फीफा ट्रॉफीः तय किया 16000 किलोमीटर का सफर, अब लौटेगी कोलकाता

Fifa under 17 world cup trophy

नयी दिल्लीः पहली बार भारत की मेजबानी में 6 अक्टूबर से होने वाले फीफा अंडर 17 विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट की चमचमाती विजेता ट्रॉफी ने देश भर में 16000 किलोमीटर का सफर तय किया। अब यह ट्रॉफी पुनः कोलकाता लौट आएगी, जहां विजेता टीम को दी जाएगी।

ट्रॉफी ने अपने छह सप्ताह के सफर के दौरान छह मेजबान शहरों दिल्ली, गुवाहाटी, कोलकाता, नवी मुंबई, गोवा और कोच्चि में फुटबॉल प्रेमियों को दर्शन दिए। ट्रॉफी के सफर का समापन फोर्ट कोच्चि में वास्को डी गामा चौराहे पर उत्सव जैसे माहौल में हुआ। ट्रॉफी के सफर की शुरुआत 19 अगस्त को दिल्ली के मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम से हुई थी।

कोलकाता में मिलेगी विजेता को

इस सफर में 10 लाख से ज्यादा लोगों ने ट्रॉफी को देखा। यह ट्रॉफी 28 अक्टूबर को कोलकाता के विवेकानंद युवा भारती क्रीड़ांगन में फाइनल के बाद विजेता कप्तान को मिलेगी। देश में फुटबॉल को लोकप्रिय बनाने के लिए केंद्र सरकार भी कई प्रयास कर रही है जिनमें मिशन वन मिलियन भी शामिल है। इसके तहत 2020 तक दस लाख खिलाड़ियों को ​फुटबाल से सक्रिय तौर पर जोड़ना शामिल है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

राफेल विवाद में नया मोड़ः अब फ्रांस के राष्ट्रपति और भारतीय उप सेना प्रमुख ने दिया बड़ा बयान

न्यूयॉर्क/नई दिल्लीः राफेल डील पर भारत में रार बढ़ गया है। विपक्षी पार्टियों ने इस डील पर कई सवाल उठाए है। अब इस मुद्दे पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने जवाब दिया है। हालांकि उन्होंने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र [Read more...]

ठगी का शिकार हुईं अनुराधा पौडवाल

मुंबईः प्रसिद्ध गायिका अनुराधा पौडवाल ने मुंबई के बिल्‍डरों के खिलाफ 40 लाख रुपये की ठगी का मामला दर्ज कराया है। मुंबई के अरनाला कोस्टल पुलिस ने पौडवाल समेत कई लोगों को एक ही फ्लैट बेचकर ठगी करने का आरोप [Read more...]

मुख्य समाचार

5 प्रदेशों व चंडागढ़ में ईंधनों के एक समान दर रखने पर सहमति

चंडीगढ़ः वाहन ईंधनों के दर पिछले कई दिनों से रिकॉर्ड उच्च स्तर पर हैं। इसे देखते ह‌ुए केंद्र सरकार ने राज्यों से टैक्स घटाने की अपील की। इस पर ध्यान देते हुए दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तरप्रदेश और चंडीगढ़ [Read more...]

खनिज ईंधन पर निर्भरता घटाना चाहती है सरकारः गोयल

नयी दिल्लीः जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता को कम करना ऊर्जा क्षेत्र में सरकार की नीति और कार्यक्रमों का प्रमुख लक्ष्य है। कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार विश्व ऊर्जा नीति शिखर सम्मेलन [Read more...]

ऊपर