भारत ने किया ‘श्रीलंका दहन’

टेस्ट के बाद वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप

श्रीलंका में 5-0 से जीतने वाली पहली विदेशी टीम

भुवनेश्नर का सर्वश्रेेष्ठ प्रदर्शन, 5 विकेट लिए
कोलंबोः भारत ने रविवार को टेस्ट सीरीज के बाद वनडे सीरीज में 5-0 से क्लीन स्वीप कर श्रीलंका दहन कर डाला। भारत ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराया। भारतीय क्रिकेट इतिहास में ये दूसरा मौका है जब भारत ने विदेशी धरती पर किसी टीम का वनडे में क्लीन स्वीप किया है। इससे पहले विराट की कप्तानी में ही भारतीय टीम ने जिम्बाब्वे को उसकी धरती पर 5 वनडे मैचों की सीरीज में 5-0 से हराया था और इसके बाद अब भारत ने श्रीलंका को उसकी धरती पर 5-0 से हराया है। इससे पहले टेस्ट में भी भारत ने श्रीलंका का 3-0 से क्लीन स्वीप किया था।
भुवनेश्वर कुमार के करियर के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन और कप्तान विराट कोहली के 30वें शतक के दम पर भारत ने पांचवें और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में श्रीलंका को छह विकेट से हराकर व्हाइट वाश कर डाला। श्रीलंका की टीम भुवनेश्वर के पंजे में ऐसी फंसी कि 238 रन के स्कोर पर सिमट गई। इसके जवाब में उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और दो विकेट बड़ी जल्दी गिर गए। लेकिन उसके बाद कोहली के शतक और केदार जाधव के शानदार अर्धशतक के साथ ही बड़ी साझेदारी से भारतीय टीम ने आसानी से मैच अपने नाम कर लिया।
भारत का खेल
भारत को 5वें ओवर में ही 17 के स्कोर पर पहला झटका लग गया। 4.4 ओवर में लसिथ मलिंगा की बॉल पर अजिंक्य रहाणे (5) को मुनावीरा ने कैच कर लिया। दूसरा विकेट रोहित शर्मा (16) का रहा, जिन्हें 7.3 ओवर में विश्वा फर्नांडो की बॉल पर पुष्पकुमार ने कैच कर लिया। इस वक्त टीम का स्कोर 29 रन था। मनीष पांडेय (36) के रूप में भारत का तीसरा विकेट गिरा। वे 25.1 ओवर में मलिंडा पुष्पकुमार की बॉल पर उपुल थरंगा को कैच दे बैठे। आउट होने से पहले मनीष ने विराट के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 99 रन की पार्टनरशिप की। मैच में केदार जाधव ने वनडे करियर का दूसरा अर्धशतक लगाया।
कोहली का रिकार्ड
विराट ने मैच में वनडे करियर का 30वां शतक लगाया। इसके साथ ही वे एकदिवसीय मैचों के इतिहास में सर्वाधिक शतक लगाने के मामले में दूसरे नंबर पर आ गए और ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोन्टिंग (30) की बराबरी कर ली। विराट ने इस मैच से पहले 185 पारियों में 29 शतल लगाए थे, वहीं पोन्टिंग ने 375 पारियों में 30 शतक लगाए थे।
इससे पहले लाहिरू थिरिमाने (67) और एंजेलो मैथ्यूज (55) के बीच चौथे विकेट की 122 रन की साझेदारी की बदौलत श्रीलंका की टीम एक समय तीन विकेट पर 185 रन बनाकर अच्छी स्थिति में दिख रही थी, लेकिन पहली बार पांच विकेट चटकाने वाले भुवनेश्वर (42 रन पर पांच विकेट) और जसप्रीत बुमराह (45 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने टीम ने अंतिम सात विकेट 53 रन जोड़कर गंवा दिए और पूरी टीम 49-4 ओवर में 238 रन पर ढेर हो गई। थिरिमाने और मैथ्यूज की यह साझेदारी भारत के खिलाफ श्रीलंका की ओर से चौथे विकेट की सर्वश्रेष्ठ साझेदारी है।

 

