शास्त्री ने चुन ली ‘अपनी टीम’

अरूण नए गेंदबाजी कोच, बांगड़ सहायक कोच

मुम्बईः भारतीय कप्तान विराट कोहली की सिफारिश पर टीम इंडिया के कोच बने रवि शास्त्री ने आखिरकार अपनी पसंद की टीम बना ही ली। सलाहकार समिति ने जहीर खान और राहुल द्रविड़ को गेंदबाजी और बल्लेबाजी सलाहकार कोच चुना था, लेकिन शास्त्री को ये दोनों ही नियुक्तियां रास नहीं आईं और वे आखिरकार अपनी पसंद के भरत अरूण को गेंदबाजी कोच बनवाकर ही माने। अरूण के साथ संजय बांगड़ को सहायक कोच और और आर श्रीधर को क्षेत्ररक्षण कोच नियुक्त करने का भी फैसला किया। अरूण नये कोच शास्त्री के अंडर-19 और भारतीय दिनों के टीम साथी रहे थे। शास्त्री जब भारत के टीम निदेशक थे तब भी अरूण ने टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच की जिम्मेदारी संभाली थी।
जहीर और द्रविड़ अब सलाहकार बनेंगे
यह फैसला शास्त्री और बीसीसीआई की चार सदस्यीय समिति की मंगलवार को हुई बैठक में किया गया। भारत के सपोर्ट स्टाफ को 2019 के विश्वकप तक के लिये दो साल का अनुबंध दिया गया है। शास्त्री ने यह भी पुष्टि कर दी है कि पूर्व बल्लेबाज राहुल द्रविड़ और जहीर खान टीम के साथ सलाहकार के रूप में रहेंगे। शास्त्री ने चार सदस्यीय समिति के साथ बैठक के बाद कहा, ‘मैंने इन दोनों दिग्गज खिलाड़ियों से तीन चार दिन पहले बात की थी और वे इस बात के लिये सहमत थे। दोनों ही देश के लिये बेहतरीन क्रिकेटर रहे हैं और उनकी सलाह हमारे लिये बहुमूल्य होगी। एक बार वे संबंधित अधिकारियों से इस बारे में बात करेंगे फिर वे हमारे साथ सलाहकार के रूप में जुड़ जाएंगे। इस मामले को लेकर कहीं कोई विवाद नहीं है।’ इससे पहले शास्त्री ने बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी के साथ सोमवार को मुंबई में हुई बैठक में अरूण के नाम की पेशकश की थी।
मेरी टीमः शास्त्री
शास्त्री ने कहा, ‘मैं इंग्लैंड में था और टेनिस (विंबलडन) देख रहा था। मेरी अपनी मुख्य टीम को लेकर सोच स्पष्ट थी और आपने अभी मेरी मुख्य टीम के बारे में सुना।’ अरूण को पद संभालने के बाद आईपीएल फ्रेंचाइजी रायल चैलेंजर्स बेंगलूर के सहायक कोच पद से इस्तीफा देना होगा। चौधरी ने कहा, ‘ ‘पैटर्रक फरहार्ट फिजियो के पद पर बने रहेंगे। ये सभी दो साल के लिये अगले विश्व कप तक अपने पद पर बने रहेंगे।’

दिग्गजों ने चुने थे द्रविड़ व जहीर

सचिन तेंदुलकर, सौरभ गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की तीन सदस्यीय क्रिकेट सलाहकार समिति ने शास्त्री के साथ साथ जहीर और द्रविड़ के नामों की सिफारिश की थी। बीसीसीआई की प्रशासक समिति ने इस बात पर नाराजगी जताई थी कि उसकी मंजूरी के बिना ही सीएसी ने द्रविड़ और जहीर को कैसे चुन लिया? बीसीसीआई की समिति में बोर्ड के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी और सीओए के सदस्य डायना इडुलजी शामिल हैं। यह समिति तब अस्तित्व में आयी जब द्रविड़ और जहीर के नामों की घोषणा के बाद उलझन भरी स्थिति पैदा हो गयी।

कोहली-शास्त्री के आगे झुका बीसीसीआई

अरूण की नियुक्ति का मतलब है कि बीसीसीआई ने पूरी तरह से यू टर्न लिया है। पहले कप्तान कोहली के सामने झुका और सहवाग की जगह शास्त्री को कोच बनाया और अब शास्त्री के सामने झुक गया। उसने पहले जहीर खान को गेंदबाजी सलाहकार नियुक्त किया था और बाद में स्पष्टीकरण दिया था कि यह केवल विदेशी दौरों के लिये है। राहुल द्रविड़ की बल्लेबाजी सलाहकार पद पर स्थिति को लेकर भी कुछ स्पष्टता नहीं है। जहीर और द्रविड़ के बारे में पूछे गये सवाल पर शास्त्री का जवाब था, ‘यह सब उनकी उपलब्धता पर निर्भर करता है। यह एक व्यक्ति पर निर्भर करता है कि वह कितने दिन टीम को देना चाहता है लेकिन उनकी राय अमूल्य होगी और उनका स्वागत है।’

जहीर के आसपास भी नहीं अरूण
हालांकि गेंदबाजी कोच के लिये जहीर और अरूण के रिकार्डों का आकलन किया जाये तो बड़ी दिलचस्प तस्वीर सामने आती है और इस बात पर हैरानी होती है कि शास्त्री की पसंद अरूण पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज जहीर के आसपास भी नहीं हैं।
जहीरः 92 टेस्ट मैच-311 विकेट, 200 वनडे- 282 विकेट, 17 ट्वंटी 20-17 विकेट, कुल 610 विकेट
अरूणः दो टेस्ट- चार विकेट, चार वनडे-एक विकेट

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

रेवाड़ी गैंगरेपः 10 दिन बाद सेना के जवान समेत 2 आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्लीः रेवाड़ी गैंगरेप मामले में 10 दिन से फरार चल रहे एक सेना का जवान समेत 2 आरोपी पकड़ लिए गए हैं। ये दोनों आरोपी इस दुष्कर्म कांड में शामिल थे। इनमें से गिरफ्तार पंकज आर्मी में तैनात है। [Read more...]

मुख्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

ऊपर