केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में भाजपा समर्थक भिड़े

कोलकाता : भाजपा द्वारा बोलपुर में आयोजित एक बैठक के दौरान केंद्रीय सोशल जस्टिस एवं एम्पावरमेंट मंत्री बिजय सांपला के सामने ही भाजपा समर्थक आपस में भिड़ गये। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच जमकर हाथापाई हुई। इस घटना से केंद्रीय मंत्री अचंभे में पड़ गये और उन्होंने क्षुब्ध होते हुए इसकी जानकारी केंद्रीय नेताओं को देने की बात कही। पार्टी सूत्रों के अनुसार, उन्होंने दोनों पक्षों के साथ अलग-अलग बैठक कर पूरे मामले की जानकारी ली। जानकारी के अनुसार, बोलपुर स्थित एक निजी भवन में जिला व मंडल सदस्य उपस्थित थे जिनमें से कुछ सदस्य पूर्व जिला सचिव उज्जवल मजूमदार के समर्थक थे। वे लोग केंद्रीय मंत्री बिजय सांपला को एक लिखित ज्ञापन सौंपना चाहते थे। इसी विषय को लेकर भाजपा के भीतर चल रहा द्वंद्व व स्थानीय नेतृत्व की कमी सामने आ गयी। हालांकि एक पक्ष का कहना है कि केंद्रीय मंत्री ने बोलपुर में 4 बैठके की। जिस समय सेक्रेटेरियट स्तर की बैठक चल रही थी, उस दौरान कुछ स्थानीय कार्यकर्ताओं ने बैठक में घुसने की कोशिश की लेकिन उस बैठक में जाने की अनुमति कार्यकर्ताओं को नहीं थी जिस कारण विवाद उत्पन्न हुआ।   इधर, आरोप है कि बोलपुर में पार्टी के वर्तमान उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने पूर्व जिला सचिव उज्वल मजूमदार को किसी भी प्रकार का ज्ञापन देने से मना कर दिया था जिससे विवाद बढ़ गया। इसके बाद वर्तमान जिला उपाध्यक्ष एवं पूर्व जिला सचिव के समर्थकों के बीच जमकर हाथापाई हुई। इस बीच हंगामे में भवन का कांच का दरवाजा भी क्षतिग्रस्त हो गया। पार्टी सूत्रों के अनुसार, उन्होंने दोनों पक्षों के साथ अलग- अगल बैठक की। बोलपुर के पूर्व जिला सचिव उज्वल मजुमदार ने कहा कि यह घटना कोई गुटीय संघर्ष नहीं है। परिवार में एक साथ रहने पर कुछ सदस्यों के बीच टकराव चलता रहता है। उन्होंने बताया कि उनकी जानकारी के अनुसार, सब्यसाची राय के साथ दिलीप घोष का पहले से मनमुटाव चल रहा था। उसी को लेकर यह घटना हुई है। भाजपा के जिला उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने बताया कि उज्वल मजुमदार पार्टी के किसी पद पर नहीं हैं लेकिन इसके बावजूद वे पार्टी के कई मामलों में टांग अड़ाते रहते हैं। गौरतलब है कि इस दिन वर्ष 2018 के पंचायत चुनाव तथा 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा की रणनीति को तय करने के लिए बैठक में भाजपा के जिला एवं मंडल सदस्य उपस्थित थे। वहीं दूसरी तरफ भाजपा मंडल सदस्यों के अलावा विश्वभारती के कई अध्यापकों ने भी केंद्रीय मंत्री के साथ अलग से मुलाकात की।
घटना के संबंध में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व विधायक दिलीप घोष ने कहा कि कुछ ऐसे लोग बैठक में शामिल होने के लिए पहुंच गये थे जिन्हें बुलाया नहीं गया था क्योंकि यह कमेटी के सदस्यों की बैठक थी। इसके अलावा पार्टी जिस प्रकार संगठन विस्तार कर रही है, उस कारण पुराने सदस्य भी अब धीरे – धीरे सक्रिय हो रहे हैं। पार्टी में सबका स्वागत है, लेकिन सबको साथ मिलकर काम करना होगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

बंद से बेअसहर रहा कोलकाता, जिलों में असर

बड़ाबाजार के कई हिस्सों में बंद का व्यापक असर कोलकाताः भाजपा की ओर से बुधवार को बुलाए गए 12 घंटे व्यापी बंद का असर जिलों में काफी हद तक नजर आया। हालांकि महानगर में इसके असर बेअसर रहा। वहीं बड़ाबाजार के [Read more...]

डेंगू से हावड़ा में एक और की मौत

हावड़ाः डेंगू के कारण हावड़ा में एक और मौत हो गयी। इस साल डेंगू के कारण हावड़ा में यह दूसरी मौत का मामला है। मृतका का नाम नेहा मेहतो है। वह हनुमान बालिका विद्यालय की कक्षा 12वीं की छात्रा थी। [Read more...]

मुख्य समाचार

ठगी का शिकार हुईं अनुराधा पौडवाल

मुंबईः प्रसिद्ध गायिका अनुराधा पौडवाल ने मुंबई के बिल्‍डरों के खिलाफ 40 लाख रुपये की ठगी का मामला दर्ज कराया है। मुंबई के अरनाला कोस्टल पुलिस ने पौडवाल समेत कई लोगों को एक ही फ्लैट बेचकर ठगी करने का आरोप [Read more...]

अब बच्चे भी बन सकेंगे करोड़पति !

मुंबईः कौन बनेगा करोड़पति का सीजन-10 का आगाज काफी धूमधाम के साथ हुआ है। अमिताभ बच्चन के चिर-परिचित अंदाज और कुछ बदलावों के साथ केबीसी की धुआंधार शुरुआत के बीच टीआरपी की जंग में भी शो अपनी जगह बनाने में [Read more...]

ऊपर