स्मृति मंधाना करियर सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंची

दुबई: भारतीय महिला क्रिकेट टीम की स्टार सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की महिला वनडे बल्लेबाजों की रैंकिंग में चौथे स्थान पर पहुंच गई है। यह मंधाना के करियर की सर्वोच्च रैंकिंग है। वह पहली बार शीर्ष-5 वनडे बल्लेबाजों में अपना स्थान बना पाई हैं। भारतीय क्रिकेट टीम की 21 वर्षीया बल्लेबाज मंधाना ने 10 स्थानों की छलांग लगाकर आईसीसी वनडे बल्लेबाजों की रैंकिंग में चौथा स्थान हासिल किया है।
आलराउंडरों में दीप्‍ति तीसरे स्‍थान पर
इस रैंकिंग में आस्ट्रेलिया की एलीसे पैरी पहले, न्यूजीलैंड की सूजी बेत्स दूसरे और आस्ट्रेलिया की मेग लानिंग तीसरे स्थान पर हैं। इसके अलावा, मंधाना की टीम की साथी खिलाड़ी दीप्ति शर्मा ने वनडे की हरफनमौला खिलाड़ियों की सूची में तीसरा स्थान हासिल किया है। इसमें भी आस्ट्रेलिया की पैरी पहले स्थान पर हैं, वहीं वेस्टइंडीज की स्टेफनी टेलर दूसरे स्थान पर काबिज हैं।
मंधाना ने बनाए 531 रन
मंधाना ने इस साल अब तक खेली गईं नौ पारियों में कुल 531 रन बनाए हैं। इसमें 5 अर्धशतक भी शामिल हैं। दीप्ति ने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई सीरीज में 104 रन बनाए थे। यह इस सीरीज में बनाए गए दूसरे सबसे अधिक रन थे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

मुख्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

उपर