सीरीज बचाने उतरेगी भारतीय टीम, राहुल और ईशांत को मिल सकता है मौका

दूसरा टेस्ट क्रिकेट मैच आज से
सेंचुरियनः भारतीय क्रिकेट टीम भले पिछली हार के बाद खुद को मुकाबले से बाहर न मान रही हो, लेकिन उसके लिये सेंचुरियन में घरेलू दक्षिण अफ्रीकी टीम को दूसरे क्रिकेट टेस्ट में हराकर सीरीज बचाना बड़ी चुनौती होगी।
भारत और दक्षिण अफ्रीका शनिवार से सेंचुरियन के मैदान पर दूसरे क्रिकेट टेस्ट के लिये उतरेंगे, जहां मेहमान टीम के लिये यह करो या मरो का मैच होगा तो मेजबान टीम के लिये 2-0 से सीरीज पर अपराजेय बढ़त बनाने का मौका होगा, जिसने पहले केपटाउन टेस्ट में चार दिन के भीतर 72 रन से जीत अपने नाम कर 1-0 से बढ़त बना ली थी।
उछाल भरी तेज पिच होगी चुनौती
स्टार खिलाड़ी विराट कोहली के नेतृत्व में टीम को वापसी के लिये आक्रामकता के साथ गलतियों में भी व्यापक सुधार करना होगा। केपटाउन की उछाल भरी तेज पिचों पर जहां भारतीय बल्लेबाजों ने पहले मैच में काफी संघर्ष किया था, वहीं फिर से उसके सामने इसी तरह की पिच चुनौती साबित होने वाली है। अफ्रीकी कोच ओटिस गिब्सन पहले ही साफ कर चुके हैं कि सेंचुरियन की पिच भी तेज गेंदबाजों के लिये मददगार होगी और वह इस मैच में भी चार तेज गेंदबाजों को अंतिम एकादश में शामिल करने की रणनीति पर काम करेंगे। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि भारतीय टीम में विश्वस्तरीय खिलाड़ी हैं और उसने कई मौकों पर इस तरह की परिस्थितियों में खुद को साबित किया है। इस बार सारा दारोमदार बल्लेबाजों पर होगा।
रहाणे, राहुल को मौका
टीम की हार के साथ अब कप्तान विराट के बल्लेबाजी क्रम चयन पर भी सवाल उठ रहे हैं। ऐसे में दूसरे मैच में क्रम में कुछ बदलाव संभव है। वैसे नेट अभ्यास में केपटाउन में बेंच पर बैठे लोकेश राहुल, अजिंक्य रहाणे, पार्थिव पटेल और इशांत शर्मा के जोर-शोर से हिस्सा लेने पर साफ है कि सेंचुरियन में उनके लिये एकादश का रास्ता खुल सकता है। यह भी देखना दिलचस्प होगा कि पहले मैच में फ्लॉप रहे ओपनर शिखर धवन और मध्यक्रम के रोहित को बाहर बैठा कर राहुल और रहाणे को मौका दिया जाता है या नहीं।
गेंदबाजों का प्रदर्शन संतोषजनक
भारत में बल्लेबाजी जहां टीम के लिये चिंता की बात है वहीं उसके तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन सुकून देने वाला और संतोषजनक रहा है। जहां भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की तिकड़ी ने कमाल की गेंदबाजी की और दक्षिण अफ्रीका को पहली पारी में 286 रन और दूसरी पारी में 130 रन के मामूली स्कोर पर ढेर किया, वहीं पांड्या के रूप में भी टीम के पास एक और तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर मौजूद है।
डेल की जगह मौरिस व अन्य को मौका
दूसरी ओर भारत को इस बात से राहत है कि दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी गेंदबाज डेल स्टेन चोट के बाद पूरी टेस्ट सीरीज से ही बाहर हैं। उनकी जगह डुआने ओलिवियर, लुगी एनगिदी और क्रिस मौरिस को उनकी जगह मौका मिल सकता है। फिलेंडर के अलावा मोर्न मोर्कल और कैगिसो रबादा के निशाने पर फिर से भारतीय बल्लेबाज रहेंगे। मोर्कल इस मैदान पर काफी सफल रहे हैं। वहीं विपक्षी टीम के पास एबी डीविलियर्स जैसा अनुभवी बल्लेबाज है तो एडेन मारक्रम, फाफ डू प्लेसिस, डीन एल्गर और हाशिम अमला जैसे अच्छे बल्लेबाज भी हैं। टीम को साथ ही सेंचुरियन की पिच पर भी अपने पिछले रिकार्ड का फायदा मिल सकता है जहां उसने अब तक 22 टेस्ट खेले हैं जिनमें से 17 टेस्ट जीते हैं, तीन टेस्ट ड्रा खेले हैं और सिर्फ दो टेस्ट गंवाये हैं। वहीं भारत ने यहां एकमात्र मैच खेला है जो उसने पारी और 25 रन से गंवाया था।
इस प्रकार हैं टीमें
भारतः शिखर धवन/ केएल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, वृद्धिमान शाहा, हार्दिक पांड्या, रविचंद्रन अश्विन/अजिंक्य रहाणे, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह/ ईशांत शर्मा।
द. अफ्रीकाः डीन एगर, एडेन माक्ररम, हाशिम अमला, एबी डीविलयर्स, फाफडु प्लेसिस (कप्तान), क्विंटन डि कॉक, वरनॉन फिलेंडर, केशव महाराज, कैगिसो रबादा, मोर्न मोर्कल, क्रिस मोरिस।

