36 साल बाद स्वर्णिम इतिहास रचेंगी भारतीय महिलाएं !

टोक्यो 2020 ओलंपिक में भी क्वालीफाई करने का मौका होगा

जकार्ताः भारतीय महिला हाकी टीम शुक्रवार को 18वें एशियाई खेलों की हाकी स्पर्धा के फाइनल में विश्व की 14वीं रैंक जापान के खिलाफ जीत के साथ 36 वर्ष बाद स्वर्णिम इतिहास रचने के लिये उतरेगी।
विश्व में नौवें नंबर की भारतीय महिला टीम ने एशियाई खेलों की हाकी स्पर्धा के फाइनल में 20 साल बाद पहुंचने की उपलब्धि दर्ज की है जहां उसकी निगाहें न सिर्फ देश को तीन दशक से अधिक समय बाद स्वर्ण पदक दिलाना है बल्कि टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों के लिये सीधे क्वालीफाई करने पर भी लगी हैं।

1982 में जीता था स्वर्ण पदक

भारतीय टीम 36 साल के लंबे अंतराल के बाद स्वर्ण पदक जीतने से केवल एक कदम दूर रह गयी है। भारत ने आखिरी बार 1982 के नयी दिल्ली एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। वहीं महिला हाकी टीम ने आखिरी बार एशियाई खेलों का फाइनल 1998 के बैंकॉक खेलों में खेला था तब भारतीय टीम कोरिया से 1-2 से पराजित हुयी थी।

अब तक का प्रदर्शन शानदार रहा है

इस टूर्नामेंट में अब तक भारतीय टीम का प्रदर्शन शानदार रहा है। भारत ने अपने पूल के सभी मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है। भारत ने अब तक इंडोनेशिया को 8-0 से, कजाखिस्तान को 21-0 से, कोरिया को 4-1 से और थाईलैंड को 5-0 से पीटा है। भारत ने बुधवार को चीन के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में 1-0 से जीत दर्ज की थी।
भारत के खिलाफ अब तक केवल एक गोल हुआ है

टूर्नामेंट के सभी मैचों में भारतीय खिलाड़ियों की रक्षात्मक शैली लाजवाब रही है। भारत के खिलाफ अब तक केवल एक गोल हुआ है। कोरिया ने यह गोल पेनल्टी स्ट्रोक पर किया था। दीप ग्रेस एक्का, दीपिका, गुरजीत कौर, सुनीता लाकड़ा और युवा खिलाड़ी रीना खोखर ने कमाल का प्रदर्शन किया है।
जीतने के लिए बेहतर प्रदर्शन करना जरूरी: कोच

भारतीय टीम के कोच शुअर्ड मरिने का मानना है कि स्वर्ण पदक अपने नाम करने के लिए पूरी टीम को बेहतर प्रदर्शन करना होगा। मरिने ने कहा ‘पूरे टूर्नामेंट के दौरान हमारी खिलाड़ियों ने बेहतर रक्षात्मक खेल दिखाया है। जापान के खिलाफ होने वाले फाइनल को लेकर लड़कियां काफी उत्साहित हैं और आत्मविश्वास से भरी हुई हैं।’

पूरी ताकत झोक देंगेः रानी

कप्तान रानी रामपाल का मानना है कि टीम स्वर्ण पदक जीतकर टोक्यो ओलंपिक का टिकट कटाने का माद्दा रखती है। रानी ने कहा ‘जापान के खिलाफ होने वाला फाइनल निश्चित रूप से रोमांचक होगा लेकिन हम मैच जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे। टीम जानती है कि उसका केवल एक ही उद्देश्य है 2020 टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करना। इसलिए हम एशिया की सर्वश्रेष्ठ टीम की तरह खेलने की कोशिश करेंगे और अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे।’

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद ऐसी हो गई पांड्या की हालत…

नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार ऑल-राउंडर हार्दिक पांड्या ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि कॉफी विद करण चैट शो में आना उनको इतना भारी पड़ जाएगा। पांड्या को इस शो के दौरान की गई टिप्पणियों के [Read more...]

कोहली ने की धोनी की तारीफ

ऐडिलेडः भारत ने ऐडिलेड वनडे में ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है। भारत के सामने जीत के लिए 299 रनों का लक्ष्य था जिसे उसने आखिरी ओवर में हासिल [Read more...]

मुख्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

ऊपर