मोहम्मद हफीज को एक बार फिर निलंबित किया जा सकता हैः आईसीसी

नई दिल्लीः पाकिस्तान के फिरकी गेंदबाज मोहम्मद हफीज की गेंदबाजी के तरीके को संदिग्‍ध माना गया है। ऐसा उनके करियर में तीसरी बार हुआ। श्रीलंका के खिलाफ बुधवार को अबु धाबी में खेले गए तीसरे वनडे के दौरान यह पाया गया। इससे पहले उन्हें दो बार प्रतिबंधित किया जा चुका है।
आईसीसी की जांच रिपोर्ट के अनुसार अब हफीज को 14 दिनों के अंदर एक व्यक्तिगत गेंदबाजी विश्लेषण से गुजरना होगा। इसके अलावा उनके अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी पर टेस्ट की जांच आने तक रोक लगी रहेगी। अगर हफीज इस टेस्ट में विफल होते हैं तो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक बार फिर उन्हें गेंदबाजी करने से निलंबित कर दिया जाएगा।
आईसीसी ने एक बयान जारी करते हुए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को रिपोर्ट किया और कहा कि 37 वर्षीय हफीज का गेंदबाजी एक्शन फिर से चिंता का विषय बना है और यह रिपोर्ट पाकिस्तान टीम प्रबन्धन को सौंप दी गई।
गौरतलब है कि हफीज को श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए हरफनमौला खिलाड़ी के तौर पर टीम में शामिल किया गया है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

साईं के दरबार में शिल्पा ने चढ़ाया लाखों का मुकुट

मुंबई : दुनिया के अमीर भगवानों में गिने जाने वाले शिरडी के साईंबाबा के दरबार में दूर-दूर से लोग मुराद पूरी होने पर चढ़ावा चढ़ाने आते हैं। शुक्रवार को बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी भी बाबा के दरबार में पहुंची। उन्होंने [Read more...]

तीन महीने तक भारत नहीं आ सकता : चोकसी

मुंबई : पंजाब नेशनल बैंक में हुए घोटाले के मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी ने कहा है कि वह तीन महीने तक भारत नहीं आ सकते हैं। आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोर्ट से चोकसी को भगोड़ा आर्थिक [Read more...]

मुख्य समाचार

साईं के दरबार में शिल्पा ने चढ़ाया लाखों का मुकुट

मुंबई : दुनिया के अमीर भगवानों में गिने जाने वाले शिरडी के साईंबाबा के दरबार में दूर-दूर से लोग मुराद पूरी होने पर चढ़ावा चढ़ाने आते हैं। शुक्रवार को बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी भी बाबा के दरबार में पहुंची। उन्होंने [Read more...]

तीन महीने तक भारत नहीं आ सकता : चोकसी

मुंबई : पंजाब नेशनल बैंक में हुए घोटाले के मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी ने कहा है कि वह तीन महीने तक भारत नहीं आ सकते हैं। आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोर्ट से चोकसी को भगोड़ा आर्थिक [Read more...]

ऊपर