धोनी ने बनाया स्टंपिंग का विश्व रिकॉर्ड

विकेटकीपर धोनी ने 100 स्टम्पिंग करने का नया विश्व रिकार्ड बना दिया। धोनी का 100वां शिकार श्रीलंका के बल्लेबाज अकिला धनंजय बने जबकि गेंदबाजी लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल कर रहे थे। धोनी ने 2004 से 2017 के दौरान 301 मैचों में 100 स्टंप किए हैं। धोनी ने सबसे कम वनडे खेलकर स्टंपिंग का शतक बनाया जबकि श्रीलंका के संगकारा ने 2000-2015 के दौरान 404 वनडे खेलकर 99 स्टंप किए थे। धोनी अब तक विकेट के पीछे कुल 383 शिकार कर चुके हैं। धोनी ने अपने 300 वनडे मैच में भी इसी सीरीज का चौथा वनडे मैच खेलकर पूरे किए। इसी के साथ उन्होंने इस मैच में 73 बार नाबाद पारी खेलने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया था। धोनी ने इसी सीरीज में अपना 99वां स्टंप किया था। उन्होंने यजुवेंद्र की ही गेंद पर दानुष्का गुणतिल्का को स्टंप कर संगकारा के 99 स्टंपिंग की बराबरी की थी।

बुमराह जैसा रिकार्ड कोई नहीं बना पाया

भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने दो विकेट के साथ सीरीज में कुल 15 विकेट चटकाए जो दो देशों के बीच खेले गए वनडे सीरीज में सबसे अधिक विकेट हैं। उन्होंने 14 विकेट के रिकॉर्ड की बराबरी पारी के दसवें ओवर में की। विश्व रिकॉर्ड 47वें ओवर में बनाया। बुमराह ने पुष्पकुमार को बोल्ड कर रिकॉर्ड अपने नाम किया। इससे पहले पांच मैचों की वनडे सीरीज में सबसे अधिक विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज थे न्यूजीलैंड के आंद्रे एडम्स और ऑस्ट्रेलिया के क्लाइंट मेक्कै। दोनों ने 14-14 विकेट लिए थे। एडम्स ने 2002-03 में भारत के ही खिलाफ पांच मैचों की सीरीज में 14 विकेट झटके थे। जबकि मेक्कै ने 2009-10 में पाकिस्तान के खिलाफ 14 विकेट लिए थे। बुमराह का गेंदबाजी विश्लेषण रहा 10 ओवर 0 मेडन 45 रन और 2 विकेट। शानदार प्रदर्शन करने वाले बुमराह को ही मैन आॅफ द सीरी​ज का पुरस्कार भी दिया गया।

 

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

महापर्व : सूर्य को अर्घ्य देने हजारों श्रद्धालु पहुंचे बाबूघाट व छोटेलाल घाट

घाटों पर दिखा मिनी बिहार जैसा नजारा कोलकाता : दुर्गापूजा और कालीपूजा के बाद बड़े पैमाने पर मनाएं जाने वाला पर्व हैं महाछठ। इस खास मौके पर कोलकाता के छोटे-बड़े लगभग सभी घाटों में भारी संख्या में छठव्रतियों ने अस्तचलगामी सूर्य [Read more...]

ममता ने छठ घाट पर सूर्य देवता की उपासना की

बिहारी, यूपी व राजस्थान के लोगों से सीएम ने कहा - बंगाल आपका घर है कोलकाता : आस्था का महापर्व छठ पूजा में हर साल की तरह इस साल भी राज्य की सीएम ममता बनर्जी गंगा घाट पर पहुंचीं और भगवान [Read more...]

मुख्य समाचार

महापर्व : सूर्य को अर्घ्य देने हजारों श्रद्धालु पहुंचे बाबूघाट व छोटेलाल घाट

घाटों पर दिखा मिनी बिहार जैसा नजारा कोलकाता : दुर्गापूजा और कालीपूजा के बाद बड़े पैमाने पर मनाएं जाने वाला पर्व हैं महाछठ। इस खास मौके पर कोलकाता के छोटे-बड़े लगभग सभी घाटों में भारी संख्या में छठव्रतियों ने अस्तचलगामी सूर्य [Read more...]

ममता ने छठ घाट पर सूर्य देवता की उपासना की

बिहारी, यूपी व राजस्थान के लोगों से सीएम ने कहा - बंगाल आपका घर है कोलकाता : आस्था का महापर्व छठ पूजा में हर साल की तरह इस साल भी राज्य की सीएम ममता बनर्जी गंगा घाट पर पहुंचीं और भगवान [Read more...]

ऊपर