सबसे महंगा होगा इस बार का फीफा विश्‍व कप : 88 हजार करोड़ रुपए हुए खर्च

नयी दिल्‍ली : फुटबॉल विश्‍वकप दुनिया में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला और सबसे महंगा खेल प्रतियोगिता है। रूस ने इसकी मेजबानी पर 88 हजार करोड़ रुपए खर्च किए हैं। जो फुटबाल के 88 साल के इतिहास में सबसे खर्चीला बजट है। इसमें यदि विश्‍वकप से जुड़े पर्यटन, विज्ञापन का खर्च जोड़ दें तो यह आंकड़ा 1 लाख, 43 हजार करोड़ रुपए पार कर जाता है। यह रकम दुनिया के 211 देशों में से 99 की जीडीपी से ज्यादा है।
विश्‍वकप के चलते रूसी अर्थव्‍यवस्‍था 2.09 लाख करोड़ का फायदा
विश्‍वकप की तैयारियों की बदौलत रूस में 2.22 लाख रोजगार पैदा हुए। कई आर्थिक विशेषज्ञ मान रहे हैं कि विश्‍व कप में निवेश के कारण अप्रैल से सिंतबर-2018 के बीच रूस की अर्थव्‍यवस्‍था को 0.2 प्रतिशत की रफ्तार से बढ़ेगी।
कहां-कहां कितना खर्च
परिवहन, स्‍वास्‍थ्‍य, सुरक्षा पर 46 हजार करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। 42 हजार करोड़ स्टेडियम, होटल और अन्य मदों में खर्च। 25 हजार करोड़ रुपए खेल से जुड़े विज्ञापन पर खर्च हुए। स्पोर्ट्स वियर, इक्विपमेंट, फैशन पर 5 हजार करोड़ खर्च हुए। चीन और अमेरिका दोनों ही देशों ने विश्‍वकप कप के लिए क्वालिफाई नहीं किया है। पर यहां फुटबॉल लगातार लोकप्रिय हो रहा है। इसके अलावा यहां के लोगों शॉपिंग पर अधिक खर्च कर सकते हैं। इसी कारण कंपनियाें का जोर इन देशों में है।
विश्‍व कप के दौरान लाखों  विदेशी पर्यटक आएंगे
विश्‍व कप के दौरान रूस में पर्यटन पर 400 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी। इस दौरान देश के लाखों फुटबॉल प्रशंसक मैच देखने के लिए कई शहरों की यात्रा करेंगे। फुटबॉल प्रशंसक करीब 20 हजार करोड़ रुपए खर्च करेंगे। खास बात यह भी कि जो देश विश्‍व कप के लिए क्वालिफाई नहीं कर पाए हैं, वहां से भी लोग रूस पहुंचेंगे। विश्‍व कप में हिस्सा ले रही टीमों की किट बांग्लादेश में बनी हैं। बांग्लादेश ने विश्‍वकप के लिए 675 करोड़ के खेल सामग्री और झंडे सप्लाई किए हैं। इसमें खिलाड़ियों और देश की जर्सी भी शामिल है। दूसरी ओर विश्‍व कप 2018 की गेंद टेलस्टार-18 पाकिस्तान में बनी है। पाकिस्तानी कंपनी फॉरवर्ड स्पोर्ट को इसके लिए करीब 300 करोड़ रुपए की डील मिली थी। 15 लाख टिकट विदेशी प्रशंसकों ने खरीदे हैं। जबकि, रूसी नागरिकों ने 8.7 लाख टिकट खरीदे हैं।
अकेले अमेरिकी खेल प्रेमियों ने 88 हजार टिकट खरीदे हैं। 72 हजार टिकट ब्राजील के प्रशंसको ने खरीदे। यह संख्या वर्ल्ड कप खेलने वाले देशों में रूस के बाद सबसे अधिक है। 28 हजार टिकट भारतीयों ने खरीदे है। वर्ल्ड कप नहीं खेलने वाले देशों में तीसरा नंबर। अमेरिका पहले, चीन दूसरे नंबर पर।

Leave a Comment

अन्य समाचार

हाकी विश्वकप में नहीं होगा समापन समारोह

भुवनेश्वरः ओडिशा सरकार ने हाकी विश्वकप के दो-दो उद्घाटन समारोह की कड़ी आलोचना के बाद फैसला किया है कि टूर्नामेंट में फाइनल के दिन कोई समापन समारोह नहीं होगा। आयोजकों ने शुक्रवार को जारी एक बयान में बताया कि टूर्नामेंट [Read more...]

पाकिस्तान को मिली एशिया कप 2020 की मेजबानी

नई दिल्लीः 2020 में होने वाले एशिया कप की मेजबानी पाकिस्तान को दी गई है। एशियन क्रिकेट काउंसिल (एसीसी) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को एशिया कप 2020 की मेजबानी के अधिकारी सौंप दिए हैं। हालांकि, अभी इस बात का [Read more...]

मुख्य समाचार

डोनाल्‍ड ट्रंप ने भारत को बताया अमेरिका का सच्चा मित्र

वाशिंगटन : अमेरिका की एक शीर्ष राजनयिक ने बताया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को एक ‘‘सच्चा मित्र’’ बताया है। उन्होंने अमेरिका द्वारा बीते दो वर्ष में भारत के साथ संबंध मजबूत करने के लिए उठाए गए कदमों का [Read more...]

हाकी विश्वकप में नहीं होगा समापन समारोह

भुवनेश्वरः ओडिशा सरकार ने हाकी विश्वकप के दो-दो उद्घाटन समारोह की कड़ी आलोचना के बाद फैसला किया है कि टूर्नामेंट में फाइनल के दिन कोई समापन समारोह नहीं होगा। आयोजकों ने शुक्रवार को जारी एक बयान में बताया कि टूर्नामेंट [Read more...]

ऊपर