बोर्डे की बल्लेबाजों को सलाह, आॅफ स्टम्प से बाहर जाती गेंदों को छोड़ें
दक्षिण अफ्रीका में पहले टेस्ट में खराब फार्म से जूझते भारतीय बल्लेबाजों को सलाह देते हुए पूर्व दिग्गज क्रिकेटर चंदू बोर्डे ने कहा है कि उन्हें आॅफ स्टम्प से बाहर जाती गेंदों से छेड़छाड़ करने से बचना होगा।
भारत को केपटाउन में पहले टेस्ट में 72 रन से पराजय झेलनी पड़ी थी। मंसूर अली खान पटौदी की कप्तानी वाली भारतीय टीम में उपकप्तान रहे बोर्डे ने उम्मीद जताई कि सेंचुरियन में शनिवार से शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम वापसी करेगी।
बोर्डे ने कहा कि हमारे कई बल्लेबाज या तो विकेट के पीछे कैच देकर आउट हुए हैं या स्लिप में कैच दिया है। ऐसे में आॅफ स्टम्प से बाहर की ओर जाती किसी गेंद को ना छेड़े। एक बार क्रीज पर जमने के बाद ही ऐसी गेंदों पर शाट खेलने चाहिये। राष्ट्रीय चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि वह उन्हें यह सलाह भी देंग कि क्रीज पर खड़े रहने की बजाय कम से कम छह इंच बाहर खड हों और गेंद को ज्यादा स्विंग लेने की छूट ना दें। भारत के लिये 55 टेस्ट खेल चुके बोर्डे ने कहा कि यदि वे ऐसा कर सके तो कोई दिक्कत नहीं होगी।

बल्लेबाजी पतन पर हायतौबा की जरूरत नहींः विराट
केपटाउन टेस्ट में 72 रन की हार के बाद भारतीय टीम को हर तरफ से सलाह मिल रही है, लेकिन कप्तान विराट कोहली का मानना है कि इस पर हाय तौबा की जरूरत नहीं है और टीम के पास वापसी करने का पर्याप्त अनुभव है।
विराट ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पहले टेस्ट में हमारे बल्लेबाजों ने जो गलतियां की थीं, मुझे लगता है कि उन्होंने उससे सबक सीख लिया होगा। कप्तान ने कहा कि एक बल्लेबाजी इकाई के तौर पर हमें हड़बड़ाना नहीं चाहिये। हमारे बल्लेबाजों के पास मजबूत तकनीक है और उनके पास पर्याप्त अनुभव है कि वे इन परिस्थितियों से निपट सकें। बल्लेबाजों को सिर्फ खुद को हालात के हिसाब से ढालने और सत्र दर सत्र आगे बढ़ने की जरूरत है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

न्यायाधीश लोया की मौत से जुड़े सभी मामलों की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में, हाईकोर्ट पर रोक

नई दिल्लीः न्यायाधीश लोया के संदिग्‍ध स्थिति में हुई मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। न्यायाधीश लोया के मामले से जुड़े सभी मामलों की सुनवाई अब केवल सुप्रीम कोर्ट में ही होगी। सुप्रीम [Read more...]

टी-20 में भी पाक को 7 विकेट से रौंदा

वेलिंग्टनः न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को हाल ही में वनडे सीरीज में 5-0 से क्लीन स्वीप किया था। इसके बाद भी कीवि टीम का विजयी अभियान जारी है। टीम ने तीन मैचों के टी-20 सीरीज का पहला मैच जीत लिया है। [Read more...]

मुख्य समाचार

न्यायाधीश लोया की मौत से जुड़े सभी मामलों की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में, हाईकोर्ट पर रोक

नई दिल्लीः न्यायाधीश लोया के संदिग्‍ध स्थिति में हुई मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। न्यायाधीश लोया के मामले से जुड़े सभी मामलों की सुनवाई अब केवल सुप्रीम कोर्ट में ही होगी। सुप्रीम [Read more...]

टी-20 में भी पाक को 7 विकेट से रौंदा

वेलिंग्टनः न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को हाल ही में वनडे सीरीज में 5-0 से क्लीन स्वीप किया था। इसके बाद भी कीवि टीम का विजयी अभियान जारी है। टीम ने तीन मैचों के टी-20 सीरीज का पहला मैच जीत लिया है। [Read more...]

उपर