप्पणी कर दी। [Read more...]

आंध्र में सीबीआई के प्रवेश पर रोक

हैदराबाद : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने सीबीआई के दुरुपयोग के आरोपों के बाद सीबीआई को प्रदेश के किसी भी मामले में सीधे दखल देेने से मना कर दिया है। राज्य सरकार ने दिल्ली स्पेशल पुलिस इस्टैब्लिश्मेंट ऐक्ट [Read more...]

मुख्य समाचार

रेलमंत्री के कार्यक्रम में हंगामा, कर्मचारियों ने फेंका गमला

लखनऊ : नॉर्दन रेलवे मेंस यूनियन के 70वें वार्षिक अधिवेशन को संबोधित करने के लिए रेलमंत्री पीयूष गोयल चारबाग रेलवे स्टेडियम पहुंचे। कार्यक्रम में अपने भाषण के दौरान उन्होंने यूनियन नेता शिवगोपाल मिश्र के बारे में एक टिप्पणी कर दी। [Read more...]

आंध्र में सीबीआई के प्रवेश पर रोक

हैदराबाद : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने सीबीआई के दुरुपयोग के आरोपों के बाद सीबीआई को प्रदेश के किसी भी मामले में सीधे दखल देेने से मना कर दिया है। राज्य सरकार ने दिल्ली स्पेशल पुलिस इस्टैब्लिश्मेंट ऐक्ट [Read more...]

ऊपर