रोनाल्डो के दो गोल से रियाल मैड्रिड बना चैंपियन

चैम्पियन्स लीग में 4-1 के बड़े अंतर से कार्डिफ जुवेंटस को करारी शिकस्त दी, खिताब बरकरार रखने वाली पहली टीम

कार्डिफः पुर्तगाल के स्टार फारवर्ड क्रिस्टियानो रोनाल्डो के दो गोल की मदद से रियाल मैड्रिड शनिवार को कार्डिफ में जुवेंटस को 4-1 से करारी शिकस्त देकर चैंपियन्स लीग युग में यूरोपीय कप फुटबाल का खिताब बरकरार रखने वाली पहली टीम बन गयी। चैंपियंस लीग में अपना 140वां मैच खेल रहे रोनाल्डो ने 20वें और 64वें मिनट में टीम के लिए दो उपयोगी गोल किये। रोनाल्डो का लीग के 140 मैचों में यह 105वां गोल था। इसके अलावा इस सत्र में वह 13 मैचों में 12 गोल कर चुके हैं।
रोनाल्डो ने शुरू में रियाल को बढ़त दिला दी थी लेकिन मारिया मैंडजुकिच के गोल से जुवेंटस ने बराबरी कर दी। रोनाल्डो के अलावा कासीमिरो ने 61वें और एसेंसियो ने 90वें मिनट में रियाल के लिए गोल दागे। इटली की जेवेंटस की तरफ क्रोएशिया के फारवर्ड मारियो मैंडज्किच ने 27वें मिनट में ओवरहेड किक लगाकर टीम के लिए एकमात्र गोल किया। खिताबी मुकाबले में और कोई गोल नहीं हो सका और रियाल मैड्रिड ने 4-1 से मुकाबला जीतकर खिताब अपने पास बरकरार रखा। लीग में मैड्रिड की यह लगातार 12वीं जीत थी और इसके साथ ही वह लगातार दूसरी बार खिताब जीतने वाली पहली टीम बन गई है। वहीं स्टार फारवर्ड रोनाल्डो अब तक चार चैंपियंस लीग फाइनल जीत चुके हैं।
सर्वाधिक गोल करने वाले फुटबॉलर
रोनाल्डो पिछले 12 महीने में दो चैंपियंस लीग खिताब, पुर्तगाल के साथ एक यूरोपियन चैंपियनशिप और एक स्पेनिश लीग खिताब, विश्वकप और फीफा का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार जीत चुके हैं। उन्होंने तीन फाइनल रियाल मैड्रिड के साथ और एक मैनचेस्टर यूनाइटेड के साथ जीते हैं। चैंपियन्स लीग में चार बार के विजेता रोनाल्डो इस प्रतियोगिता में लगातार पांचवें सत्र में सर्वाधिक गोल करने वाले फुटबालर बने। इससे उनके अपने प्रतिद्वंद्वी लियोनेल मेसी के पांच बैलोन डिओर की बराबरी करने की संभावना बढ़ गयी है।
अपने क्लब और देश की तरफ से कुल 600 गोल दागने वाले रोनाल्डो ने कहा, ‘हमें लगातार दो साल चैंपियन्स लीग का खिताब जीतने वाली पहली टीम बनने पर बहुत खुशी है। मैंने सत्र का शानदार अंत किया। यह एक अन्य रिकार्ड है। ऐसा रिकार्ड जिसके ये खिलाड़ी हकदार थे और हम प्रसन्न हैं।’  पिछले 17 महीनों से टीम के मुख्य कोच जिनेदिन जिदान पहले विदेशी मैनेजर बन गये हैं जिन्होंने लगातार दो यूरोपीय खिताब जीते। इससे पहले अरिगो साची ने 1989 और 1990 में एसी मिलान के लिये यह उपलब्धि हासिल की थी।
जिदान ने कहा, ‘यह खिलाड़ियों और इस क्लब के लिये जबर्दस्त खुशी का पल है। मैं खुश हूं क्योंकि ला लिगा और चैंपियन्स लीग में जीत दर्ज करना आसान नहीं है और इस साल हमने कड़ी मेहनत और इच्छाशक्ति से ऐसा किया।’

पटाखे को बम धमाका समझकर मची भगदड़

टूरिनः पटाखे की आवाज को बम धमाका समझ अचानक मची भगदड़ में चैंपियंस लीग फाइनल का मैच टूरिन में एक बड़ी स्क्रीन पर देख रहे हजारों जुवेंटस प्रशंसक बुरी तरह घायल हो गये। इतालवी मीडिया के अनुसार रियाल मैड्रिड और जुवेंटस के बीच चैंपियंस लीग फाइनल का मैच यहां टूरिन में सैन कार्लो स्क्वेयर पर एक बड़ी स्क्रीन पर दिखाया जा रहा था जिसे देखने के लिये हजारों की संख्या में फुटबाल प्रशंसक पहुंचे थे।  लेकिन इसी दौरान अचानक भगदड़ मच गयी जिसमें 1500 जुवेंटस प्रशंसकों को चोटें आयीं। लेकिन सात लोग इसमें गंभीर रूप से घायल हो गये हैं जिसमें एक सात वर्ष की बच्ची भी शामिल है। टूरिन स्थित क्लब जुवेंटस के प्रशंसक अपने क्लब का समर्थन करने के लिये यहां जुटे थे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

वापसी की राह पर मानसून, कई राज्य रह गए सूखे

नयी दिल्ली : मानसून के बादल सिमटने लगे हैं। इस मौसम में जहां देश के कई इलाकों में जमकर बारिश हुई, वहीं कई इलाकों में इसमें काफी कमी भी दर्ज की गई है। अब तक पूरे देश में मानसून की [Read more...]

सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह राजनीति नहीं देशभक्ति है : जावड़ेकर

नयी दिल्ली : विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह पर विश्वविद्यालयों को जारी संवाद पर विवाद के मद्देनजर मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सफाई देते हुए कहा कि इसमें कोई राजनीति नहीं है, बल्कि यह देशभक्ति [Read more...]

मुख्य समाचार

वापसी की राह पर मानसून, कई राज्य रह गए सूखे

नयी दिल्ली : मानसून के बादल सिमटने लगे हैं। इस मौसम में जहां देश के कई इलाकों में जमकर बारिश हुई, वहीं कई इलाकों में इसमें काफी कमी भी दर्ज की गई है। अब तक पूरे देश में मानसून की [Read more...]

सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह राजनीति नहीं देशभक्ति है : जावड़ेकर

नयी दिल्ली : विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह पर विश्वविद्यालयों को जारी संवाद पर विवाद के मद्देनजर मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सफाई देते हुए कहा कि इसमें कोई राजनीति नहीं है, बल्कि यह देशभक्ति [Read more...]

ऊपर