पीएम मोदी की किसानों से संवाद करने की कोशिश भरमाने वाली : सचिन पायलट

जयपुर : राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने बुधवार को कहा कि हाड़ौती संभाग के किसानों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संवाद करना चुनावी वर्ष में भ्रमित करने वाली कवायद है।
सचिन पायलट ने एक बयान में कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद फसल का लागत मूल्य नहीं मिलने और कर्ज में डूबे होने के कारण सैकड़ों किसानों ने आत्महत्या की है, लेकिन चार वर्षों तक किसानों की पीड़ा की कोई सुनवाई नहीं की गयी और अब चुनावी वर्ष होने के कारण प्रधानमंत्री हाड़ौती संभाग के किसानों से संवाद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का सिर्फ लाभार्थी किसानों के साथ दिखावे का संवाद कार्यक्रम मृतक किसानों के परिजनों के जले पर नमक छिड़कने जैसा है। कांग्रेस नेता ने कहा कि इस वर्ष हाड़ौती संभाग में लहसुन की बम्पर पैदावार हुई है, लेकिन सरकार के स्तर पर खरीद की कोई सुचारु व्यवस्था नहीं की गयी। इससे किसानों को निराशा हाथ लगी है और कुछ किसानों ने गत एक माह में आत्महत्या कर ली। पायलट ने कहा कि प्रदेश का सबसे बड़ा दुर्भाग्य यह है कि भाजपा सरकार ने चार वर्षों में आपदा प्रभावित किसानों को अपने हाल पर छोड़ दिया और आपदाओं के बाद मिलने वाली आर्थिक सहायता से लाखों किसान वंचित हैं। केंद्र सरकार और राज्य की मुखिया के बीच समन्वय के अभाव का खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

राहुल ने प्रधानमंत्री से कोटा के लिए वाणिज्यिक विमान सेवा की मांग की

नयी दिल्ली/कोटा : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान के कोटा के लिए वाणिज्यिक विमान सेवा उपलब्ध कराने की अपील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की है। मोदी को 25 अक्टूबर को भेजे पत्र में राहुल ने कहा है कि वहां [Read more...]

राजस्थान में सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी में है बसपा

जयपुर : बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष डूंगरराम गेदर ने बताया कि पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में राज्य की सभी 200 सीटों पर प्रत्याशी उतारेगी। इसके साथ ही पार्टी को लगता है कि गठजोड़ न होने से नुकसान अंततः [Read more...]

मुख्य समाचार

सरकारी अस्पताल में पहला हृदय प्रत्यारोपण

कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के डॉक्टरों ने की सफल सर्जरी कोलकाताः कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल ने देश में पहले किसी भी [Read more...]

हिन्दी पर हुई बात, तो रुकी हर धड़कन…

हिन्दी के पक्ष व विपक्ष में बोले दिग्गज ‘हिंदी ने देश को बांधा कम, बांटा अधिक’ विषय पर वाद-विवाद 2018 का आयोजन [Read more...]

ऊपर