केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में भाजपा समर्थक भिड़े

कोलकाता : भाजपा द्वारा बोलपुर में आयोजित एक बैठक के दौरान केंद्रीय सोशल जस्टिस एवं एम्पावरमेंट मंत्री बिजय सांपला के सामने ही भाजपा समर्थक आपस में भिड़ गये। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच जमकर हाथापाई हुई। इस घटना से केंद्रीय मंत्री अचंभे में पड़ गये और उन्होंने क्षुब्ध होते हुए इसकी जानकारी केंद्रीय नेताओं को देने की बात कही। पार्टी सूत्रों के अनुसार, उन्होंने दोनों पक्षों के साथ अलग-अलग बैठक कर पूरे मामले की जानकारी ली। जानकारी के अनुसार, बोलपुर स्थित एक निजी भवन में जिला व मंडल सदस्य उपस्थित थे जिनमें से कुछ सदस्य पूर्व जिला सचिव उज्जवल मजूमदार के समर्थक थे। वे लोग केंद्रीय मंत्री बिजय सांपला को एक लिखित ज्ञापन सौंपना चाहते थे। इसी विषय को लेकर भाजपा के भीतर चल रहा द्वंद्व व स्थानीय नेतृत्व की कमी सामने आ गयी। हालांकि एक पक्ष का कहना है कि केंद्रीय मंत्री ने बोलपुर में 4 बैठके की। जिस समय सेक्रेटेरियट स्तर की बैठक चल रही थी, उस दौरान कुछ स्थानीय कार्यकर्ताओं ने बैठक में घुसने की कोशिश की लेकिन उस बैठक में जाने की अनुमति कार्यकर्ताओं को नहीं थी जिस कारण विवाद उत्पन्न हुआ।   इधर, आरोप है कि बोलपुर में पार्टी के वर्तमान उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने पूर्व जिला सचिव उज्वल मजूमदार को किसी भी प्रकार का ज्ञापन देने से मना कर दिया था जिससे विवाद बढ़ गया। इसके बाद वर्तमान जिला उपाध्यक्ष एवं पूर्व जिला सचिव के समर्थकों के बीच जमकर हाथापाई हुई। इस बीच हंगामे में भवन का कांच का दरवाजा भी क्षतिग्रस्त हो गया। पार्टी सूत्रों के अनुसार, उन्होंने दोनों पक्षों के साथ अलग- अगल बैठक की। बोलपुर के पूर्व जिला सचिव उज्वल मजुमदार ने कहा कि यह घटना कोई गुटीय संघर्ष नहीं है। परिवार में एक साथ रहने पर कुछ सदस्यों के बीच टकराव चलता रहता है। उन्होंने बताया कि उनकी जानकारी के अनुसार, सब्यसाची राय के साथ दिलीप घोष का पहले से मनमुटाव चल रहा था। उसी को लेकर यह घटना हुई है। भाजपा के जिला उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने बताया कि उज्वल मजुमदार पार्टी के किसी पद पर नहीं हैं लेकिन इसके बावजूद वे पार्टी के कई मामलों में टांग अड़ाते रहते हैं। गौरतलब है कि इस दिन वर्ष 2018 के पंचायत चुनाव तथा 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा की रणनीति को तय करने के लिए बैठक में भाजपा के जिला एवं मंडल सदस्य उपस्थित थे। वहीं दूसरी तरफ भाजपा मंडल सदस्यों के अलावा विश्वभारती के कई अध्यापकों ने भी केंद्रीय मंत्री के साथ अलग से मुलाकात की।
घटना के संबंध में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व विधायक दिलीप घोष ने कहा कि कुछ ऐसे लोग बैठक में शामिल होने के लिए पहुंच गये थे जिन्हें बुलाया नहीं गया था क्योंकि यह कमेटी के सदस्यों की बैठक थी। इसके अलावा पार्टी जिस प्रकार संगठन विस्तार कर रही है, उस कारण पुराने सदस्य भी अब धीरे – धीरे सक्रिय हो रहे हैं। पार्टी में सबका स्वागत है, लेकिन सबको साथ मिलकर काम करना होगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

बच्चों के टिफिन को लेकर स्कूलों ने जारी किया तुगलकी फरमान

कोलकाताः कोलकाता के एक प्रतिष्ठित स्‍कूल में कक्षा छह के बच्‍चों के बीच नॉनवेज खाने को लेकर हुए विवाद ने इतना तूल पकड़ा कि स्‍कूल प्रबंधन को फरमान जारी करना पड़ गया। छात्रों को नोटिस जारी कर कहा गया है [Read more...]

110 कि.मी.की रफ्तार से आ रहा फेथाई तूफान, राज्य में भारी बारिश की संभावना

कोलकाताः बंगाल की खाड़ी में तैयार निम्न दबाव व आंध्र प्रदेश के मछलीपट्टणम व काकीनाड़ा में तैयार चक्रवाती तूफान फेथाई 110 से 150 कि.मी. की रफ्तार से आ रहा है। इस कारण राज्य में भले ही फेथाई चक्रवात न आए, [Read more...]

मुख्य समाचार

अगस्त 2019 में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी , 2020 तक शुरू होगी सेवा

नई दिल्ली: मोबाइल उपभोत्ता और इंटरनेट के यूजर्स के लिए कुछ वक्त या फिर कुछ महिनोें का इंतजार बहुत ही सुखद होने वाला है। सरकार ने उम्मीद जताई है कि 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी अगले साल अगस्त तक पूरी [Read more...]

अमेरिकाः प्राकृतिक आपदाओं व फसलों की देखरेख के लिए वैज्ञानिकों ने बनाया रोबोफ्लाई

वॉ​​शिंगटनः अमेरिकी वैज्ञानिकों ने प्राकृतिक आपदा का पता लगाने आैर फसलों की देखरेख के लिए कीट के आकार का रोबोट बनाया है। इससे प्राकृतिक आपदा वाले क्षेत्रों में गैस लीक के कारण होने वाली मौतों को रोका जा सकेगा। वॉशिंगटन [Read more...]

ऊपर